--Advertisement--

पति बरामदे में सोता रहा, पत्नी ने दरवाजा बंद कर लगाया फंदा

पति बरामदे में सोता रहा, पत्नी ने दरवाजा बंद कर लगाया फंदा

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 05:03 PM IST
विलाप करते हुए मृतका के परिजन। विलाप करते हुए मृतका के परिजन।

यमुनानगर। यहां के आजाद नगर में विवाहिता गीता ने सुसाइड कर लिया। उसका शव चुन्नी के फंदे पर लटका मिला। ससुरालियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी और पुलिस मौके पर पहुंची। वहीं सूचना विवाहिता के मायके वालों को भी दी गई। मायके वालों ने पहले तो इस मौत को संदिग्ध बताते हुए पुलिस से जांच की मांग की।

- परिजनों के रोष को देखते हुए मौके पर डीएसपी अनिल कुमार पहुंचे और उन्होंने परिवार को निष्पक्ष जांच का भरोसा दिया।
- इसके बाद भी दोनों परिवारों में बातचीत होती रही। करीब दो घंटे बाद मृतक गीता की मां बंतों देवी ने पुलिस को बयान दिए कि उन्हें किसी पर गीता की हत्या या परेशान करने का शक नहीं है।
- वे इसमें कोई कार्रवाई नहीं चाहते। जिस पर पुलिस ने राहत की सांस ली।
- शहर यमुनानगर थाना के एडिशनल एसएचओ राजिंद्र सिंह का कहना है कि शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया। मामले में 174 की कार्रवाई की गई। परिजनों ने किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया है।

पत्नी बच्चों के साथ सोई थी कमरे में
- आजाद नगर निवासी पवन ने बताया कि उसकी पत्नी गीता बच्चों के साथ कमरे में सोई हुई थी। वहीं वह बरामदे में सोया हुआ था।
- सुबह उठा तो देखा कमरे का दरवाजा बंद था। खिड़की में से देखा तो उसकी पत्नी फंदे पर लटकी हुई थी।
- उसने आसपास के लोगों को बुलाकर किसी तरह दरवाजा खोला और फंदे से पत्नी को उतारा, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।
- पवन का कहना है कि परिवार में किसी तरह का कोई झगड़ा नहीं था। गीता ने ऐसा क्यों किया पता नहीं। इससे पूरा परिवार हैरान है।

आठ साल पहले हुई थी शादी
- दुसानी निवासी बंतों देवी ने बताया कि उसके पास दो बेटियां हैं। गीता की शादी साल 2009 में आजाद नगर निवासी पवन से की थी।
- शादी के बाद उनके पास दो बच्चे हुए। दोनों के बीच किसी तरह का कोई विवाद नहीं था। बंतों ने बताया कि वह अपनी बहन के पास गांव बिटा में गई थी।
- सुबह वहां पर फोन आया कि गीता ने सुसाइड कर लिया है। वह यह सुनकर खुद हैरान है। उनका कहना है कि उन्हें नहीं पता कि उनकी बेटी ने ऐसा क्यों किया।

आगे की स्लाइड्स में देखें अन्य फोटो.....