Hindi News »Haryana News »Panipat» Honeypreet Sent In Judicial Custody Again Till 17th Of November | Dera Verdict

हनीप्रीत फिर से ज्यूडिशियल कस्टडी में, अगली सुनवाई 17 नवंबर को

Ujjawal Sharma | Last Modified - Nov 06, 2017, 10:07 PM IST

13 अक्टूबर से हनीप्रीत और उसकी साथ सुखदीप कौर अंबाला सेंट्रल जेल की सिक्युरिटी सेल नंबर 11 में बंद है।
    • अंबाला सेंट्रल जेल में बंद है डेरा प्रमुख राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसां।

      अंबाला। पंचकूला हिंसा मामले में डेरा सच्चा सौदा चीफ गुरमीत राम रहीम सिंह की मुंहबोली बेटी प्रियंका तनेजा उर्फ हनीप्रीत को सोमवार को कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने हनीप्रीत को फिर से 12 दिन के लिए ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया है। बता दें कि डेरा चीफ को यौन शोषण मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद पंचकूला में हिंसा भड़काने के आरोपों में हनीप्रीत नामजद है। 38 दिन फरार रहने के बाद पंचकूला पुलिस ने हनीप्रीत को दो बार करके कुल 9 दिन के रिमांड पर लिया था। इस दौरान कई सारे अहम खुलासे होने की बात कही जा रही है, वहीं 13 अक्टूबर को पुलिस ने उसे फिर से कोर्ट में पेश किया तो कोर्ट ने 23 अक्टूबर तक ज्यूडिशियल कस्टडी में अंबाला सेंट्रल जेल भेज दिया था। इसलिए टल गई थी पिछली सुनवाई...

      - बता दें कि 13 अक्टूबर से हनीप्रीत और उसकी साथ सुखदीप कौर अंबाला सेंट्रल जेल की सिक्युरिटी सेल नंबर 11 में बंद है। कोर्ट ने तय किया था कि हर सुनवाई में वह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश होगी।
      - जब ज्यूडिशियल कस्टडी खत्म होने के बाद हनीप्रीत को 23 अक्टूबर को कोर्ट में पेश किया जाना था, लेकिन उस दिन पंचकूला में वकीलों की हड़ताल के चलते सुनवाई टल गई थी।
      - सोमवार को हनीप्रीत को फिर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश किया तो कोर्ट ने उसे फिर से 17 नवंबर तक ज्यूडिशियल कस्टडी में रहने का ऑर्डर दिया है।
      5 घंटे हुई थी पूछताछ, आमने-सामने बैठी थी हनीप्रीत और विपासना
      - इससे पहले रिमांड की अवधि खत्म होने पर पुलिस ने हनीप्रीत इंसां और डेरे की चेयरपर्सन विपासना इंसां को आमने-सामने बिठाकर 4 घंटे 51 मिनट तक पूछताछ की थी। उस दौरान ये दोनों आपस में भिड़ गईं थी। हनीप्रीत ने हर सवाल में विपासना को घसीटा। विपासना से पुलिस ने करीब 40 सवाल पूछे, लेकिन उसने ठीक-ठीक जवाब किसी का नहीं दिया था।
      - हां, एक बड़ा खुलासा ये हुआ है कि हनीप्रीत ने विपासना और पुलिस के सामने कहा कि 17 अगस्त की मीटिंग में विपासना भी मौजूद थी, लेकिन उसने इस बात से इनकार कर दिया।
      किसलिए हुई थी इतनी कड़ी पूछताछ, क्या निकला?
      - असल में पंचकूला में दंगों की साजिश से लेकर इन्हें अंजाम देने और डेरे में हनीप्रीत के जाने के बारे में पूरी बात को जानने के लिए पुलिस ने विपासना को सेक्टर 23 चंडी मंदिर पुलिस थाने में बुलाया था।
      - लैपटॉप और डायरियोंं की बात पर हनीप्रीत अपने स्टेटमेंट पर अड़ी रही, जबकि विपासना ने पुलिस को सही जवाब नहीं दिए। इसके बाद भी विपासना से पूछताछ हो चुकी है।
      इस तरह हुई थी दोनों में बहस
      - हनीप्रीत: 17 अगस्त को डेरे की मींटिंग की मेरी लीडरशिप में हुई थी। विपासना वहां थी। मैंने उसे देखा भी था शायद।
      - विपासना: मैं डेरे में जरूर होती हूं, लेकिन उसके अलावा भी कई काम होते हैं। ऐसे में मैं उस मीटिंग में आई ही नहीं थी। न ही मुझे जानकारी है। मुझे याद नहीं है, सोचकर बताऊंगी।
      - हनीप्रीत: रोहतक से आने के बाद मैंने डेरे में विपासना से मुलाकात की थी।
      - विपासना: हां, ये डेरे में आई थी, लेकिन उसके बाद चली गई थी।
      - हनीप्रीत: इस मुलाकात के दौरान मैने लैपटॉप, कुछ डॉक्युमेंट्स, डायरी और मोबाइल विपासना इंसां को दिए।
      - विपासना: नहीं, मुझे तो सिर्फ मोबाइल मिला था। उसके अलावा हनीप्रीत ने मुझे कुछ नहीं दिया।
      - हनीप्रीत: नहीं, नहीं, मैंने तो इसे ही सामान के बारे में बताया था, इसे सारी जानकारी है।
      - विपासना: नहीं, मुझे कुछ याद नहीं है कि सामान कहां है। मुझे कुछ समय दिया जाए।
      हनीप्रीत इंसां​ को अंबाला सेंट्रल जेल भेजा, चक्की सेल में रखा
      - हनीप्रीत को पंचकूला पुलिस की एसआईटी ने शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया। कोर्ट में पुलिस ने उसका रिमांड नहीं मांगा। कोर्ट ने उसे ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया।

      डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम​ और हनीप्रीत के बारे में और जानकारियां

      1) 39 दिन गायब रहने के बाद अरेस्ट हुई थी हनीप्रीत इंसां
      - राम रहीम को रेप केस में दोषी करार दिए जाने के बाद हनीप्रीत बाबा गुरमीत राम रहीम के साथ पुलिस के हेलिकॉप्टर से रोहतक की सुनारिया जेल पहुंची थी। इसके बाद से हनीप्रीत इंसां गायब थी। डेरे की चेयरपर्सन विपासना इंसां ने कहा था कि हनीप्रीत इंसां 25 अगस्त की रात को उसके साथ डेरा सच्चा सौदा सिरसा आई थी। इसके बाद अगले दिन वह वहां से निकल गई। 39 दिन उसका कोई अता-पता नहीं चला। 3 अक्टूबर को हनीप्रीत को सुखदीप कौर नाम की महिला के साथ अरेस्ट किया गया था।
      2) पहली पेशी पर हनीप्रीत बोली- बेगुनाह को रिमांड पर भेजा
      - 4 अक्टूबर को हनीप्रीत को कोर्ट में पेश किया गया था। हनीप्रीत इंसां के वकील के मुताबिक, “25 अगस्त के बाद जो घटनाएं हुई हैं, उनमें हनीप्रीत का कोई हाथ नहीं है। उसे जानबूझकर इसमें फंसाया जा रहा है। इतने दिन तक अंडरग्राउंड रहने की वजह के बारे में उसने कहा कि वह डिप्रेशन में थी।"
      3) क्या हुआ था पंचकूला हिंसा में?
      - दो साध्वियों से रेप के मामले में 25 अगस्त को राम रहीम को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने दोषी करार दिया था। इसके बाद डेरा सच्चा सौदा के फॉलोअर्स ने हरियाणा और पंजाब समेत कई राज्यों में हिंसा शुरू कर दी थी। पंचकूला में फॉलोअर्स ने गाड़ियां फूंकी, पेट्रोल पंप जलाया, सरकारी और प्राइवेट दफ्तरों में आगजनी की। सिरसा का भी यही हाल था। हिंसा में 41 लोगों की जान गई, इनमें 36 की जान केवल पंचकूला में ही गई थी।
      4) प्रियंका तनेजा कैसे बनी हनीप्रीत इंसां?
      - हनीप्रीत इंसां के पिता रामानंद तनेजा और मां आशा तनेजा फतेहाबाद के रहने वाले हैं। हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है।
      - हनीप्रीत के पिता राम रहीम के फॉलोअर थे। वे अपनी सारी प्रॉपर्टी बेचने के बाद डेरा सच्चा सौदा में अपनी दुकान चलाने लगे। 14 फरवरी 1999 को हनीप्रीत और विश्वास गुप्ता की सत्संग में शादी हुई। इसके बाद बाबा ने हनीप्रीत को अपनी तीसरी बेटी घोषित कर दिया। हनीप्रीत राम रहीम के प्रोडक्शन में बनी फिल्मों में एक्टिंग और डायरेक्शन भी कर चुकी है।
