Hindi News »Haryana »Panipat» Rewari Police Exposed 69 Incidents Of Bike Theft By Arresting 2 Boys

६० हजार की बाइक चुरा ५ हजार में कर देते थे सौदा, पकड़े गए तो खुले ६९ केस

६० हजार की बाइक चुरा ५ हजार में कर देते थे सौदा, पकड़े गए तो खुले ६९ केस

Balraj Singh | Last Modified - Nov 25, 2017, 06:05 PM IST

रेवाड़ी। रेवाड़ी में पुलिस ने वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है। दो बदमाशों काे पुलिस ने पकड़ा तो उन्होंने ये राज उगलने शुरू किए। ये लोग 60 से 70 हजार रुपए की बाइक चोरी करके हरियाणा के मेवात से लेकर राजस्थान तक महज 5 हजार रुपए में सौदा कर देते थे। अब बाइक चोरी की एक के बाद एक 69 वारदाताें का खुलासा हुआ है। बाइक छीनकर भाग रहे थे, पुलिस ने दबोचा...

- शुक्रवार को गांव खिजुरी निवासी संदीप व उसका एक दोस्त बाइक पर रेजांगला पार्क में आए थे। पार्क से जब वो दोनों वापस जाने के लिए अपनी बाइक पर बैठे तो बदमाशों ने धक्का मारकर दोनों को नीचे गिरा दिया और बाइक छीनकर भागने लगे।
- इसी दौरान माॅडल टाउन थाना की पीसीआर-1 मौके पर पहुंच गई और उसमे तैनात प्रधान सिपाही संदीप व रामफल ने बदमाशों का पीछा कर काबू कर लिया।
- पुलिस ने आरोपियों के पास से एक चोरीशुदा और एक छीनी हुई बाइक भी बरामद की है। पूछताछ में बाइक चोरी की 69 वारदातों का खुलासा किया।
- पकड़े गए आरोपी मेवात जिला के गांव नैवाना निवासी मनोज व गांव पडपडवास निवासी मुनसरीफ हैं, जो अापराधिक किस्म के हैं, जिन पर दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं।
- आरोपी मनोज ने बाइक चोरी की 60 और आरोपी मुनसरीफ ने बाइक चोरी की 9 वारदातों का खुलासा किया है।
- जांचकर्ता एएसआई यशवंत ने बताया कि दोनों आपराधिक किस्म के हैं। मुनसरीफ 25 अक्टूबर को ही नीमका जेल से बाहर आया है और इस पर फरीदाबाद मे 17 अपराधिक मामले मे दर्ज हैं। मनोज पर भी आपराधिक मामले दर्ज हैं।

गैरकानूनी काम का फैला है पूरा नेटवर्क
- इस गैरकानूनी काम का पूरा नेटवर्क फैला हुआ है, जो चोरी की हुई बाइक खरीदकर आगे मेवात, राजस्थान व यूपी तक सप्लाई करते हैं। इस खेल के सरगनाओं तक पहुंचना पुलिस के लिए चुनौती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×