Hindi News »Haryana »Panipat» Hearing For The Case Of Ignition At Haryana Finance Minister Home

वित्तमंत्री के घर आगजनी मामला: CBI नहीं पेश कर पाई स्टेटस रिपोर्ट

हरियाणा सरकार में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु की कोठी पर 19 फवरी 2016 को जाट आंदोलन के दौरान आगजनी व तोड़फोड़ हुई थी।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 15, 2018, 01:03 PM IST

वित्तमंत्री के घर आगजनी मामला: CBI नहीं पेश कर पाई स्टेटस रिपोर्ट

पंचकूला। हरियाणा में हुए जाट आंदोलन अौर उसके दौरान वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर हुई आगजनी मामले में सोमवार को पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत में सुनवाई हुई। इस दौरान सभी 38 आरोपी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश हुए, लेकिन सीबीआई आज भी कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट पेश नहीं कर पाई। जिसके कारण मामले की अगली सुनवाई 29 जनवरी को होगी। पिछली सुनवाई के दौरान सीबीआई द्वारा कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट न सौंपने के चलते कार्रवाई आगे नहीं बढ़ सकी थी। इसके बाद सीबीआई ने कोर्ट से स्टेटस रिपोर्ट देने के लिए समय मांगा था। कब हुई थी ये घटना...

- गौरतलब है कि हरियाणा सरकार में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु की कोठी पर 19 फवरी 2016 को जाट आंदोलन के दौरान आगजनी व तोड़फोड़ हुई थी।
- इस मामले को करीब 2 साल का समय बीत चुका है लेकिन सीबीआई जांच में जुटी है और समय आगे बढ़ाया जा रहा है। पिछली सुनवाई के दौरान भी सीबीआई ने जांच का हवाला देते हुए कोर्ट से और समय की मांग की थी।
- पिछली सुनवाई के दौरान कुछ आरोपी वीडिया कांफ्रेंस के जरिए, जबकि अन्य प्रत्यक्ष रूप से कोर्ट में पेश हुए। इस मामले में अब तक कई आरोपियों को जमानत मिल चुकी है और कई जेल में हैं।
- सोमवार को फिर इस मामले की पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत में सुनवाई हुई।

- इस दौरान सभी 38 आरोपी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश हुए, लेकिन सीबीआई आज भी कोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट पेश नहीं कर पाई।
- मामले की अगली सुनवाई 29 जनवरी को होगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: vittMantri ke ghr aagjni maamlaa: CBI nahi pesh kar paaee stets riport
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×