--Advertisement--

ीरहलनिजिदइअइदद दअअबीदउइउ इ अइबिहगबिह हअइीदइबअब

ीरहलनिजिदइअइदद दअअबीदउइउ इ अइबिहगबिह हअइीदइबअब

Danik Bhaskar | Jan 21, 2018, 11:26 AM IST

अम्बाला। पूजा एक्सप्रेस में नई दिल्ली से जम्मूतवी जा रहे दंपती का गहनों से भरा पर्स चोरी हो गया। गाड़ी के जम्मू पहुंचने पर दंपती की तरफ से लिखित शिकायत पुलिस को दी गई। जम्मू पुलिस ने 7.85 लाख रुपए की जीरो एफआईआर काटकर अम्बाला जीआरपी को भेज दी। रविवार अम्बाला पहुंचे दंपती की शिकायत पर पहले जीआरपी ने 2.50 लाख रुपए की एफआईआर दर्ज की, लेकिन दंपती के दोबारा एसपी रेलवे को शिकायत करने के बाद इसे 7 लाख कर दिया गया। आंख खुली तो उड़े होश...

- ट्रेन में सफर के दौरान रेलवे द्वारा यात्रियों को उपलब्ध कराई जा रही सुरक्षा को ठेंगा दिखाते हुए चोरों ने गाड़ी संख्या 12413 के एसी कोच में चोरी को अंजाम दे दिया, जबकि सफर के दौरान एसी कोच को बेहद सुरक्षित माना जाता है, क्योंकि इसमें कोच अटेंडेंट के साथ टीटीई की भी डयूटी लगी होती है।

- ऐसे ही एक मामले की शिकायत बेंगलुरु के दंपती रणजीत सिंह व हरमिंदर कौर ने जम्मू पुलिस को दी।

- शिकायत में दंपती ने बताया कि वह 18 जनवरी को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से गाड़ी मे सवार हुए थे। इस दौरान एसी-3 बी-2 काेच में दोनों की सीट नंबर अलग-अलग थी।

- ट्रेन में चल रहे टीटीई को सीट बदलने की रिक्वेस्ट की गई। इसके बाद टीटीई ने एसी-2 में ए-2 कोच में सीट नंबर 5-6 दे दी।

- हरमिंदर कौर ने बताया कि ट्रेन में उन्हें कम ही नींद आती है, इसलिए वह कुछ देर बाद उठ-उठकर पर्स व अपने पति को देखती रहीं।

- ट्रेन लगभग 2.10 पर कैंट रेलवे स्टेशन पहुंची और इसके बाद वह आगे रवाना हो गई। लेकिन रात 2.45 पर उनकी जैसे ही नींद खुली तो उनके पास रखा पर्स गायब था।

- उन्होंने तुरंत शोर मचा दिया। शोर सुनने के बाद भी कोच अटेंडेंट नहीं जागा, उन्होंने खुद कोच अटेंडेंट को जगाया। शोर सुनकर टीटीई भी मौके पर पहुंच गया।

- हालांकि ट्रेन अपनी स्पीड पर थी इस कारण मामले की जानकारी जम्मू पहुंचने पर जम्मू पुलिस काे दी गई। दंपती की शिकायत पर 7.85 लाख रुपए की जीरो एफआईआर काटकर अम्बाला जीआरपी को भेजी गई।

नशीली वस्तु का किया स्प्रे
- हरमिंदर कौर ने बताया कि जिस स्थान पर उन्होंने पर्स को छिपाया था, उसे ढूंढना काफी मुश्किल था, लेकिन इसके बाद भी पर्स चोरी हो गया।

- उन्होंने बताया कि जिस स्थान पर पर्स छिपाया गया था, शरीर के उस हिस्से पर अभी भी निशान पड़े हुए हैं। यह घटना नशीला स्प्रे छिड़क कर अंजाम दी गई है।

पहले जीआरपी ने दर्ज की 2.50 लाख की एफआईआर, फिर किया 7 लाख
- जीआरपी थाने पहुंचे दंपति की शिकायत पर पहले 2.50 लाख रुपए का सामान चोरी दिखाकर एफआईआर काटी गई, लेकिन जब दंपती ने इसका विरोध करते हुए कहा कि जम्मू पुलिस ने 7.85 लाख रुपए की एफआईआर काटी है तो वह कैसे इसे 2.50 लाख दिखा रहे हैं।

- इसके बाद दंपति ने मामले की जानकारी एसपी रेलवे विनोद कुमार को दी। एसपी के आदेश के बाद एफआईआर को दोबारा ठीक किया गया आैर इसे 7 लाख रुपए कर दंपति को सौंप दिया गया।

वरिष्ठ सुरक्षा आयुक्त मौके पर पहुंची
- पीड़ित दंपती से पूछताछ के लिए अम्बाला मंडल सुरक्षा आयुक्त कमलजोत बराड़ खुद रेलवे स्टेशन पहुंची और दंपति से मौके वारदात बारे पूछताछ की।

- इस दौरान सीआईए अधिकारी जोगिंद्र सिंह, सीआईबी प्रभारी सुखदेव राज सिंह व आरपीएफ प्रभारी डीएस चौहान भी मौजूद रहे।

- सुरक्षा आयुक्त ने दंपती के दुख को सांझा करते हुए और मामले की गंभीरता को देखते हुए सीसीटीवी फुटेज दिखाई, लेकिन कैमरों की घटिया क्वालिटी के कारण चोर बारे कुछ जानकारी नहीं मिल पाई।

चोरी कर पर्स फेंका कालका मेल में
- जिस समय पूजा एक्सप्रेस कैंट रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म 7 पर खड़ी थी तो इस दौरान प्लेटफार्म नंबर 1 पर कालका से हावड़ा जाने वाली गाड़ी खड़ी थी।

- चोरी की सूचना मिलते ही आरपीएफ व जीआरपी सतर्क हो गईं थी और टीमों ने ट्रेनों में चैकिंग भी शुरू कर दी थी।

- चेकिंग करते हुए नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहुंची कालका-हावड़ा मेल के एसी कोच से चोरी हुआ पर्स बरामद हुआ जो बिल्कुल खाली था।

क्या कहते हैं रेलवे अधिकारी?

- उधर एसपी रेलवे विनोद कुमार का कहना है कि मामले की गंभीरता को देखते हुए सीआईए जीआरपी को आरपीएफ के साथ मिलकर कार्य करने के आदेश दिए गए हैं।

- पहले एफआईआर में 2.50 लाख रुपए का नुकसान दिखाया गया था, लेकिन दंपती ने इस पर ऐतराज किया। इसके बाद आंकलन करने के बाद नुकसान की राशि को 7 लाख रुपए किया गया है। उम्मीद है कि जल्द ही चोर पुलिस की गिरफ्त में होंगे।