पानीपत

--Advertisement--

हरियाणा में एक बार फिर १३ जिलों में इंटरनेट बंद, जाटों का हिंसक प्रदर्शन

हरियाणा में एक बार फिर १३ जिलों में इंटरनेट बंद, जाटों का हिंसक प्रदर्शन

Danik Bhaskar

Nov 25, 2017, 09:48 AM IST
प्रदर्शनकारियों ने पथराव किय प्रदर्शनकारियों ने पथराव किय

जींद. हरियाणा में जाट आरक्षण के सपोर्ट और विरोध में रविवार को दो रैलियां होनी हैं। इसे देखते हुए राज्य के 11 जिलों में मोबाइल-इंटरनेट सर्विस 26 नवंबर तक बंद कर दी गई है। शनिवार को दिनभर प्रदेश में माहौल तनावपूर्ण रहा। सैनी की रैली को रद्द करवाने की मांग को लेकर आजा किसान मिशन के बैनर तले जाट प्रदर्शनकारियों ने जींद के कंडेला गांव में जमा हो रोड जाम कर दिया। उनका कहना था कि सैनी की रैली रद्द नहीं की गई तो दूसरे रास्ते भी बंद कर दिए जाएंगे। आखिर देर शाम भारी पुलिस बल ने रोड जाम किए बैठे लोगों को उठा दिया। इसी बीच पुलिस की 12 कंपनियों के यहां पहुंच जाने की सूचना भी है। इसलिए बरपा है हंगामा...

- एक रैली जींद में सांसद राजकुमार सैनी करने वाले हैं। वे ओबीसी की 35 कम्युनिटी को आरक्षण देने की मांग कर रहे हैं।

- दूसरी रैली यशपाल मलिक करेंगे। वे जाट कम्युनिटी को आरक्षण देने और जाट आंदोलन के वक्त गिरफ्तार लोगों की रिहाई की मांग कर रहे हैं।

- इससे पहले सैनी की रैली का विरोध शुरू हो गया है। शुक्रवार को जींद में जाट नेता संदीप भारती ने धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस-प्रदर्शनकारियों के साथ हुई झड़प में छह लोग जख्मी हो गए।

इन जिलों में मोबाइल-इंटरनेट बंद

- जींद, भिवानी, हिसार, फतेहाबाद, करनाल, पानीपत, कैथल, सोनीपत, झज्जर, रोहतक और चरखी दादरी में सोमवार रात 12 बजे तक इंटरनेट सर्विस बंद रहेंगी। एडिशनल प्रिंसिपल सेक्रेटरी (होम डिपार्टमेंट) एसएस प्रसाद ने यह ऑर्डर जारी किया है।

एक्स्ट्रा पुलिस फोर्स जींद पहुंची

- रविवार की रैलियों के हिंसा होने का डर है। ऐसे में पुलिस ने एहतियात के तौर पर सरकार से एक्स्ट्रा फोर्स मांगी थी। इसके बाद जींद में पुलिस की 9 कंपनियां पहुंच गईं। इनमें एक महिला पुलिसकर्मियों की कंपनी भी है। पुलिस की 3 कंपनियां आसपास के इलाकों में भी लगा दी गई है।

- राज्य के पुलिस हेडक्वार्टर में सभी ऑफिसर और इम्प्लॉइज का 26 नवम्बर का वीकली ऑफ कैंसिल कर दिया गया है।

झज्जर में 144 धारा लगाई गई
- सैनी और यशपाल की रैलियों के मद्देनजर 26 नवंबर तक झज्जर जिले में धारा 144 लगा दी गई है।

दूसरे गांव में जमा हुए प्रदर्शनकारी
- शुक्रवार को संदीप भारती की अगुआई में जाट कम्युनिटी के सैकड़ों लोगों ने जींद-कैथल हाईवे पर धरना दिया। तीन घंटे तक जाम लगाकर रखा। उनका कहना था कि वे सैनी की रैली नहीं होने देंगे।
- उन्हें सड़क से हटाने पहुंची पुलिस पर पथराव कर दिया गया। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई में लाठीचार्ज किया। इस झड़प में दो पुलिसवालों समेत 6 लोग जख्मी हो गए।
- इस कार्रवाई के बाद अब जाट प्रदर्शनकारी जींद के कंडेला गांव में जमा हो गए। उन्होंने रोड जाम कर रखा है। उनका कहना है कि सैनी की रैली रद्द नहीं की गई तो दूसरे रास्ते भी बंद कर दिए जाएंगे।

कौन हैं राजकुमार सैनी?

- कुरुक्षेत्र से बीजेपी के सांसद राजकुमार सैनी जाट आरक्षण आंदोलन में हुई हिंसा के बाद लाइम लाइट में आए थे।
- उन्होंने जाट के खिलाफ 35 बिरादरी को एकजुट करने के लिए मोर्चा खोल रखा है। वे इन कम्युनिटीज को आरक्षण देने की मांग कर रहे हैं। वे जाट कम्युनिटी पर लगातार विवादित बयान देते रहे हैं।

कौन हैं यशपाल मलिक?
- यूपी के जाट नेता यशपाल मलिक ने जाट आरक्षण संघर्ष समिति बना रखी है। वे जाट आंदोलन के दौरान वे एक्टिव हुए थे।
- वे यूपी के साथ-साथ हरियाणा में भी वे जाट कम्युनिटी के नेता बने हुए हैं और इन्हें आरक्षण देने की मांग करते रहे हैं।
- उन्हीं की कम्युनिटी के कुछ लोग उन पर जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान इकट्ठा किए गए चंदे को हड़पने का आरोप लगा रहे हैं।

- शुक्रवार को उनके विरोधियों ने जसिया में धरना दिया। हालांकि, देर रात पुलिस की समझाइश पर वे वहां से हट गए। उन्होंने रविवार दोबारा प्रदर्शन करने की वॉर्निंग दी है।

कौन हैं संदीप भारती?
- संदीप भारती जाट कम्युनिटी से हैं। उन्होंने आजाद किसान मिशन के नाम से एक संगठन बना रखा है।
- इस संगठन में ज्यादातर जाट युवा हैं। संदीप ने सांसद सैनी के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है।

Click to listen..