Hindi News »Haryana »Panipat» A Taxy Driver Murdered And Fonud In The Taxy On Road

टैक्सी ड्राइवर की गला घोंटकर हत्या, सड़क किनारे गाड़ी में मिली डेड बॉडी

टैक्सी ड्राइवर की गला घोंटकर हत्या, सड़क किनारे गाड़ी में मिली डेड बॉडी

Balraj Singh | Last Modified - Nov 16, 2017, 05:42 PM IST

बल्लभगढ़ (फरीदाबाद)। फरीदाबाद जिले के गांव मुजेसर के रहने वाले टैक्सी चालक की डेड बॉडी गुरुवार को सोतई गांव के पास सड़क किनारे खड़ी उसकी गाड़ी में बैक सीट के नीचे पड़ी मिली। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार उसकी हत्या गला घोंटकर कहीं और की गई है और बॉडी को ठिकाने लगाने के लिए आरोपी उसकी कार सोतई गांव के निकट सड़क किनारे खड़ा करके छोड़ गए। फॉरेंसिक टीम और थाना सदर पुलिस ने मौका मुआयना कर मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी है। कार में मिले गिलास और सोडे की बोतल...

- पुलिस के मुताबिक मृतक की पहचान गांव मुजेसर के 50 वर्षीय विक्रम लांबा के रूप में हुई है। उसके भाई भगत सिंह और भतीजे तरुण ने बताया कि विक्रम टैक्सी चलाता था और टैक्सी को लेकर सेक्टर-22 स्टैंड पर खड़ा होता था।

- 14 नवंबर की शाम तक बुकिंग न मिलने के कारण वह घर चला आया। रात को करीब 1.30 बजे किसी ने विक्रम के पास फोन किया। वह नींद से उठा और घर से दो जोड़ी कपड़े उठाकर स्कॉर्पियो लेकर निकल पड़ा। जाते वक्त वह बच्चों से कह रहा था कि दो दिन में वापस लौटेगा।

- 15 नवंबर की शाम को विक्रम के पड़ोस में रहने वाले कुछ युवकों ने फोन मिलाया तो वह कह रहा था कि बुकिंग पर गया है। आकर सबको पार्टी देगा, लेकिन शाम तक उसका फोन बंद हो गया।
- गुरुवार सुबह सोतई गांव को जाने वाली मुख्य सड़क पर एक ट्रैक्टर चालक ने सड़क के बीचों-बीच स्कोर्पियो खड़ी देखी। जब उसने गाड़ी में झांककर देखा तो बैक सीट के नीचे विक्रम की डेड बॉडी पड़ी थी।
- राहगीर ने सूचना दी तो पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी। शिनाख्त के बाद पुलिस की सूचना पाकर विक्रम के परिजन भी मौके पर पहुंच गए।

पहले नहीं थी गाड़ी, 10 मिनट बाद लौटा राहगीर तो बीच सड़क मिली
- पुलिस को सूचना देने वाले व्यक्ति ने बताया कि वह 8.50 बजे ट्रैक्टर लेकर गांव की तरफ गया था। तब तक स्कोर्पियो वहां नहीं थी, लेकिन जब 10 मिनट बाद लौटा तो स्कोर्पियो सड़क के बीच में खड़ी थी।
- बताया जाता है कि यह सड़क इतनी संकरी है कि यहां से एक वाहन बड़ी मुश्किल से निकल पाता है। जहां सड़क खत्म होती है, वहां यू टर्न भी नहीं है। ऐसे में किसी भी गाड़ी को वापस मोड़ने के लिए उसे सड़क के दोनों तरफ बने खेत में ही उतारना पड़ता है।
- इसके अलावा प्रत्यक्षदर्शी की मानें तो गाड़ी खड़ी करने वाला शख्स उतरकर सोतई गांव की तरफ चला गया।

परिजनों की बताई कहानी पर पुलिस नहीं कर रही यकीन
- क्राइम ब्रांच प्रभारी अशोक कुमार के मुताबिक परिवार के एक-दो सदस्य सही बात नहीं बता पा रहे हैं। कोई कह रहा है कि विक्रम 14 की रात को निकला था, कोई कह रहा है कि वह 15 की रात को निकला। अब पता चला है कि 15 नवंबर की सुबह वह गांव से ही गुड़गांव में बुकिंग पर गया था।

गाड़ी का इंजन था बहुत ज्यादा गर्म

- इसके अलावा पुलिस अफसर की मानें तो जब टीम मौके पर पहुंची तो गाड़ी का इंजन बेहद ज्यादा गर्म था। सुबह 9 बजे से 11.30 बजे तक इंजन इतना हीट फेंक रहा था कि मानो गाड़ी को बहुत दूर से चलाकर लाया गया हो या फिर किसी अनाड़ी शख्स ने उसे पहले या दूसरे गियर में ही काफी देर तक चलाया हो।
- डेड बॉडी भी अकड़ी पड़ी थी। पुलिस के मुताबिक मौत के तीन से चार घंटे के भीतर डेड बॉडी अकड़ना शुरू होती है, जो करीब तीन-चार घंटे तक अकड़ी रहती है। अंदाजा है कि विक्रम की हत्या बुधवार रात 1 से 2 बजे के बीच में हुई होगी।

फोटोज: शिवकुमार

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×