--Advertisement--

एमपी के डॉक्टर ने ३० रुपए का टोल बचाने को किया हंगामा, अब पड़ेगी इतनी बड़ी मार

एमपी के डॉक्टर ने ३० रुपए का टोल बचाने को किया हंगामा, अब पड़ेगी इतनी बड़ी मार

Dainik Bhaskar

Nov 24, 2017, 07:45 PM IST
a Madhya Pradesh Resident Doctor found in drowsy condition

पानीपत। पानीपत टोल प्लाजा पर 30 रुपए का टोल बचाने के लिए नशे में कार चला रहे मध्य प्रदेश के सरकारी डॉक्टर ने हंगामा कर दिया। जाम लगने पर टोल कर्मी पास में खड़े यातायात पुलिस को बुलाकर लाए। तब भी डॉक्टर अपना रौब जमाता रहा। जांच के दौरान शराब के नशे की पुष्टि हुई तो पुलिस ने उसका ड्रिंक एंड ड्राइव का चालान कर दिया। इसके बाद भी उसके तेवर नरम नहीं पड़े, वह कार छोड़कर मौके से चला गया। 2 घंटे बाद छुड़वाई कार, अब होगा 5000 तक जुर्माना व लाइसेंस सस्पेंशन...

- बाबरपुर ट्रैफिक थाना के प्रभारी महेंद्र सिंह ने बताया कि शुक्रवार को जीटी रोड पानीपत टोल प्लाजा के पास जीरो टोलरेंस सीट बैल्ट-डे पर बगैर सीट बेल्ट लगाकर वाहन चला रहे चालकों के चालान किए जा रहे थे।
- इस दौरान टोल कर्मी ने आकर सूचना दी कि डॉक्टर हर्ष पटेल नाम का युवक हंगामा कर रहा है। मौके पर पहुंचे तो वह नशे में था। उसकी एल्कोहल टेस्टर मशीन से जांच की गई तो वह शराब के नशे में पाया गया।
- इस पर उसका चालान कर दिया गया और उससे आरसी, ड्राइविंग लाइसेंस जमा कराकर कार ले जाने के लिए कहा, लेकिन उसने कागजात देने से मना कर दिया।
- वह पुलिसकर्मियों के सामने हाथ जोड़कर कार छोड़ने के लिए गिड़गिड़ाता रहा। इसके बाद वह पैदल ही वहां से चला गया। करीब दो घंटे बाद उसे लाइसेंस जमा कराया तब पुलिस ने कार छोड़ी।

लाइसेंस तीन माह के लिए सस्पेंड कराएंगे
- डॉ. हर्ष पटेल मध्य प्रदेश के हरदा जिले में चीफ मेडिकल एंड हेल्थ ऑफिसर ऑफिस में बतौर मेडिकल ऑफिसर कार्यरत हैं। वह पानीपत में अपने दोस्त डॉक्टर की शादी में आए थे।
- थाना प्रभारी महेंद्र सिंह का कहना है कि डॉक्टर की जांच में 636 एमएल एल्कोहल पाया गया। एक बोतल पीने पर 500 एमएल एल्कोहल आता है। डॉक्टर का ड्राइविंग लाइसेंस को तीन माह के लिए सस्पेंड करवाया जाएगा, वहीं ड्रिंक एंड ड्राइव का चालान कोर्ट में ही जमा होता है। जज 5000 तक जुर्माना कर सकते हैं।

321 वाहनों के चालान काटे
- ट्रैफिक पुलिस ने शुक्रवार को बगैर सीट बैल्ट लगाकर वाहन चला रहे 321 चार पहिया व हैवी वाहन चालकों के चालान काटकर सभी को सीट बैल्ट लगाने की नसीहत दी। सिंह ने बताया कि सड़क हादसों पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस प्रसाशन द्वारा समय-समय पर आमजन को ट्रैफिक नियमों बारे जानकारी देकर जागरूक किया जाता है।

फोटोज: नवीन कुमार मिश्रा

X
a Madhya Pradesh Resident Doctor found in drowsy condition
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..