--Advertisement--

दोस्त ने फ्रेंड से दोस्ती तुड़वा दी तो फौजी ने करवाया उसी का मर्डर, खुलासे के बाद अरेस्ट

दोस्त ने फ्रेंड से दोस्ती तुड़वा दी तो फौजी ने करवाया उसी का मर्डर, खुलासे के बाद अरेस्ट

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 05:07 PM IST
पुलिस गिरफ्त में दो आरोपी। पुलिस गिरफ्त में दो आरोपी।

फतेहाबाद। भूना में खेतों में मिली ललित नाम के युवक की डेडबॉडी मामले को हरियाणा पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस द्वारा पकड़े गए एक आरोपी ने पूरे मामले का खुलासा किया है। दरअसल मामला युवती से जुड़ा है। जिसकी साजिश में एक फौजी भी शामिल था। मामले में वारदात को अंजाम देने वाला मुख्य आरोपी अभी फरार है। पढ़िए पूरा मामला...

- डीएसपी जगदीश काजला ने बताया है कि भूना के खेतों में 26 फरवरी को ललित नाम के युवक की डेडबॉडी मिली थी।
- उसकी गोली मारकर हत्या की गई थी। पुलिस ने मामले की जांच करते हुए भूना के हरभान उर्फ पिट्‌टू का पकड़ लिया जो मृतक का दोस्त था।
- उसने खुलासा किया कि उसका दोस्त विनोद उर्फ फौजी की भूना की एक लड़की उसकी गर्लफ्रेंड थी।
- एक दिन विनोद, मनजीत , हरभान व ललित साथ बैठकर शराब पी रहे थे।
- इस दौरान विनोद उर्फ फौजी ने अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में कुछ कह दिया तो इस मृतक ललित ने इस बात की वीडियो बना ली और इसके बाद फौजी गर्लफ्रेंड को भेज दी।
- इससे फौजी और उसकी गर्लफ्रैंड के बीच दूरियां बन गई। फिर वह ललित से बात करने लगी।

दोस्त को ही दोस्त का मर्डर करने को कहा
- इस बात को जब विनोद का पता चला तो उसने अपने साथी मनजीत उर्फ घोड़ा को बताया और उसे ललित को मौत के घाट उतारने के लिए कहा।
- विनोद सात महीने पहले ही स्पोर्टस कोटे से फौज में भर्ती हुआ था। जिस दिन शराब पी थी उस दिन ट्रेनिंग के दौरान कुछ दिन की छुट्टी आया था।
- ललित को मारने मनजीत को कह दिया तो विनोद ने 4 हजार रुपये मनजीत को दिए। जिससे मनजीत यूपी से अवैध असला ले आया।
- छुट्टी खत्म होने के बाद विनोद अपनी ट्रेनिंग पर वापस लौट गया तो पीछे से मनजीत व हरभान ने ललित को किसी बहाने से घर से बुलाया और इसके बाद उसे रजवाहे पर ले गए।
- बातों- बातों में पहले उसका रस्सी से गला घोंट दिया। अधमरा करने के बाद उसे रजवाहे के समीप गेंहूं के खेत में ले गए। जहां अवैध पिस्तौल से उसके सिर में दो गोलियां मार गई।
- ललित को मारने के बाद वह फरार हो गए। वारदात को अंजाम देने के बाद अब फौजी को एक महीने की छुट्टी मिली तो वह वापस आया तो पुलिस ने हरभान के खुलासे करने पर पुलिस ने फौजी विनोद को पकड़ लिया।
- अभी इस मामले में मनजीत उर्फ घोड़ा फरार चल रहा है। पकड़े गए आरोपियों को चार दिन के लिए रिमांड पर लिया गया है।