--Advertisement--

शहीद की अंतिम यात्रा में नहीं पहुंचा कोई मंत्री, मां ने जताया मलाल तो जाएंगे ष्टरू

शहीद की अंतिम यात्रा में नहीं पहुंचा कोई मंत्री, मां ने जताया मलाल तो जाएंगे ष्टरू

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 03:55 PM IST
मोबाइल में फोटो देखते हुए शहीद मोबाइल में फोटो देखते हुए शहीद

गुड़गांव। जम्मू-कश्मीर के राजौरी में पाक की ओर से किए गए हमले में शहीद कैप्टन कपिल कुंडू के गांव रणसिका में गुरुवार को सीएम मनोहर लाल खट्टर पहुंचे। बता दें कि शहीद के अंतिम संस्कार के दिन हरियाणा का कोई भी मंत्री नहीं पहुंचा था। सीएम से लेकर मंत्री और विधायक तक व्यस्त थे। कोई मंत्री परिजनों का हाल-चाल तक पूछने के लिए नहीं पहुंचा। इस पर शहीद की मां ने मलाल जताया था। अब सीएम का कार्यक्रम बना है। शहीद की बहन ने ये दिया जवाब...

- सोनिया से पूछे सवाल पर की सरकार की तरफ से कौन आया तो रो कर बोली …. सरकार को किस की चिंता.. मेरे भाई ने तो हरियाणा का नाम रोशन कर दिया है, लेकिन हरियाणा के सीएम के पास हरियाणा के नाम रोशन करने वाले शहीद के परिजनों का हाल-चाल पूछने तक का समय भी नहीं।
- अभी तक तो श्रीनगर, कलकत्ता से भाई के दोस्त परिजन सब पहुंच गए हैं, क्या बोलूं मैं… मेरा भाई तो शहीद हो गया.. हरियाणा का नाम कर गया।
- वहीं चचेरे भाई संदीप कहते हैं कि छोटे भाई को शहीद हुए दो दिन हो गए हैं, लेकिन हरियाणा के सीएम के पास गांव में आकर परिजनों से मिलने का समय नहीं हैं।

सीएम को सबसे पहले पहुंचना चाहिए था : तंवर
- हरियाणा कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर का कहना है कि सीएम को सुविधाओं के कमी नहीं है वह जब चाहे चॉपर के सहारे पहुंच सकते हैं। हरियाणा का नाम रोशन करने वाले शहीद परिवार को इस समय राज्य के मुख्य यानि की सीएम की बेहद जरूरत थी।
- उन्हें सबसे पहले पहुंचना चाहिए था। यहां कहा जा सकता है कि संवेदनशीलता की कमी है। न केवल सीएम बल्कि एमपी एमएलए को प्राथमिकता से परिजनों से मिलने पहुंचना चाहिए था।

X
मोबाइल में फोटो देखते हुए शहीदमोबाइल में फोटो देखते हुए शहीद
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..