Hindi News »Haryana »Panipat» Online Transfer Policy Wiil Be Apply In 8 Department Haryana Government Soon

8 विभागों में 15 अप्रैल से लागू होगी ऑनलाइन ट्रांसफर पॉलिसी, CM ने ली बैठक

कर्मचारियों से मांगे गए सुझाव, सीएम ने ली प्रशासनिक सचिवों की बैठक।

Manoj Kumar | Last Modified - Mar 03, 2018, 06:01 PM IST

8 विभागों में 15 अप्रैल से लागू होगी ऑनलाइन ट्रांसफर पॉलिसी, CM ने ली बैठक

चंडीगढ़। प्रदेश सरकार की ओर से अब शिक्षक तबादला नीति की तर्ज पर आठ महकमों में ऑन लाइन तबादला नीति बनाई जाएगी। एक सप्ताह में सभी महकमे अपनी नीति तैयार कर वेबसाइट पर सुझाव के लिए उसका ड्राफ्ट अपलोड करेंगे। सभी प्रक्रिया पूरी के बाद 15 अप्रैल को यह नीति लागू की जाएगी। तब तक उक्त महकमों में किसी भी कर्मचारी का तबादला नहीं किया जाएगा।

- खास बात यह है कि इस नीति पर सभी एमएलए और एमपी के भी सुझाव लिए जाएंगे। इस नीति को लेकर शनिवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने संबंधित महकमे के प्रशासनिक सचिवों की बैठक भी ली।
- बता दें कि सरकार ने पहले कहा था कि जिन विभागों में 500 से ज्यादा कर्मचारी है, उनके लिए यह नीति बनाई जाएगी।
- बैठक में परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार, जेल विभाग के एसीएस, पीडब्ल्यूडी के एसीएस, परिवहन विभाग के विभाग के एसीएस, शिक्षण विभाग के निदेशक, वन विभाग के प्रधान सचिव, जनस्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव, सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के प्रधान सचिव और विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव उपस्थित थे।

इन विभागों की बनेगी तबादला पॉलीसी
- जेल, पीडब्ल्यूडी, परिवहन, कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण, वन विभाग, जनस्वास्थ्य, सिंचाई एवं जल संसाधन और विकास एवं पंचायत विभाग शामिल हैं।

सभी 90 विधायकों और सांसदों को भेजेंगे ड्राफ्ट
- मुख्यमंत्री ने बैठक में अधिकारियों से कहा कि ड्राफ्ट की कॉपी प्रदेश के सभी 90 विधायकों, 10 सांसदों व 5 राज्यसभा को भी भेजी जाए। ताकि उनके भी सुझाव भी इन नीतियों पर आ सकें।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 8 vibhaagaon mein 15 April se laagau hogai aunlaain traansfr polisi, CM ne li baithk
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×