Hindi News »Haryana »Panipat» Olympian Wrestler Yogeshwar Dutt Became Father By The Birth Of A Son

पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा

योगेश्वर दत्त पिछले वर्ष 16 जनवरी को सोनीपत की शीतल के साथ परिणय सूत्र में बंधे थे।

Anil Bansal | Last Modified - Jan 28, 2018, 11:17 AM IST

  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    ओलिंपियन रेसलर की पत्नी शीतल और (दाएं) बेटे को गोद में लिए रेसलर योगेश्वर दत्त। गुरुवार को सोनीपत के एक अस्पताल में सिजेरियन डिलीवरी के बाद उन्हें पुत्ररत्न की प्राप्ति हुई है।

    पानीपत। ओलंपिक पदक विजेता पहलवान योगेश्वर दत्त गुरुवार को पिता बन गए हैं। उन्हें पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई। उनकी पत्नी शीतल ने सोनीपत के एक अस्पताल में बेटे को जन्म दिया है। योगेश्वर पिता बनने से बेहद खुश हैं। गुरुवार सुबह करीब सवा आठ बजे शीतल की सोनीपत के एक अस्पताल में सिजेरियन डिलीवरी हुई। योगेश्वर का अपने बेटे के साथ कुछ समय बाद ही एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। सोशल मीडिया पर मिल रही बधाई...

    - बताते चलें कि 2 नवंबर 1982 को हरियाणा के सोनीपत जिले में जन्मे योगेश्वर दत्त पिछले वर्ष 16 जनवरी को सोनीपत की शीतल के साथ परिणय सूत्र में बंधे थे।

    - योगेश्वर की पत्नी शीतल दिल्ली के कांग्रेस नेता जयभगवान शर्मा की बेटी हैं। शादी के वक्त जयभगवान शर्मा की इकलौती बेटी शीतल बीए फाइनल ईयर की स्टूडेंट थी, अब वह बीए कर चुकी हैं।

    - बताया जाता है कि योगेश्वर के गुरु एवं मशहूर रागनी गायक मास्टर सतबीर ने शीतल से उनका रिश्ता तय कराया था। वह उनके गांव के ही रहने वाले पिता के दोस्त थे।
    - सोनीपत के एक बैंक्वेट हॉल में उनकी सगाई हुई तो इस दौरान योगेश्वर ने टीका रस्म में सिर्फ 1 रुपया लिया था। बिना दहेज भी नहीं लिया।

    - 16 जनवरी को योगेश्वर दत्त और शीतल एक-दूसरे के साथ परिणय सूत्र में बंध गए। अब शादी के एक साल और 9 दिन बाद योगेश्वर दत्त की पत्नी शीतल ने गुरुवार को सोनीपत के एक अस्पताल में बेटे को जन्म दिया है।

    - हालांकि सिजेरियन डिलीवरी हुई है, लेकिन जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं और योगेश्वर भी पिता बनने से बेहद खुश हैं। यहां तक कि उन्होंने नन्हे-मुन्ने को गोद में भी लिया।
    - साथ ही योगेश्वर का अपने बेटे के साथ कुछ समय बाद ही एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसके बाद बधाइयों का तांता लग गया।

    सिक्स पैक वाले असली चैम्पियन के रूप में है पहचान
    - योगेश्वर दत्त ने आठ साल की उम्र से ही कुश्ती में हाथ आजमाना शुरू कर दिया था। उन्होंने पहलवान बलराज से प्रेरणा ली, जो कि हरियाणा में उन्हीं के गांव से थे। योगेश्वर ने अपने कोच रामफल से कुश्ती की ट्रेनिंग ली और दांव-पेच सीखे।
    - सिक्स पैक के दम पर योगेश्वर ने विदेशों में भारतीय कुश्ती की धाक जमाई है। करिश्माई पहलवान और 2012 ओलिंपिक के ब्रॉन्ज पदक विजेता योगेश्वर दत्त ने इंचियोन एशियाई खेलों की कुश्ती प्रतियोगिता में इतिहास रचते हुए भारत को 28 साल के लम्बे अंतराल के बाद एशियाड कुश्ती में स्वर्ण पदक दिलाया था।
    - राष्ट्रमंडल खेलों के गोल्ड मेडल विजेता और महाबली सतपाल के शिष्य योगेश्वर ने 65 किलो भार वर्ग के फ्रीस्टाइल में गोल्ड मेडल मुकाबले में तजाकिस्तान के जालिम खान युसूपोव को बेहद नजदीकी संघर्ष में 1-0 से हराया।

    - योगेश्वर दत्त अपनी कुश्ती के लिए ही नहीं, बल्कि सिक्स पैक एब्स के लिए भी फेमस हैं। उन्होंने इसके दम पर खासी पहचान कायम की है। बता दें कि सिक्स पैक बोलने में तो दो शब्दभर हैं, लेकिन इस एब्स को अपने शरीर में उभारने में सालों पसीना बहाना पड़ता है।
    - पहलवान योगेश्वर दत्त भी शाकाहारी हैं। खाने में वे बेहद संतुलित आहार लेते हैं। उनका कहना है कि वजन को संतुलित रखने के लिए डाइट भी संतुलित लेते हैं।
    - वे दूध, घी और बादाम पर ज्यादा जोर देते हैं। हर रोज लगभग 2 किलो दूध पीते हैं। बादाम और सूखे मेवे 150 ग्राम और 200 ग्राम से ज्यादा घी खाते हैं। यह एक ऐसे पहलवान हैं जो नॉनवेज खाना तो दूर उसकी तरफ देखते तक नहीं हैं।

  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    बेटे को सबसे पहले अपनी मां की गोद में दिया योगेश्वर दत्त ने। योगेश्वर की मां और भाई बच्चे के साथ।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    योगेश्वर दत्त और कांग्रेस नेता जयभगवान की बेटी शीतल की मंगनी की फोटो।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    शादी से पहले दोस्तों के साथ देशभक्ति गीतों पर इंज्वाय करते नजर आए थे पहलवान।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    घोड़ी चढ़े योगेश्वर दत्त तो भावुक हो गई थी उनकी मां।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    एक तरफ योगेश्वर दूल्हा बने तो दूसरी ओर दुल्हन के रूप में इतनी सुंदर लग रही थी शीतल।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    टीके की रस्म में रेसलर ने सिर्फ एक रुपया स्वीकार किया था।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    जयमाल के बाद योगेश्वर दत्त और शीतल। फाइल फोटो
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    सात फेरे ले एक-दूसरे के हो गए थे दोनों। अब एक साल और 9 दिन बाद आया खुशी का मौका।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    सीएम मनोहर लाल, पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा समेत कई हस्तियां पहुंची थी आशीर्वाद देने।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    सीएम मनोहर लाल, पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा समेत कई हस्तियां पहुंची थी आशीर्वाद देने।
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    शादी के बाद नवविवाहित जोड़ा ऐसे पहुंचा था आशीर्वाद लेने। फाइल फोटो
  • पिता बने ओलिंपियन योगेश्वर दत्त, पहली बार गोद में ले ऐसे देखा बेटे का चेहरा
    +12और स्लाइड देखें
    बेटे को गोद में लिए पहलवान योगेश्वर दत्त।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Olympian Wrestler Yogeshwar Dutt Became Father By The Birth Of A Son
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×