--Advertisement--

कचतेचटिुतचिे्ुके्िु ेटचतिकुतचटेिस्कुटचेुकचटिे्

कचतेचटिुतचिे्ुके्िु ेटचतिकुतचटेिस्कुटचेुकचटिे्

Dainik Bhaskar

Jan 27, 2018, 10:34 AM IST
पानीपत के मॉडल टाउन में आयोजित पानीपत के मॉडल टाउन में आयोजित

पानीपत। आयकर विभाग की आयुक्त मोनिका सिंह ने कहा कि पानीपत जिले की आबादी 12 लाख तक है, लेकिन इनमें से 72 हजार ही आयकरदाता है। यह चौंकाने वाली बात है। आप मेहनत की कमाई को ब्लैक मनी न बनने दें। सही संपत्ति वही मानी जाती है जो बैंक के माध्यम से लेन देन में आती है। नियम बहुत कठोर हो गए हैं। इसलिए सभी ईमानदारी से टैक्स जमा करें। दो-दो बिल बुक की आदत बंद करें। मॉडल टाउन स्थित एक निजी होटल में गुरुवार को आयकर विभाग पानीपत के आयकर दाता जागृति कैंप में आयुक्त मोनिका सिंह ने व्यवसायियों को टैक्स जमा कराने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं कहूंगी कि आप बिजनेस कैसे करें, यह तो आप बहुत बेहतर जानते हैं। बस आप रिटर्न समय पर भरें। बेनामी संपत्ति में न फंसें...

- कमिश्नर ने कहा कि आप किसी भी प्रकार की बेनामी संपत्ति में ना फंसे। सिर्फ पत्नी व बेटे-बेटियों के नाम वाली संपत्ति ही सही मानी जाएगी। किसी अन्य रिश्तेदार के नाम कोई संपत्ति खरीदते हैं तो वह बेनामी मानी जाएगी। ऐसे पाए जाने पर संबंधित संपत्ति तो जब्त होगी ही, आपको 7 साल जेल तक हो सकती है।

50 सीए मुफ्त में सलाह देने को तैयार

कमिश्नर ने कहा कि जिला के 50 सीए मुफ्त में सलाह देने को तैयार हैं। ऐसे सीए की विभाग के पास लिस्ट तैयार हो गई, इसलिए किसी भी व्यवसायी को सलाह की जरूरत है तो वह विभाग में आकर संपर्क करे। आयकर विभाग दरबार के समान है, जिसमें सभी का स्वागत है।

- इस अवसर पर विपिन चुघ, दर्शन लाल बवेजा, कृष्ण चुघ, मोहन लाल, विक्की नंदा, सुंदर लाल नारंग, राजू बतरा, कृष्ण कुमार मित्तल, कर्मबीर मित्तल व सुनील कुमार मौजूद रहे।

शिक्षण संस्थानों में महंगी सीट खरीदने वालों की जांच

जिन लोगों ने अपने बच्चों की महंगी सीट खरीदी है, उनकी जांच चल रही है। आप जो ईमानदारी की कमाई को थोड़े से लालच में ब्लैक मनी बना रहे हो। अब नियम बहुत सख्त हो गए हैं। इसे ध्यान में रखते हुए सब बैंकों के माध्यम से काम करें। ताकि कोई परेशानी ना रहे।

क्राइम को दे रहे बढ़ावा

आयकर जमा नहीं करवाकर आप क्राइम को ही बढ़ावा देते हैं, क्योंकि जो क्रिमनल होते हैं, वे बैंक के माध्यम से लेनदेन कैसे करेंगे। वे यह नहीं बताएंगे कि कितने पैसे फिरौती में आए, कितने हवाला बिजनेस में, कितने मर्डर करने में और कितने स्मगलिंग करने में। डर तो ऐसे लाेगों को होता है।

अमेजन की कामयाबी सबसे बड़ा उदाहरण

सामान बेचने में विश्व की सबसे बड़ी कंपनी अमेजन है। हैरान करने वाली बात यह है कि यह कंपनी अपना खुद का कोई प्रोडक्ट नहीं बनाती, लेकिन इस कंपनी की खासबात यह है कि इसका सबकुछ लीगल है। सब बैंकों के माध्यम से खरीदा या बेचा जाता है। आप भी सब लीगल काम करोगे तो बहुत शांति से और अमीर भी बनते चले जाएंगे।

X
पानीपत के मॉडल टाउन में आयोजितपानीपत के मॉडल टाउन में आयोजित
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..