--Advertisement--

ेटिकेचतनत ि्चके्िटु कतिे् ुटचेकत्ु टचिे्कतु टचिेु

ेटिकेचतनत ि्चके्िटु कतिे् ुटचेकत्ु टचिे्कतु टचिेु

Danik Bhaskar | Mar 05, 2018, 03:20 PM IST
साइकिल यात्रा निकालते हुए कां साइकिल यात्रा निकालते हुए कां

कालका (पंचकूला)। हरियाणा विधानसभा घेराव के लिए कालका से साइकिल रैली लेकर निकले कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर को चंडीगढ़ बॉर्डर पर ही रोक लिया गया है। पुलिस ने अशोक तंवर को हिरासत में ले लिया है। चंडीगढ़ बॉर्डर पर पहले ही सुरक्षा के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात था। यहां पहुंचते ही कांग्रेस समर्थकों ने कुछ देर नारेबाजी की और बैरिकेड्स हटाकर आगे बढ़ने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने उन्हें आगे नहीं जाने दिया।

- इस घटनाक्रम से पहले कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर की 'हरियाणा बचाओ-परिवर्तन लाओ' साइकिल यात्रा कालका (पंचकूला) विधानसभा से आरंभ हुई थी।
- तंवर ने कालका के प्राचीन काली माता मंदिर में पूजा अर्चना तथा ऐतिहासिक गुरूद्वारा पातशाही में माथा टेका। इसके बाद सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए काफिला विधानसभा घेराव के लिए चंडीगढ़ की तरफ बढ़ा।
- लेकिन चंडीगढ़ बॉर्डर पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात था, जिसके चलते तंवर और उनके समर्थकों को वहीं रोक लिया गया।
- यहीं से अशोक तंवर को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। बता दें कि हरियाणा के सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों से निकलने वाली यात्रा के पहले चरण में पंचकूला, यमुनानगर, अंबाला व कुरुक्षेत्र को शामिल किया गया है।

ये बोले अशोक तंवर
- काली माता मंदिर के बाहर लोगों को संबोधित करते हुए कहा हरियाणा बचाओ-परिवर्तन लाओ यात्रा भाजपा के कुशासन के खिलाफ राज्य के लोगों का जनांदोलन बनेगी।
- साथ ही राज्य के सभी 90 हल्कों में कांग्रेस को मजबूत करेगी और सभी 10 लोकसभा क्षेत्रों में पार्टी की जीत को तय करेगी ताकि देश मे राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाया जा सके।
- केंद्र और हरियाणा की भाजपा सरकारों की जनविरोधी नीतियों से हरियाणा लगातार पिछड़ रहा है। आज हर वर्ग दुखी है, कानून व्यवस्था बिगड़ चुकी है, किसान, मजदूर, व्यापारी, नौजवान, कर्मचारी सड़कों पर है।
- हरियाणा बचाओ-परिवर्तन लाओ राज्य की जनता के संघर्ष के लिए अभूतपूर्व जनांदोलन है।