--Advertisement--

हनीट्रैप: छात्रा ने ३ को गैंगरेप में फंसा समझौते के मांगे ३० लाख, पेशगी लेते पुलिस ने पकड़ा

हनीट्रैप: छात्रा ने ३ को गैंगरेप में फंसा समझौते के मांगे ३० लाख, पेशगी लेते पुलिस ने पकड़ा

Dainik Bhaskar

Nov 29, 2017, 03:16 PM IST
यमुनानगर में हनीट्रैप के आरोप यमुनानगर में हनीट्रैप के आरोप

यमुनानगर। यमुनानगर में हनी ट्रैप का मामला सामने आया है। ऐसे मामले कई बार सामने आ चुके हैं, वहीं इस बार एक छात्रा ने 3 लोगों पर रेप का मामला दर्ज कराया था। अब उसे खत्म करने के लिए छात्रा ने हर आरोपी से 10 लाख रुपए की मांग कर रही थी, वहीं देर रात उसने एक लाख रुपए पेशगी ले रही थी तो पुलिस ने धर-दबोचा। शिकायत कुछ ही दिन पहले दर्ज हुई थी, जिसके मुताबिक उसने अपने गैंगरेप की घटना अगस्त महीने में हुई बताई थी। पहले सहारनपुर में ऐंठे थे हजारों रुपए...

- पुलिस के मुताबिक शिकायतकर्ता लड़की उत्तरप्रदेश के शामली की रहने वाली है और यहां यमुनानगर के एक निजी कॉलेज में बीए की स्टूडेंट है।

- छात्रा का आरोप था कि उसके साथ रेलवे वर्कशाॅप में काम करने वाले तीन लड़कों ने गैंगरेप किया है। वह एसपी यमुनानगर से मिली तो उनके आदेश पर 13 नवंबर को उसकी शिकायत के आधार पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच-पड़ताल शुरू कर दी थी।

ये था आरोप

- शिकायत के मुताबिक कुछ महीने पहले ट्रेन से यमुनानगर आते हुए उसकी मुलाकात शामली के गांव गगोर गांव के रहने वाले पंकज से हुई थी। तब उसने बताया था कि पंकज जगाधरी वर्कशॉप में नौकरी करता है। उसने यह भी कहा था कि पंकज के कहने पर ही वह होस्टल छोड़कर पीजी में रहने लगी थी।

- उसका आरोप था कि 24 अगस्त को शाम करीब छह बजे पंकज उसके कमरे पर आया था। एक पार्टी का बहाना कर वह उसे रेलवे वर्कशॉप के क्वार्टर में ले आया था।

- यहां पंकज के साथी यूपी के जिला बागपत के गांव हलालपुर वासी संजीव बागपत के सिरसोली के आर्यन भी मौजूद था। तब छात्रा ने कोल्डड्रिंक में नशीली चीज पिलाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था।

ऐसे खुला भेद

- पुलिस के मुताबिक बावजूद इसके शिकायतकर्ता युवती बार-बार आकर इंसाफ की बात करती रही थी। इसके पीछे के मकसद का पता देर रात तब पता चला, जब पुलिस को आरोपियों के रिश्तेदारों ने बताया कि छात्रा उनसे हर आदमी दस-दस लाख रुपए मांग रही है।

- अब एक तरफ पुलिस जाल बिछा चुकी थी, वहीं खुद को पीड़िता बता रही लड़की ने आरोपियों के परिजनों को जूस की एक दुकान पर बुला लिया। दुकान पर जैसे ही उसने एक लाख रुपए पेशगी के रूप में लिए, तुरंत पुलिस ने उसे धर-दबोचा।
- पूछताछ में लड़की ने इससे पहले उत्तरप्रदेश में एक मामले को सिर्फ 35 हजार रुपए ले रफा-दफा करवा देने की बात कबूली है, वहीं अब 30 लाख में सौदा कर एक लाख पेशगी के तौर लेने की बात भी मानी है।

बार-बार बदल रही थी मिलने की जगह

- एसपी राजेश कालिया ने बताया कि इसे पकड़ने में पुलिस को काफी मेहनत करनी पड़ी, क्योंकि छात्रा पैसे लेने के लिए भी आरोपियों के रिश्तेदारों को कभी एक जगह तो कभी दूसरी जगह बुला रही थी। जैसे ही सही समय आया पुलिस ने छात्रा को दबोच लिया।
- एसपी के मुताबिक शुरुआती जांच में छात्रा ने पुलिस को बताया कि इससे पहले उसने सहारनपुर में भी एक व्यक्ति के खिलाफ पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करा कर उससे 35 हजार रुपए ले मामला रफा-दफा करवा दिया था, लेकिन यहां तो तीस लाख रुपए की बात थी। अब भी मामले की जांच जारी है, जिस दौरान पता लगाया जाएगा कि इसके साथ कौन-कौन शामिल हैं। हालांकि फिलहाल लड़की की बुआ और एक अन्य आदमी के साथ मिले होने की संभावना है।

एक नर्स भी फंसा चुकी है 24 डॉक्टर्स व कई अन्य को
- गौरतलब है कि इससे पहले भी एक ऐसा ही मामला यमुनानगर में सामने आया था, जिसमें एक नर्स ने 24 डाक्टरों व कई अधिकारियों को अपने प्रेम जाल में फंसा लाखों रुपए हड़प लिए थे। उसे भी पुलिस ने गिरफ्तार करने के बाद सलाखों के पीछे भेज दिया था।

X
यमुनानगर में हनीट्रैप के आरोप यमुनानगर में हनीट्रैप के आरोप
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..