Hindi News »Haryana »Panipat» Sub Inspector Arrested By Vigilance Take 50 Thousand Bribe

स्नढ्ढक्र से दो लेडी के नाम निकालने की एवज में ५० हजार रिश्वत लेते सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार

स्नढ्ढक्र से दो लेडी के नाम निकालने की एवज में ५० हजार रिश्वत लेते सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार

Manoj Kaushik | Last Modified - Dec 29, 2017, 05:08 PM IST

स्नढ्ढक्र से दो लेडी के नाम निकालने की एवज में ५० हजार रिश्वत लेते सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार

फरीदाबाद। अनंगपुर गांव में झगड़े के मामले दर्ज हुई एफआईआर से दो महिलाओं को निकालने की एवज में 50 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए गुड़गांव विजिलेंस की टीम ने सूरजकुंड थाने के सब इंस्पेक्टर सुरेश कुमार को रंगे हाथों अरेस्ट कर लिया। शुक्रवार को पीड़िताओं का दामाद 50 हजार रुपए लेकर थाने गया था। तभी विजिलेंस टीम आ गई। टीम ने आरोपी सब इंस्पेक्टर से पैसे भी बरामद कर लिए। इसके बाद उसे गुड़गांव विजिलेंस के दफ्तर ले गई। इस मामले में सूरजकुंड थाने के एसएचओ पंकज कुमार की भूमिका भी संदिग्ध लग रही है। आरोपी सब इंस्पेक्टर एसएचओ के नाम पर ही रिश्वत मांगी थी। बहराल विजिलेंस की टीम सब इंस्पेक्टर से पूछताछ कर रही है। पढ़िए क्या था पूरा मामला...

- मंधावली गांव निवासी शिवकुमार ने बताया कि उसकी ससुराल अनंगपुर गांव में है। पिछले साल गांव में एक झगड़ा हुआ था। उसमें उनकी सास कमलेश और सास की बहन शीला का बेवजह नाम लिखवा दिया गया था। जबकि झगड़े के दौरान उनकी ससुराल में मौत हो गई थी।
- एफआईआर दर्ज होने के बाद पुलिस उनकी सास कमलेश व उनकी बहन शीला को परेशान करने लगी। इस मामले में उनके ससुराल वाले पुलिस कमिश्नर व एसीपी एनआईटी जाकिर हुसैन से कई बार मिले लेकिन सुनवाई नहीं हुई।
- उन्होंने बार-बार निष्पक्ष जांच करने का आग्रह किया। करीब तीन माह पहले वह ससुराल गए तो इस मामले के बारे में बताया। इसके बाद वह भी लगातार चक्कर लगाते रहे लेकिन पुलिस वाले नहीं माने।
- एसीपी एनआईटी जाकिर हुसैन ने उनसे इस मामले के जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर सुरेश कुमार से मिलने को कहा। आरोप है सुरेश कुमार ने उनसे दोनों महिलाओं को एफआईआर से निकालने की एवज में डेढ़ लाख रुपए मांगे।
- इसके बाद 1 लाख रुपए में बात तय हो गई। शिव कुमार के अनुसार उसने इसकी सूचना गुड़गांव विजिलेंस को दी। विजिलेंस ने उसे 2-2 हजार रुपए के 25 रंगे हुए नोट दिए।
- शुक्रवार को वह इन पैसों को लेकर सूरजकुंड थाने पहुंच गया। वहां कुर्सी पर बैठे सब इंस्पेक्टर को 50 हजार रुपए दे दिए। उसने पैसे अपनी जवाहर कट में रख लिए। 4 मिनट बाद विजिलेंस की टीम अंदर आई और सब इंस्पेक्टर से पैसे बरामद कर उसे अरेस्ट कर लिया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×