Hindi News »Haryana »Panipat» Child Dead In Road Accident In Rewari

रेवाड़ी के गांव अहमदपुर के पास हादसा, मां-बाप की इकलौती संतान था च्देवज्

रेवाड़ी के गांव अहमदपुर के पास हादसा, मां-बाप की इकलौती संतान था च्देवज्

Manoj Kaushik | Last Modified - Dec 22, 2017, 06:08 PM IST

रेवाड़ी। चौथी क्लास में पढ़ने वाला 8 साल का देव, स्कूल जाने के लिए रोड के पास खड़ा होकर बस का इंतजार कर रहा था। अचानक एक तेज रफ्तार ट्राले ने उसे अपने चपेट में ले लिया। ट्राले का टायर उसके ऊपर से होते हुए निकल गया। दर्दनाक हादसे में बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई। घटना रेवाड़ी के गांव अहमदपुर की है। हादसे के बाद ट्राले के टायर के पास बड़ा बच्चे का बैग और खून से लाल सड़क का नजारा विचलित करने वाला था। ट्राला चालक मौके से फरार हो गया। बच्चे की मौत से गुस्साए लोगों ने रोड जाम कर दिया। मां छोड़कर गई थी...

- रेवाड़ी के गांव कतोपुरी निवासी अजीत का 8 वर्षीय बेटा देव गांव सुर्खपुर के सत्यभारती स्कूल में चौथी कक्षा में पढ़ता था।
- देव को लेने के लिए उसके स्कूल की बस गुडियानी-पाल्हावास रोड पर गांव अहमपुर के पास आती थी। उसे अहमदपुर तक छोड़ने के लिए देव की मां नेहा खुद जाती थी।
- शुक्रवार सुबह भी देव की मां ने स्कूटी पर उसे अहमदपुर बस स्टैंड के पास छोड़ दिया। लेकिन तब तक बस नहीं आई थी, इस कारण नेहा उसे वहीं छोड़कर काम के लिए आ गई।
- सुबह करीब 9 बजे एक तेज रफ्तार ट्राले ने बच्चे को टक्कर मार दी। ट्राले का टायर बच्चे के ऊपर से गुजर गया, जिससे उसकी मौके ही पर मौत हो गई।
- बच्चे की मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने रोड जाम कर दिया। सूचना के बाद डीएसपी कोसली अनिल कुमार व तहसीलदार विजय सिंह मौके पर पहुंचे तथा ग्रामीणों को समझाकर मामले में कड़ी कार्रवाई कर भरोसा देकर जाम खुलवाया।

पढ़ाई में था होशियार, इसलिए स्कूल नहीं लेता था फीस
- देव अपने मां-पिता की इकलौती संतान था। इस हादसे ने घर का चिराग छीन लिया। देव के पिता रेवाड़ी में एक होटल पर काम करते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि आर्थिक स्थिति सही नहीं थी, लेकिन देव पढ़ाई में आगे रहता था। इस कारण स्कूल द्वारा उसे फ्री पढ़ाया जा रहा था।

आगे की स्लाइड्स में देखें अन्य फोटो...

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: school jaane ke liye bs ka intjaar kar raha thaa iklautaa betaa, yun khatm ho gayi laaif
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×