Hindi News »Haryana »Panipat» While Sapna Choudhary Fans Became Angery In Programme

साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां

भिवानी में नगर परिषद के बीजेपी समर्थित चेयरमैन एवं कांग्रेस समर्थित वाइस चेयरमैन के सम्मान में था प्रोग्राम।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 02, 2018, 11:33 AM IST

    • भिवानी में सपना चौधरी के नाम पर जुटी भीड़ उनके नहीं आने से बेकाबू हो गई तो पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी। नगर परिषद के पदाधिकारियों के सम्मान समारोह में किरोड़ीमल पार्क में हुआ था प्रोग्राम।

      भिवानी। भिवानी में रविवार को नए साल की पूर्वसंध्या पर उस वक्त हालात बिगड़ते-बिगड़ते बचे, जब सपना चौधरी के नाम पर एक प्रोग्राम का आयोजन किया गया। सपना के नाम से प्रोग्राम में हजारों की भीड़ उमड़ पड़ी, मगर सपना नहीं पहुंची तो भीड़ को बेकाबू हो गई। ये लोग आए थे सपना का डांस देखने और लौटना पड़ा लाठियां खाकर। पुलिस ने बीच में कार्यक्रम बंद करवाया व भीड़ को खदेड़ा। इस पूरी कवायद में पुलिस को भारी मशक्कत करनी पड़ी व कार्यक्रम बंद होने के बाद ही पुलिस प्रशासन ने राहत की सांस ली। बार-बार दर्शक बेकाबू होते रहे व पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। ये था प्रोग्राम...

      - भिवानी में नव साल की पूर्वसंध्या पर नगरपरिषद के बीजेपी समर्थित चेयरमैन एवं कांग्रेस समर्थित वाइस चेयरमैन के सम्मान में कार्यक्रम का आयेाजन किया गया।
      - कांग्रेस, बीजेपी व इनेलो पार्षदों की रहनुमाई में आयोजित इस बड़े नागरिक अभिनंदन समारोह मे सपना चौधरी के नाम पर उमड़ी भीड़ बेकाबू हो गई।
      - दोपहर तीन बजे कार्यक्रम का समय तय किया गया था, मगर भीड़ सुबह से ही भिवानी के किरोड़ीमल पार्क में पहुंचनी शुरू हो गई थी। कार्यक्रम शुरू हुआ तो लोगों की भीड़ बढ़ती गई।
      - बता दें कि बीजेपी समर्थित चेयरमैन रणसिंह व कांग्रेस समर्थित वाइस चेयरमैन मामनचंद का अभिनंदन समारोह भिवानी में सर्व समाज के बैनर तले आयोजित किया गया था। मंच पर बीजेपी, कांग्रेस व इनेलो के एमसी मौजूद थे।
      - समारोह का प्रचार-प्रसार सपना चौधरी के आगमन के नाम पर किया गया था और भीड़ भी उसी हिसाब से पहुंची थी। पहले भीड़ इसी उम्मीद में देखती रही कि सपना आएगी, मगर सपना नहीं आ रही इसकी भनक चेयरमैन को लगी तो वह पहले ही निकल गए। प्रोग्राम चलता रहा व भीड़ बेकाबू होती दिखी तो पुलिस को मशक्कत करनी पड़ी।

      पहले बच्चों को निकाला गया, फिर हुआ ये सब

      - पहले बच्चों को भीड़ से बाहर निकाला गया व बाद में हुड़दंगियों को निकाला गया। लोग उग्र होते दिखे तो खुद थाना शहर प्रभारी श्रीभगवान मंच पर चढ़े व कार्यक्रम को बंद करने का ऐलान किया। कार्यक्रम बंद होते ही लोगों की भीड़ तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने उसे निकाला।
      - भीड़ में बड़ी तादाद में आई महिलाओं व युवाओं का कहना था कि उन्हें नहीं पता कि कार्यक्रम किसलिए किया जा रहा है, बल्कि उन्हें तो महज ये पता था कि सपना आ रही है। सपना ना आने से उन्हें मायूसी हुई है। उनका कहना था कि भीड़ को जोड़ने के लिए यह पैंतरा अपनाया गया जो गलत है।

      क्या कहते हैं आयोजक

      - पूरे मामले के बारे में जब नगरपरिषद के वाइस चेयरमैन मामनचंद से बात की गई तो उनका कहना था कि उनका कहना था कि सर्वसमाज के द्वारा अभिनंनद समारोह का आयोजन किया गया है।

      - जब उनसे पूछा गया कि सपना के नाम होर्डिंग्स पर दिए गए थे व भीड़ उसके नाम पर जोड़ी गई तो उनका कहना था कि सपना का प्रोग्राम था, मगर वो नहीं आई।

      - जब बेकाबू भीड़ के बारे में उन्हें याद दिलवाया गया कि कोई भी हादसा हो सकता है तो जिम्मेदार कौन होगा तो उन्होंने भी गलती स्वीकारी।

      कौन हैं सपना
      - सपना का जन्म 25 सितंबर 1995 को दिल्ली के महिपालपुर में हुआ था। उनकी शुरुआती शिक्षा रोहतक से हुई क्योंकि वहां उनके पिता एक निजी कंपनी में काम करते थे।

      - 2008 में पिता का निधन हुआ तो सपना की उम्र सिर्फ 12 साल थी। इसके बाद मां नीलम और भाई-बहनों की जिम्मेदारी सपना के कंधों पर आ गई।

      - सपना ने सिंगिंग और डांसिंग को न सिर्फ अपना करियर बनाया, बल्कि इसी के दम पर अपने पूरे परिवार को चलाया। बड़ी बहन की शादी भी सपना ने अपने दम पर की।

      - अब सपना चौधरी के पास बिग बॉस और बॉलीवुड की दो फिल्मों में काम कर चुकी होने की उपलब्धि भी है। हर हफ्त नोमिनेट होने के बावजूद सपना बिग बॉस में पूरे सात हफ्ते रही।

      वीडियो इनपुट: इंद्रवेश दुहन

    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
      सपना के नाम से प्रोग्राम में जुटी हजारों की भीड़। प्रोग्राम 3 बजे का था, मगर लोग सुबह ही आना शुरू हो गए।
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
      पूरा आयोजनस्थल दर्शकों से खचाखच भरा हुआ था, मगर जब सपना नहीं आई तो फैन्स का दिल टूट गया। बेकाबू भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
      भीड़ पर लाठियां चलाते पुलिस वाले। लोगों का कहना है कि सपना के नाम पर सिर्फ भीड़ जोड़ना ठीक नहीं है।
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
      आयोजनस्थल पर प्रस्तुति देते दूसरे कलाकार, जो सपना के फैन्स के गुस्से का कारण बने।
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
    • साल के आखिरी दिन टूटा सपना के फैन्स का दिल, डांस देखने आए-मिली लाठियां
      +10और स्लाइड देखें
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From Panipat

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×