पानीपत

--Advertisement--

राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बनकर कर रहा था ठगी, पुलिस ने पकड़ा

राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बनकर कर रहा था ठगी, पुलिस ने पकड़ा

Danik Bhaskar

Feb 06, 2018, 04:55 PM IST

भिवानी। राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बन लोगों को ठगने वाला शातिर चौथी बार पुलिस के हत्थे चढ़ा है। सोमवार देर शाम को सीआईए पुलिस ने आरोपी को महम गेट से वर्दी समेत गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

- गांव भैणी चंद्रपाल महम निवासी प्रदीप ने पुलिस को सूचना दी कि एक व्यक्ति अपने आपको को राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बता रहा है और उसके पिता के खिलाफ चल रहे एनडीपीएस एक्ट के मामले को खारिज कराने के लिए 60 हजार रुपये की मांग कर रहा है।
- उसे शक है कि उक्त व्यक्ति पुलिस न होकर कोई ठगने वाला है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उससे पूछताछ की तो वह सही जवाब नहीं दे पाया।
- सीआईए पुलिस उसे थाना में लेकर आई और गहन पूछताछ में नकली इंस्पेक्टर ने सब कुछ असली बताया। आरोपी की पहचान गांव बिठला थाना साल्हावास जिला झज्जर निवासी रणधीर के रूप में हुई।
- पुलिस ने प्रदीप की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 170 व 171 के तहत मामला दर्ज किया है।

पहले भी तीन बार इंस्पेक्टर की वर्दी में पकड़ा गया है रणधीर
- पुलिस ने पहले भी ठग रणधीर को तीन बार पुलिस उसे इंस्पेक्टर की वर्दी में गिरफ्तार कर चुकी है।
- 2015 में ठग रणधीर को चरखीदादरी के गांव नौरंगाबाद जाटान से गिरफ्तार कर चुकी है। जहां वह राजस्थान इंस्पेक्टर की वर्दी पहनकर युवकों को राजस्थान पुलिस में भर्ती करवाने का झांसा देता था। भर्ती के नाम पर वह सात लाख रुपये की मांग करता था और भर्ती से पहले राजस्थान का रिहायशी प्रमाण पत्र बनवाने के लिए प्रत्येक युवक से 25 हजार रुपये लेता था। पुलिस को इस संबंध में पता चला तो उसे इंस्पेक्टर की वर्दी में गिरफ्तार किया गया था।
- आरोपी को 2014 को बहरोड़ में गिरफ्तार किया गया था। जहां भी वह लोगों को वर्दी के दम पर ठगने का काम करता था।
- आरोपी को महम पुलिस भी एक बार गिरफ्तार कर चुकी है। यहां भी वह राजस्थान पुलिस इंस्पेक्टर की वर्दी में लोगों से पैसे एंठने का काम करता था।
- मामले की जांच कर रहे है एसआई भूषण कुमार ने बताया कि आरोपी को अदालत में पेश करने के बाद पुलिस रिमांड पर लिया गया है। रणधीर राजस्थान पुलिस का इंस्पेक्टर बनकर लोगों को ठगने का काम करता था।

Click to listen..