      5) रेप केस में राम रहीम को कितनी सजा, कोर्ट ने क्या कहा था?
      - 28 अगस्त को डेरा सच्चा सौदा चीफ राम रहीम को दो साध्वियों का रेप करने के केस में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट के जज जगदीप सिंह लोहान ने 10-10 साल की सजा सुनाई थी। सजा के एलान के दिन राम रहीम ने अपने ‘अच्छे काम’ गिनाने के लिए सोशल वर्क्स की बुकलेट भी कोर्ट रूम में पेश की, लेकिन जज ने कहा कि ऐसे शख्स के लिए कोई रहमदिली नहीं दिखा सकते। अपने 9 पेज के ऑर्डर में जज ने कहा- जिसने अपनी साध्वियों को ही नहीं छोड़ा और जो जंगली जानवर की तरह पेश आया, वह किसी रहम का हकदार नहीं है।

    • हनीप्रीत फिर से ज्यूडिशियल कस्टडी में, अगली सुनवाई 17 नवंबर को
      +7और स्लाइड देखें
      राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद रोहतक जेल में भेजे जाने की फाइल फोटो।
    • हनीप्रीत फिर से ज्यूडिशियल कस्टडी में, अगली सुनवाई 17 नवंबर को
      +7और स्लाइड देखें
      राम रहीम के साथ हनीप्रीत।
    • हनीप्रीत फिर से ज्यूडिशियल कस्टडी में, अगली सुनवाई 17 नवंबर को
      +7और स्लाइड देखें
      फिर 38 दिन के बाद पुलिस की गिरफ्त में आई थी हनीप्रीत।
    • हनीप्रीत फिर से ज्यूडिशियल कस्टडी में, अगली सुनवाई 17 नवंबर को
      +7और स्लाइड देखें
      दो बार करके 9 दिन के रिमांड पर लिया था पुलिस ने।
    • हनीप्रीत फिर से ज्यूडिशियल कस्टडी में, अगली सुनवाई 17 नवंबर को
      +7और स्लाइड देखें
      13 अक्टूबर को भेजा गया था अंबाला जेल।
    • हनीप्रीत फिर से ज्यूडिशियल कस्टडी में, अगली सुनवाई 17 नवंबर को
      +7और स्लाइड देखें
      पुलिस पंचकूला से इस तरह लेकर आई थी हनीप्रीत को अंबाला।
    • हनीप्रीत फिर से ज्यूडिशियल कस्टडी में, अगली सुनवाई 17 नवंबर को
      +7और स्लाइड देखें
      हनीप्रीत के घर वाले कई बार आ चुके हैं उससे मिलने। उठ चुके हैं जेल प्रशासन पर सवाल।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Honeypreet Sent In Judicial Custody Again Till 17th Of November | Dera Verdict
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        रिजल्ट शेयर करें:

        More From Panipat

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×