--Advertisement--

शाह की रैलीः हृत्रञ्ज के बाद अब हाईकोर्ट ने बाइक रैली पर जारी किया नोटिस

शाह की रैलीः हृत्रञ्ज के बाद अब हाईकोर्ट ने बाइक रैली पर जारी किया नोटिस

Danik Bhaskar | Feb 12, 2018, 03:25 PM IST
पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट।

पानीपत/चंडीगढ़। जींद में 15 फरवरी को होने वाली अमित शाह की बाइक रैली को लेकर लगातार अड़चनें आ रही हैं। रविवार रात हरियाणा सरकार ने जैसे-तैसे जाटों को तो मना लिया लेकिन अब इस बाइक रैली पर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने भी केंद्र और हरियाणा सरकार को नोटिस जारी किया है। यह नोटिस अराइव सेफ सोसाइटी द्वारा डाली गई याचिका पर जारी किया गया है। याचिकाकर्ता ने इतनी बड़ी संख्या में किसी रैली में बाइकों पर सवाल खड़ा किया है। इस पर हाईकोर्ट ने नोटिस जारी कर 14 फरवरी तक जवाब मांगा है। इससे पहले एनजीटी ने जारी किया था नोटिस...

- गौरतलब है कि 9 फरवरी को नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी ) ने इतनी संख्या में पहुंच रही बाइक से होने वाले प्रदूषण पर केंद्र और हरियाणा सरकार को नोटिस जारी किया था। जस्टिस एसपी वांगड़ी की अध्यक्षता वाली बेंच ने पर्यावरण मंत्रालय, हरियाणा सरकार, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को नोटिस जारी कर 13 फरवरी तक जवाब मांगा था।
- एडवोकेट विक्टर ढिस्सा ने एनजीटी में दायर याचिका में बाइक की संख्या कम करवाने का आग्रह किया था। उनकी तरफ से पेश हुए एडवोकेट सुमीर सोढी ने कहा कि प्रदूषण की वजह से इन दिनों हरियाणा समेत दिल्ली-एनसीआर के लोग स्वास्थ्य संबंधी गंभीर समस्याओं से जूझ रहे हैं। ऐसे में बाइक रैली का पर्यावरण पर और प्रतिकूल असर पड़ेगा।

हर विधानसभा क्षेत्र से कम से कम 1000 बाइक लाने का लक्ष्य
- पार्टी ने हर विधानसभा क्षेत्र को 3 से 4 ब्लॉक में बांटा है। रैली में हर विधानसभा क्षेत्र से करीब एक हजार मोटरसाइकिल ले जाने का लक्ष्य रखा गया है।
- किसी भी नेता या कार्यकर्ता को गाड़ी ले जाने की अनुमति नहीं है। यानी रैली में सिर्फ बाइक पर जाया जा सकेगा। शाह भी हेलीपैड से रैली स्थल तक बाइक पर जाएंगे।