Hindi News »Haryana »Panipat» Police Caught Fake Police Officer In Bhiwani

राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बनकर कर रहा था ठगी, पुलिस ने पकड़ा

जेल में बंद व्यक्ति को बरी करवाने के नाम पर उसके पुत्र से 60 हजार रुपये ठगने का कर रहा था प्रयास।

Ashok Tanwar | Last Modified - Feb 06, 2018, 05:00 PM IST

राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बनकर कर रहा था ठगी, पुलिस ने पकड़ा

भिवानी। राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बन लोगों को ठगने वाला शातिर चौथी बार पुलिस के हत्थे चढ़ा है। सोमवार देर शाम को सीआईए पुलिस ने आरोपी को महम गेट से वर्दी समेत गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

- गांव भैणी चंद्रपाल महम निवासी प्रदीप ने पुलिस को सूचना दी कि एक व्यक्ति अपने आपको को राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बता रहा है और उसके पिता के खिलाफ चल रहे एनडीपीएस एक्ट के मामले को खारिज कराने के लिए 60 हजार रुपये की मांग कर रहा है।
- उसे शक है कि उक्त व्यक्ति पुलिस न होकर कोई ठगने वाला है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उससे पूछताछ की तो वह सही जवाब नहीं दे पाया।
- सीआईए पुलिस उसे थाना में लेकर आई और गहन पूछताछ में नकली इंस्पेक्टर ने सब कुछ असली बताया। आरोपी की पहचान गांव बिठला थाना साल्हावास जिला झज्जर निवासी रणधीर के रूप में हुई।
- पुलिस ने प्रदीप की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 170 व 171 के तहत मामला दर्ज किया है।

पहले भी तीन बार इंस्पेक्टर की वर्दी में पकड़ा गया है रणधीर
- पुलिस ने पहले भी ठग रणधीर को तीन बार पुलिस उसे इंस्पेक्टर की वर्दी में गिरफ्तार कर चुकी है।
- 2015 में ठग रणधीर को चरखीदादरी के गांव नौरंगाबाद जाटान से गिरफ्तार कर चुकी है। जहां वह राजस्थान इंस्पेक्टर की वर्दी पहनकर युवकों को राजस्थान पुलिस में भर्ती करवाने का झांसा देता था। भर्ती के नाम पर वह सात लाख रुपये की मांग करता था और भर्ती से पहले राजस्थान का रिहायशी प्रमाण पत्र बनवाने के लिए प्रत्येक युवक से 25 हजार रुपये लेता था। पुलिस को इस संबंध में पता चला तो उसे इंस्पेक्टर की वर्दी में गिरफ्तार किया गया था।
- आरोपी को 2014 को बहरोड़ में गिरफ्तार किया गया था। जहां भी वह लोगों को वर्दी के दम पर ठगने का काम करता था।
- आरोपी को महम पुलिस भी एक बार गिरफ्तार कर चुकी है। यहां भी वह राजस्थान पुलिस इंस्पेक्टर की वर्दी में लोगों से पैसे एंठने का काम करता था।
- मामले की जांच कर रहे है एसआई भूषण कुमार ने बताया कि आरोपी को अदालत में पेश करने के बाद पुलिस रिमांड पर लिया गया है। रणधीर राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बनकर लोगों को ठगने का काम करता था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: raajsthaan police ka inspektr bankar kar raha thaa thgai, police ne pkdeaa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×