--Advertisement--

प्रेम प्रसंग छिपाने के लिए बहन ने ही ली थी भाई की जान, फिर बेड में मिली थी बॉडी

प्रेम प्रसंग छिपाने के लिए बहन ने ही ली थी भाई की जान, फिर बेड में मिली थी बॉडी

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 12:26 PM IST

बहादुरगढ़। बहादुरगढ़ में पुलिस ने हनीट्रैप के मामले का पर्दाफाश करते हुए चार लोगों को अरेस्ट किया है। इनमें तीन महिलाएं शामिल हैं, जो लोगों को दोस्ती गांठ घर बुलाती थी। उनके साथ फिजिकल रिलेशन बना उसका वीडियो बना लेती थी और फिर रेप के केस में फंसा सतझौते के नाम पर लाखों रुपए ऐंठ लेती थी। अब इसी तरह के एक मामले की जांच के दौरान पुलिस ने इन महिलाआें को एक युवक के साथ अरेस्ट किया है, जो इस गंदे धंधे में इनका साथ देता था। ये है पूरा मामला...

- सीआईए प्रभारी निरीक्षक सुमित कुमार के मुताबिक नजफगढ़ निवासी एक व्यक्ति ने पुलिस को शिकायत दी थी कि उसे फोन पर घर बुलाकर रेप का आरोप लगाकर जबरदस्ती अश्लील वीडियो बनाकर रुपयों की मांग की गई। उसके साथ मारपीट करते हुए जबरदस्ती उससे फोन व अन्य कागजात भी छीन लिए गए।
- एसएसपी बी सतीश बालन ने यह केस सीआईए प्रभारी झज्जर निरीक्षक सुमित कुमार के हवाले कर दिया। उन्होंने पीड़ित द्वारा दी गई सूचना के आधार पर छिक्कारा चौक झज्जर से डेढ़ लाख रुपए की वसूली के लिए आए हुए एक आरोपी को रंगे हाथ काबू किया।
- पकड़े गए आरोपी की पूछताछ में पहचान हरबीर उर्फ हन्नी पुत्र रायसिंह निवासी गांव धौड़ जिला झज्जर के तौर पर की गई। उसने प्राथमिक पूछताछ में बताया कि इस गिरोह में उसके अलावा तीन महिलाएं भी शामिल हैं। ये महिलाएं फोन करके लोगों को झांसे में लेकर घर बुलाती थी।
- घर बुलाकर जबरदस्ती अश्लील वीडियो बनाकर रेप का आरोप लगाकर जबरदस्ती रुपए ऐंठने का धंधा चलाती थी। इसके बाद टीम ने गिरोह में शामिल तीनों महिला आरोपियों को भी झज्जर शहर के दिल्ली रोड के एरिया से काबू किया।
- सीआईए प्रभारी निरीक्षक सुमित कुमार ने बताया कि रेप का झूठा आरोप लगाकर जबरदस्ती रुपए ऐंठने वाले पकड़े गए गिरोह के तीन महिलाओं सहित चारों आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए थाना झज्जर में मामला दर्ज किया गया। पकड़े गए चारों आरोपियों को बुधवार को अदालत झज्जर में पेश किया जाएगा।