Hindi News »Haryana »Panipat» Pradyuman Murder Case Ashok Lawyer Give Application For Bail In Court

प्रद्युम्न केसः आरोपी कंडक्टर अशोक के वकील ने कोर्ट में लगाई जमानत अर्जी

प्रद्युम्न केसः आरोपी कंडक्टर अशोक के वकील ने कोर्ट में लगाई जमानत अर्जी

Manoj Kaushik | Last Modified - Nov 10, 2017, 06:17 PM IST

गुड़गांव। प्रद्युम्न मर्डर केस में हरियाणा पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपी अशोक को वकील ने गुड़गांव कोर्ट में जमानत अर्जी लगाई। गुरूग्राम के एडिशनल सेशन जज की कोर्ट में अशोक की जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए सीबीआई की टीम को नोटिस जारी कर जबाव मांगा हैं। अब इस मामले की अगली सुनवाई 16 नवंबर को होगी। पुलिस और रेयास स्कूल पर दर्ज कराएंगे केस...
- अशोक के वकील मोहित वर्मा ने कहा कि अशोक एक बार छूट जाता है तो हम पुलिस और स्कूल मैनेजमेंट के खिलाफ केस करेंगे।
- मोहित ने कहा कि अशोक को पुलिस ने जबरदस्ती मारपीट के बाद यह कबूल करवाया था। उसने यह पहले ही खुलासा कर दिया था।
मेरे बेटे को बलि का बकरा बनाया
- अशोक के पिता अमीरचंद ने कहा, "अब यह पूरी तरह साफ हो गया है कि मेरे बेटे अशोक को बलि का बकरा बनाया गया था। हमने गुड़गांव पुलिस के उन एसआईटी अफसरों के खिलाफ केस दर्ज कराने का फैसला किया है, जिन्होंने अशोक को फंसाया। उसे टॉर्चर किया गया। यहां तक कि ड्रग भी दी गई, ताकि वह मीडिया के सामने हत्या की बात मान ले।"
केस के लिए गांववालों से मांगी मदद
- अमीरचंद ने कहा कि उनके परिवार ने केस दर्ज कराने के लिए गांव वालों से पैसों की मदद मांगी है।
- उन्होंने कहा, "गांव वाले हमारे साथ हैं और वे सब अशोक के लिए इंसाफ और बेपरवाह पुलिस अफसरों के खिलाफ कार्रवाई चाहते हैं।"
सीबीआई ने क्या कहा है?
- सीबीआई ने बुधवार को बताया कि प्रद्युम्न की हत्या के मामले में 11वीं के स्टूडेंट को गिरफ्तार किया गया है। सीबीआई के मुताबिक, आरोपी स्टूडेंट ने पीटीएम और एग्जाम टलवाने के लिए मर्डर किया था।
- वहीं, प्रद्युम्न की फैमिली ने कहा, "हमें शक है कि इस मामले में कोई गहरी साजिश थी और पिंटो फैमिली भी इसका हिस्सा थी। आरोपी स्टूडेंट को फांसी की सजा मिले।'' आरोपी स्टूडेंट को जुवेनाइल कोर्ट ने 3 दिन की रिमांड पर सीबीआई को सौंप दिया है।
सीबीआई ने कंडक्टर को नहीं दी क्लीन चिट
- सीबीआई ने उस थ्योरी को नकारा नहीं है, जिसमें कंडक्टर को आरोपी बनाया गया था। उसने कंडक्टर को क्लीन चिट नहीं दी है।
- सीबीआई का कहना है कि उसने साइंटिफिक एविडेंस के आधार पर आरोपी स्टूडेंट को गिरफ्तार किया है।
आगे की स्लाइड्स में देखें अन्य फोटो.....
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×