--Advertisement--

क्च्ररूस् स्टूडेंट की जेब से मिली ढ़ाई करोड़ की हेरोइन, पुलिस ने ४ को किया अरेस्ट

क्च्ररूस् स्टूडेंट की जेब से मिली ढ़ाई करोड़ की हेरोइन, पुलिस ने ४ को किया अरेस्ट

Danik Bhaskar | Mar 09, 2018, 07:44 PM IST

करनाल। अंबाला पुलिस की सूचना पर करनाल सीआईए-2 टीम ने ढ़ाई करोड़ रुपए की हेरोइन के साथ चार आरोपियों को पकड़ा है। पुलिस का नाका देखकर आरोपियों ने बचने की कोशिश की, लेकिन पहले से मुस्तैद पुलिस ने उनको मौके से पकड़ लिया। आरोपियों के पास से 452 ग्राम हेरोइन बरामद की है। पुलिस के सामने आरोपियों ने कबूला है कि वे तस्करी का काम करते हैं और यह खेप मध्यप्रदेश से लेकर आए थे, जिसकी सप्लाई उन्होंने कुरुक्षेत्र, शाहबाद और अंबाला, पंजाब के एरिया में करनी थी। पढ़िए पूरा मामला...

- एसपी जशनदीप सिंह रंधावा ने बताया कि सीआईए-2 टीम ने जीटी रोड स्थित नई अनाज मंडी के नजदीक नाका लगाकर बगैर नंबर प्लेट की सफेद रंग की डिजायर कार के साथ चार आरोपी पकड़े गए।

- इनमें पीजीआई रोहतक में बीएएमएस फाइनल ईयर के स्टूडेंट आरोपी विजय की जेब से 452 ग्राम हेरोइन बरामद हुई।
- आरोपी किशोर कुमार वासी कोहंड, विजय कुमार वासी अलीपुर खालसा, जो पीजीआई रोहतक में बीएएमएस फाइनल ईयर का विद्यार्थी है।
- आरोपी राजेंद्र पाल वासी कोहंड व करतार सिंह वासी मूनक को गिरफ्तार किया गया।

तीन दिन के रिमांड पर लिया
- सीआईए टू टीम ने आरोपी विजय और किशोर को तीन दिन के लिए रिमांड पर लिया गया है, जबकि आरोपी राजेंद्र पाल व करतार सिंह को न्यायिक हिरासत में भेजा है।

ऐसे आए पकड़ में
- सीआईए-2 के इंचार्ज इंस्पेक्टर जसपाल सिंह ढिल्लों ने शुक्रवार अलसुबह करीब 3 बजे अपनी एक टीम को एएसआई शेलेंद्र कुमार की अध्यक्षता में शहर थाना क्षेत्र में गश्त के लिए भेजा गया।
- गश्त के दौरान नमस्ते चौक पर पहुंची तो एएसआई शेलेंद्र कुमार को गुप्त सूचना मिली कि एक गाड़ी डिजायर में कुछ व्यक्ति नशे की एक बड़ी खेप हाइवे की सर्विस लाइन से पानीपत से अंबाला की ओर जा रहे हैं।
- सूचना मिलते ही उप-निरीक्षक दलबीर सिंह व एएसआई शैलेंद्र कुमार ने अपनी टीम के अनाज मंडी गेट के सामने सर्विस लाइन पर नाकाबंदी कर तैनात कर दिया।
- कुछ समय बाद एक गाड़ी आती नजर आई, जिसे पुलिस टीम ने बेरिकेड्स लगाकर रूकने का इशारा किया। ड्राइवर ने बेरिकेड्स से कुछ दूर पहले अपनी गाड़ी को रोक लिया और सामने तैनात पुलिसकर्मियों को देख एक साथ अपनी गाड़ी के चारों दरवाजे खोल चार व्यक्तियों ने निकलकर भागने का प्रयास किया।
- किंतु उप-निरीक्षक दलबीर सिंह व उनकी टीम ने अपनी मुस्तैदी का परिचय देते हुए, उन्हें काबू कर लिया गया। सिटी थाना पुलिस में चारों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।