--Advertisement--

इस गाने का शौकीन था टीचर का हत्यारोपी

इस गाने का शौकीन था टीचर का हत्यारोपी

Danik Bhaskar | Jan 22, 2018, 01:11 PM IST
मृतक प्रिंसिपल रीतू छाबड़ा। (ब मृतक प्रिंसिपल रीतू छाबड़ा। (ब

यमुनानगर। स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल रीतू छाबड़ा का हत्यारोपी छात्र शिवांश गुंबर गानों पर एक्टिंग करने का शौकीन था। वह अकसर यू-ट्यूब पर अपने वीडियो डालता था। शिवांश गुंबर बैकग्राउंड में म्यूजिक लगाकर उन गानों पर एक्टिंग करता था। प्रिंसिपल का मर्डर कर देने के बाद अब शिवांश के ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। 18वीं च मुंडा बदनाम हो गया गाने पर कर रहा था एक्टिंग...

- मर्डर के बाद शिवांश का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में शिवांश पंजाबी गायक मनकीरत औलख के गाने 18वीं च मुंडा बदनाम हो गया की एक्टिंग कर रहा है। बता दें कि शिवांश 10 जनवरी को ही 18 साल का हुआ था।
- गायक मनकीरत औलख हरियाणा के फतेहाबाद के ही हैं। उनका यह गाना यूथ में काफी पॉपुलर रहा है। इस गाने के बोल पर ही शिवांश एक्टिंग कर रहा है।

इसके अलावा भी कई वीडियो हो रहे हैं वायरल
- शिवांश के इस वीडियो के अलावा दो अन्य वीडियो भी वायरल हो रहे हैं। एक वीडियो में वह बॉक्सिंग करता नजर आ रहा है तो दूसरे वीडियो में फिर से वह बैकग्राउंड म्यूजिक लगाकर एक्टिंग कर रहा है।

दो दिन के रिमांड पर है आरोपी शिवांश
- पुलिस ने आरोपी शिवांश को कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमांड पर ले रखा है। उससे पुलिस पूछताछ कर रही है।

आरोपी पिता बोला- बेटे की शिकायतों को कभी गंभीरता से नहीं लिया
- पुलिस पूछताछ में आरोपी छात्र के पिता रणजीत ने बताया कि उसके बेटे ने कभी घर आकर यह नहीं बताया कि पढ़ाई में कमजोर होने पर उसे टीचर डांटती है। बेटे ने कॉमर्स विद इकोनॉमिक्स ले रखी थी। इसलिए वे सोचते थे कि पढ़ने में ठीक होगा।
- हालांकि पीटीएम में छोटी-छोटी शिकायत उसकी टीचर्स करती थीं, लेकिन उन्होंने इसे गंभीरता से नहीं लिया। पूछताछ में रणजीत ने बताया कि शनिवार को वह सुबह करीब 10 बजे घर से अपने काम पर चले गए थे। घर में बेटा और उसकी मां ही थी।
- उन्हें तो दोस्तों से पता चला कि उनके बेटे ने ऐसा कर दिया। उनका कहना है कि उनके पास एक बेटी और एक बेटा है। बेटी की शादी हो चुकी है।

ये था पूरा मामला
- यमुनानगर की थॉपर कॉलोनी स्थित स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल में 12वीं के छात्र शिवांश ने स्कूल प्रिंसिपल की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसने अॉफिस में घुसकर उसने पिता के लाइसेंसी रिवॉल्वर से ताबड़तोड़ 5 गोलियां दागीं, जिनमें से चार प्रिंसिपल के सीने में लगीं।
- जब चपरासी ने आरोपी छात्र का पीछा किया तो उस पर भी फायर किया, लेकिन वह बच गया। 100 मीटर दूर भीड़ ने पकड़कर आरोपी की धुनाई की।
- कॉमर्स संकाय के छात्र शिवांश गुंबर को लेकर टीचर्स की कई शिकायतें थीं। उसे डर था कि प्रिंसिपल रितू छाबड़ा कहीं पेरेंट्स से उसकी शिकायत न कर दें। इसलिए मीटिंग से आधे घंटे पहले उनकी हत्या कर दी।