--Advertisement--

सीए दोस्त के साथ नहर में गिरे थे चार युवक, ५८ घंटे बाद मिली तीन की डेड बॉडी

सीए दोस्त के साथ नहर में गिरे थे चार युवक, ५८ घंटे बाद मिली तीन की डेड बॉडी

Danik Bhaskar | Jan 23, 2018, 11:13 AM IST
सोनपत में रोहट के पास से गुजरत सोनपत में रोहट के पास से गुजरत

सोनीपत/रोहतक। सोनीपत में रोहट गांव के पास पश्चिमी यमुना लिंक नहर में कार समेत गिरे पांच दोस्तों में से चार की मौत हो गई। इनमें से एक जिंदा निकल आया था और एक को मृत निकाला गया था, वहीं अब 58 घंटे बाद बाकी तीन की डेड बॉडी भी नहर से निकाल ली गई हैं। एक की बॉडी हादसे वाली जगह ही तो दो की लगभग 4 किलोमीटर दूर गढ़ी बिंदरौली के पास पाई गई हैं। बता दें कि शनिवार रात करीब 12 बजे सांपला के पांच युवक उस वक्त कार समेत नहर में गिर गए थे, जब सीए बना एक युवक अपने दोस्तों के साथ पार्टी करने मुरथल जा रहा था। इनमें से तीन का कुछ पता नहीं चल पाने की वजह से परिजनों और आसपास के लोगों ने सोनीपत-रोहतक रोड के अलावा दिल्ली-रोहतक नेशनल हाईवे नंबर 9 भी जाम कर दिया था। साथ ही सांपला में रेल ट्रैक भी घंटों बाधित रहा। प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन पर लापरवाही के आरोप लगाए थे। ककरोई हेड से पानी बंद किया तो मिली डेड बाॅडीज...

- बताते चलें कि सांपला के मेन बाजार के रहने वाले हितेश (24) पुत्र ब्रह्मप्रकाश ने बीते दिनों सीए में सिलेक्शन के बाद दोस्तों को पार्टी देने का प्लान किया था।
- पांच दोस्त लक्ष्य (23) पुत्र महावीर, रोहित (22) पुत्र राकेश, सौरभ (22) पुत्र प्रदीप, हितेश (24) पुत्र ब्रह्मप्रकाश व चिराग (23) पुत्र अशोक पार्टी करने के लिए रोहतक के लिए निकले।
- दोस्तों ने स्पेशल डिश की डिमांड की, लेकिन डिश ना मिल पाने के चलते रोहतक आने की बजाय सभी दोस्त मुरथल की ओर रवाना हो गए। होंडा इमेज कार को सौरभ चला रहा था।
- रात करीब 12 बजे जब सोनीपत जिले में रोहट के पास से गुजरती पश्चिमी यमुना लिंक नहर पर पहुंचे तो अचानक सौरभ ने संतुलन खो दिया। कार रॉन्ग साइड में चली गई। आगे से ट्रक आने पर सौरभ ने बचाव की कोशिश की और कार पुल की रेलिंग के तौर पर बनाई गई दीवार तोड़कर पलटे खाते हुए पानी में जा गिरी।
- इनमें से चिराग नहर किनारे उगे झाड़ की वजह से निकल पाने में कामयाब रहा तो घटना के करीब एक घंटे बाद लक्ष्य की डेड बॉडी भी निकाल ली गई थी, जबकि हितेश, रोहित और सौरभ का कुछ पता नहीं चल पा रहा था।

प्रदर्शन के बाद किया गया पानी कम

इस हादसे के दो दिन बीत जाने के बाद एक ओर एनडीआरएफ की टीम और 100 से ज्यादा गोताखोर युवकोें की तलाश में जुटे थे, वहीं उनका पता नहीं चल पाने की वजह से नाराज परिजनों ने उग्र हो सोमवार को रोष प्रदर्शन किया।

- रोहतक-सोनीपत रोड जाम किया गया, वहीं सांपला में दिल्ली-रोहतक रूट पर रोड और रेल दोनों तरह का यातायात बंद कर दिया गया।

- इसके बाद रोहतक के एडीसी अजय कुमार ने लोगों मंगलवार सुबह तक नहर में पानी कम करने का आश्वासन दिया तो दूसरी ओर सीएम तक भी बात पहुंच गई थी। सीएम के आदेश के बाद मंगलवार को ककरोई हेड से नहर का पानी बंद किया गया, जिसके बाद करीब साढ़े 10 बजे गोताखोरों ने तीनों की डेड बॉडी खोज निकाली।

- एक की बॉडी हादसे वाली जगह ही तो दो की लगभग 4 किलोमीटर दूर गढ़ी बिंदरौली के पास पाई गई हैं।

फोटोज: अनिल चौहान