पानीपत

--Advertisement--

होली के दिन खूनी संघर्ष में बदली सरपंच चुनाव की रंजिश, फायरिंग में १ की मौत, ३ घायल

होली के दिन खूनी संघर्ष में बदली सरपंच चुनाव की रंजिश, फायरिंग में १ की मौत, ३ घायल

Danik Bhaskar

Mar 03, 2018, 06:39 PM IST
कार्रवाई करते हुए पुलिस। कार्रवाई करते हुए पुलिस।

फतेहाबाद (रतिया)। यहां के समीपवर्ती गांव सुखमनपुर में दो गुटों के बीच चल रही चुनावी रंजिश धुलंडी के दिन हिंसा में बदल गई। दोनों पक्षों में कहासुनी से शुरू हुई बात फायरिंग तक आ पहुंची। फायरिंग में 1 की मौत हो गई, जबकि तीन घायल हैं। घायलों को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

- प्राप्त जानकारी के मुताबिक पंचायती चुनावी में गुर्जर परिवार की सुमन व सीमा ने एक दूसरे की टक्कर में चुनाव लड़ा था।
- चुनाव में सीमा पत्नी ईश्वर गुर्जर विजय घोषित की गई थी। सुमन ने सीमा के चुनाव को कोर्ट में चुनौती भी दी थी।
- कोर्ट ने पुनर्मतगणना करवाई थी जिसमें सीमा ही विजय रही थी। इसके बाद से ही दोनों पक्षों में तनाव चल रहा था।
- होली के दिन सीमा देवी के देवर व इनेलो नेता रवि (28) और दूसरे पक्ष के विनोद की फोन पर कहासुनी हुई थी। रवि जब खेत से लौट रहा था तो विनोद ने देसी कट्टे से फायरिंग शुरू कर दी।
- फायरिंग से एक गोली रवि की गर्दन पर और एक पीठ पर लगी। जबकि जयसिंह पुत्र रामकुमार को भी एक गोली पैर में लगी। दोनों को घायल अवस्था में हिसार के सपरा अस्पताल ले जाया गया।
- जहां डाक्टरों ने रवि को मृत घोषित कर दिया। रवि इनसो का प्रधान भी रह चुका है। घटना के बाद गांव में तनाव है और तनाव को देखते हुए गांव में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई हैं।
- इसी पक्ष की गुड्डी देवी को रतिया के नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया गया है।
- वहीं हारी हुई सरपंच प्रत्याशी सुमन देवी के पक्ष से रमेश पुत्र अभय सिंह को घायल अवस्था में अग्रोहा मेडिकल में भर्ती करवाया गया है।
- रतिया पुलिस ने घायलों के बयान के आधार पर पूर्व सरपंच बलवंत सिंह के पुत्र व हारी हुई प्रत्याशी के पति विनोद उर्फ जसवंत के विरुद्ध हत्या व फायरिंग का मामला दर्ज किया है।

Click to listen..