पानीपत

--Advertisement--

दिल्ली-कोलकाता से लड़कियां लाता था आरोपी, वीडियो बनाकर शुरू होता था ये खेल

दिल्ली-कोलकाता से लड़कियां लाता था आरोपी, वीडियो बनाकर शुरू होता था ये खेल

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2018, 06:56 PM IST
आरोपी महिला जो ब्लैकमेल करती थ आरोपी महिला जो ब्लैकमेल करती थ

करनाल। शारीरिक संबंध बनाकर ब्लैकमेल कर 20 लाख रुपए ठगने वाले गिरोह के दो आरोपियों को सिविल लाइन थाना पुलिस ने दो दिन के लिए रिमांड पर लिया गया है। आरोपियों से पीड़ित बिजनेसमैन से छिने गए 80 हजार रुपए और पर्स बरामद करना है। मास्टरमाइंड आरोपी सुनील वासी रोहतक को गिरफ्तार करने के लिए रोहतक में रेड की गई है। यह गिरोह सक्रिय है और रिमांड के दौरान सामने आया है कि दिल्ली-कोलकाला से लड़कियों को साथ रखकर लोगों को अवैध संबंध बनाकर ठगते हैं। पुलिस इस गिरोह की तय तक जाने के लिए आरोपियों की निशानदेही पर अलग-अलग रेड कर रही है और पूछताछ की जा रही है।

- सिविल लाइन थाना के इंस्पेक्टर मोहनलाल ने शुक्रवार को इस गिरोह का पर्दाफाश किया। यह गिरोह एक शामली के बिजनेसमैन से 20 लाख की मांग पर उसको ब्लैकमेल कर रही थी। छह लाख देते हुए आरोपी महिला और एक युवक को पकड़ा गया। यह राशि किस्त की पहली थी।
- बाकी रकम बाद में देनी तय हुई थी। पुलिस की अभी तक की जांच में सामने आया है कि यह गिरोह बिजनेसमैन या पैसे वाले युवकों को टारगेट बनाते थे। उनसे बातचीत कर अवैध संबंध बनाते थे।
- प्लानिंग के इसकी वीडियो बनाने के लिए रूम में पहले ही मोबाइल सैट कर देते थे। वीडियो बनने पर पीड़ित को ब्लैकमेल करना शुरू कर देते थे। पीड़ित को उनकी बातों पर यकीन हो जाए, इसके लिए वह उसके मोबाइल पर वीडियो तक भेज देते।
- इस वीडियो को परिवार के लोगों को और सोशल मीडिया पर जारी करने की धमकी देकर पैसे एंठने का प्लान था। इंस्पेक्टर मोहन लाल ने बताया कि आरोपी महिला के पहले पति के पास भी वह गए हैं। उनसे पूछताछ की गई। इसका चरित्र ठीक नहीं होने के कारण तलाक लिया हुआ।
- इसके दो बच्चे हैं, जो पहले पति के पास रहते हैं। शामली के बिजनेस को फंसाने के लिए उसने पति का ड्रामा कर उसकी पिटाई करवाई और उसके पास 80 हजार रुपए छिन लिए गए। बिजनेसमैन बदनामी को देखते हुए वह चुप रहा।
- इस घटना के एक सप्ताह बाद यह गिरोह शारीरिक संबंध की वीडियो दिखाकर उसको ठगने के शिकार में था। पुलिस ने इस खेल का पर्दाफाश कर दिया। इस केस में आरोपी महिला और झज्जर के सन्नी को रिमांड पर लिया गया है।

मास्टरमाइंड के एड्रेस को नहीं जानते, लेकिन लोकेशन को पहचानते हैं
- इंस्पेक्टर मोहनलाल ने बताया कि जो दो आरोपी रिमांड पर लिए गए हैं, वह मास्टरमाइंड सुनील वासी रोहतक के एड्रेस को नहीं जानते। लेकिन यह लोकेशन को पहचानते हैं। इसलिए रोहतक में जाकर लोकेशन पहचानी जा रही है।
- मास्टरमाइंड से ही इस खेल के और राज खुलने की उम्मीद है। फिलहाल आरोपियों ने कबूला है कि वह इस तरह शारीरिक संबंध बनाने के लिए दिल्ली-कोलकाला से लड़कियों को लेकर आते हैं।

X
आरोपी महिला जो ब्लैकमेल करती थआरोपी महिला जो ब्लैकमेल करती थ
Click to listen..