Hindi News »Haryana »Panipat» CM Yogi And CM Manohar Lal Inaugurate Surajkund Mela In Faridabad

१०वीं सदी में राजा सूरजमल ने बनवाया था यहां कुंड, आज ष्टरू योगी करेंगे मेले का शुभारंभ

१०वीं सदी में राजा सूरजमल ने बनवाया था यहां कुंड, आज ष्टरू योगी करेंगे मेले का शुभारंभ

Manoj Kaushik | Last Modified - Feb 02, 2018, 11:45 AM IST

फरीदाबाद।10वीं शताब्दी में तोमर वंश के राजा सूरजपाल द्वारा बनाए गए कुंड पर सूरजकुंड में शुक्रवार से 32वें सूरजकुंड मेले का शुभारंभ हुआ। इसके लिए हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर और योगी आदित्यनाथ पहुंच, जिन्होंने रिबन काटकर विधिवत रूप से मेले का उद्घाटन किया। पहली बार थीम स्टेट बनाए गए यूपी की अयोध्या, मथुरा, काशी के रंगों से मेला परिसर को सजाया गया है। 17 दिन तक चलेगा मेला...

- हरियाणा पर्यटन के अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं सूरजकुंड मेला प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विजय वर्धन ने बताया कि पर्यटकों की बढ़ती संख्या को देखते हुए इस वर्ष 15 दिन के बजाय यह मेला 17 दिन का किया गया है।
- 42 एकड़ में लगने वाला मेला 2 फरवरी को शुरू होकर 18 फरवरी को संपन्न होगा।

ऐसे होगी टिकट की व्यवस्था
- डिजिटल इंडिया के तहत मेला की टिकट बुक माई शो डॉट कॉम पर उपलब्ध होंगी। ऑफलाइन टिकट के लिए गेट नंबर एक पर काउंटरों की संख्या भी बढ़ाई गई है।

यहां होगी पार्किग
- सहज यातायात एवं पार्किंग के लिए गेट नंबर एक और दो के बीच चार एकड़ की पार्किंग बढ़ाई गई है। होटल राजहंस से मेला ग्राउंड तक जाने वाला मार्ग कोलकाता के मशहूर कलाकारों द्वारा बनाई गई स्ट्रीट आर्ट पेंटिंग आकर्षण का केंद्र होगी।
- पर्यटकों के लिए फरीदाबाद और नजदीकी मेट्रो स्टेशनों से मुफ्त फेरी सेवाओं का इंतजाम किया गया है। इस साल 28 देश मेला में भागीदारी की सहमति दे चुके हैं जबकि पिछले वर्ष यह संख्या 23 थी।

14 देश के कलाकार देंगे प्रस्तुतियां
- इस वर्ष 14 देशों के कलाकार सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देंगे। 325 विदेशी भागीदारों में 82 शिल्पी भी शामिल हैं।
- इस वर्ष 1071 स्टॉल शिल्पकारों को प्रदान की गई हैं जबकि पिछले वर्ष यह संख्या 1008 थी।

ये है सूरजकुंड का इतिहास
- 10वीं शताब्दी में तोमर वंश के राजा सूरजपाल द्वारा यहां एक कुंड बनवाया गया था। जिसे सूरजकुंड कहा जाता है। यह कुंड सूर्यदेवता की आराधना को दर्शाता है।
- इस ऐतिहासिक सूरजकुंड पर आयोजित होने वाला मेला भारतीय संस्कृति की समृद्धि एवं विभिन्नता को दर्शाता है।

- भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग द्वारा इस कुंड पर आने वाले पर्यटकों का आवागमन एवं स्वच्छता की देखरेख की जाती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×