Hindi News »Haryana »Panipat» Juvenile Board Rejected The Petition Of Accused Student In Parduman Murder Case

प्रद्युम्न मर्डर केसः नाबालिग आरोपी को जेजे बोर्ड ने दिया झटका, याचिका की खारिज

प्रद्युम्न मर्डर केसः नाबालिग आरोपी को जेजे बोर्ड ने दिया झटका, याचिका की खारिज

Manoj Kaushik | Last Modified - Dec 13, 2017, 05:25 PM IST

गुड़गांव। रेयान इंटरनेशनल स्कूल भोंडसी के छात्र प्रद्युम्न हत्याकांड की सुनवाई बुधवार को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में हुई। इसमें नाबालिग आरोपी को जेजे बोर्ड से बड़ा झटका मिला है। नाबालिग की याचिका को बोर्ड ने खारिज कर दिया है। आरोपी ने याचिका दायर की थी कि बोर्ड उसे बालिग की तरह केस चलाने वाली याचिका पर जल्द फैसला न दे। बोर्ड ने इस याचिका को खारिज कर दिया है। बता दें कि प्रद्युम्न के पिता ने जेजे बोर्ड में याचिका लगाई थी कि आरोपी को बालिग मान कर केस की सुनवाई की जाए। ये है पूरा मामला...

- गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को 7 साल के बच्चे का मर्डर कर दिया गया था। बॉडी टॉयलेट में मिली थी। इस मामले में पुलिस ने स्कूल बस के कंडक्टर अशोक कुमार को अरेस्ट किया था। आरोपी 8 महीने पहले ही स्कूल में कंडक्टर की नौकरी पर लगा था।
- इसके बाद जांच सीबीआई के पास चली गई थी। सीबीआई ने हरियाणा पुलिस की थ्योरी को बदलते हुए 11वीं के स्टूडेंट को इस मर्डर केस में आरोपी बनाया।
- सीबीआई ने खुलासा किया था कि 11वीं कक्षा के छात्र ने प्रद्युम्‍न की हत्‍या इसलिए की थी क्‍योंकि वह पीटीएम और एग्‍जाम टालना चाहता था।
- सीबीआई का कहना था कि आरोपी छात्र ने कुछ दिनों पहले अपने दोस्त को बताया था कि वह एग्‍जाम को टलवा देगा।
- आरोपी स्टूडेंट को गिरफ्तार किया गया और वह इस समय फरीदाबाद के बाल सुधार गृह में रह रहा है।
- वहीं अशोक को कोर्ट से जमानत मिल गई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×