--Advertisement--

सड़क की खुदाई के दौरान १५ फीट नीचे दबी मिली कार, अंदर से निकली दो डेडबॉडी

सड़क की खुदाई के दौरान १५ फीट नीचे दबी मिली कार, अंदर से निकली दो डेडबॉडी

Dainik Bhaskar

Jan 20, 2018, 07:04 PM IST
खुदाई के बाद बाहर निकली कार। खुदाई के बाद बाहर निकली कार।

यमुनानगर. पृथ्वी के माजरा के पास नेशनल हाईवे बनाने के लिए खुदाई करते समय दलदल से मिली कार मेंं कोतरखाना गांव के नरेश और अंजू के शव होने का अनुमान है। दोनों अलग-अलग शादीशुदा थे। 7 जुलाई 2016 को 46 साल नरेश जबरदस्ती 38 साल की अंजू को कार में बैठा ले गया था। उसी दिन से दोनों लापता थे। पहले तो फैमिलीवाले उन्हें ढूंढते रहे, पुलिस में एफआईआर भी कराई। बाद में यह सोचकर चुप बैठ गए कि दोनों ने कहीं घर बसा लिया होगा। अब दोनों परिवारों ने उनके वापस आने की उम्मीद भी छोड़ दी थी।ऑनर किलिंग की हो रही चर्चा

- शनिवार को दलदल से निकली कार से मिले दोनों के शवों से कई सवाल खड़े हो रहे हैं।

- कुछ गांववाले इस मामले को ऑनर किलिंग से भी जोड़कर देख रहे हैं क्योंकि दोनों के संबंध परिवारों को नागवार थे।
- हालांकि पुलिस ऑनर किलिंग की बजाय इसे हादसा मान रही है। जहां पर कार मिली है वो जगह कोतरखाना से करीब चार किलोमीटर है।

- कार से शराब व पानी की बोतल, जग समेत अन्य सामान मिला है। अंबाला-जगाधरी रोड को फोरलेन किया जा रहा है। पहले यह रोड सिंगल होता था। जहां पर हादसा हुआ है वहां पर 50 मीटर तक दलदल है और पुलिया भी है।

- पुलिया के पास से ही कार मिली है। रोड चौड़ा करने वाली कंपनी पुलिया को चौड़ा कर उसके आस- पास मजबूत के लिए पत्थर लगाने के लिए अर्थ मूविंग मशीन से खुदाई कर रही थी।

- इसी दौरान यहां से कार मिली थी। कार के नंबर और मृतक व्यक्ति की जेब से मिले दस्तावेजों से उसकी पहचान हो पाई।

बाप की हरकतें बदनाम करने वाली थी, इसलिए परिवार ने नाता तोड़ बेदखल कर दिया था

- नरेश का परिवार इस मामले में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। उसके छोटे बेटे अमन का सिर्फ इतना कहना है कि उनके पिता की हरकतें बदनाम करने वाली थीं। इसलिए उन्होंने करीब चार साल पहले ही उससे नाता तोड़ दिया था।

- उनका यह भी कहना है कि परिवार ने उनके पिता को बेदखल भी कर दिया था। हालांकि नरेश का परिवार उसका शव लेने को तैयार है।

- बता दें नरेश के पास चार बेटे और एक बेटी है। अभी किसी की शादी नहीं हुई। 46 साल के नरेश खेती-बाड़ी करता था।

उस शाम मां कपड़े धो रही थी, वो घर में घूसकर कार में ले गया था, परिवार ने पीछा भी किया था

- अंजू की एक नाबालिग बेटी ने बताया कि नरेश का उनके घर पर आना जाना था।

- 7 जुलाई 2016 की शाम को वह कार लेकर गली में आया। इस दौरान उसकी मां कपड़े धो रही थी। नरेश सीधा उनके घर में घुस गया और मां को जबरदस्ती कार में उठाकर ले गया।

- इस दौरान उसके परिवार के लोगों ने उसका पीछा भी किया, लेकिन वह उसकी मां को लेकर फरार हो गया। मां की तलाश भी की, लेकिन उसकी मां और नरेश का कुछ पता नहीं चल पाया। इसकी शिकायत पुलिस को दी गई थी।

- बता दें 38 साल की अंजू की शादी करीब 18 साल पहले हुई थी। शादी के बाद उनके एक बेटा व बेटी हुई।उनके पति का दो साल पहले एक्सीडेंट हो गया था।

- वे एक्सीडेंट से उभर नहीं पाए। घर के गुजारे के लिए वे मजदूरी करते थे। अब उनका बेटा मजदूरी कर घर चला रहा है।

यह एक हादसा है, दोनों में लव अफेयर जरूर था: पुलिस
- एसएचओ ललित कुमार ने बताया कि इसमें ऑनर किलिंग जैसी कोई बात सामने नहीं आई है।

- यह एक हादसा है फिर भी यह जांच का विषय है। नरेश और अंजू में लव अफेयर था।

- यह बात खुद उसके परिवार के लोग कह रहे हैं। जब ये दोनों गांव से गए थे तो अंजू के परिवार के लोगों ने शिकायत दी थी। जिस पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था, लेकिन इनका कुछ पता नहीं चला।

- दोनों परिवार अब भी किसी पर कोई कार्रवाई नहीं करना चाहते। दोनों के शवों का पोस्टमार्टम करा घरवालों को सौंप दिया जाएगा।

X
खुदाई के बाद बाहर निकली कार।खुदाई के बाद बाहर निकली कार।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..