Hindi News »Haryana »Panipat» Seats Has Been Increased At Karnal Aviation Club For The Course Of Piolet

आपके सपनों को पंख लगाने को तैयार है ये क्लब, हर साल देगा ६० पायलेट

आपके सपनों को पंख लगाने को तैयार है ये क्लब, हर साल देगा ६० पायलेट

Balraj Singh | Last Modified - Nov 28, 2017, 06:06 PM IST

करनाल।आसमान में उड़ने का शौक रखते हैं करनाल आइए। यहां स्थित करनाल एविशन क्लब आपके सपनों को पंख लगाने के लिए तैयार है। हालांकि पहले से यहां ऐसा होता आ रहा है, लेकिन अब खुशी की बात ये है कि यहां तीन गुणा ज्यादा लोगों को पायलट बनने का मौका मिल सकेगा। अब एक साल में 20 पायलट की जगह करनाल एविएशन क्लब 60 पायलेट तैयार करेगा। कल्पना चावला ने किया था यहां विमान चालन शुरू...

- बताते चलें कि करनाल फ्लाइंग क्लब करनाल शहर से लगभग 3 किमी पूर्व में स्थित एक हवाई पट्टी है, जिसे स्थानीय लोग करनाल हवाई अड्डा भी कहते हैं।

- यह वही हवाई पट्‌टी है, जहां पहली भारतीय-अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला ने विमान चालन शुरू किया था।
- एयर क्राफ्ट उड़ाने की ट्रेनिंग देने के लिए नॉन मेडिकल के स्टूडेंटस को दाखिला दिया जाता है।
- इच्छुक स्टूडेंट्स को पहले दो सप्ताह तक पढ़ाया जाता है। इसके बाद इनका टेस्ट लिया जाता है, जो टेस्ट में पास हाेता है उन्हें ट्रेनिंग के लिए दाखिले का लेटर भेजा जाता है।
- इसके अलावा बहुत से लोग शौकिया भी हवाई जहाज को पायलट करने की ट्रेनिंग लेते हैं।

तीन गुणा बढ़ी सीटों की संख्या

- हालांकि यहां अब तक हर छह महीने में सिर्फ 10 सीटें होती थी, लेकिन अब करनाल एविएशन क्लब हवाई यात्रा के प्रति लोगों का रुझान बढ़ता जा रहा है। ऐसे में एयर लाइंस में पायलेट की डिमांड बढ़ रही है। करनाल में पायलट की ट्रेनिंग की सुविधा बढ़ाकर छह माह में 10 सीटाें की बजाय 30 कर दी गई है।

कितने दिन का है कोर्स, क्या है फीस
- अब करनाल एविएशन क्लब में हर माह दाखिला दिया जाएगा। पांच साल का ट्रेनिंग कोर्स है, जिसकी फीस 20 लाख रुपए है।
- हालांकि यह विद्यार्थी पर निर्भर है कि वह चाहे तो दो साल में भी इस कोर्स को पूरा कर सकता है, क्योंकि पूरी ट्रेनिंग 200 घंटों की होती है।

40 घंटे की ट्रेनिंग कोर्स की फीस 4 लाख
- इसके अलावा विद्यार्थी श्रेणी के अलावा अन्य 16 से 50 साल की उम्र का कोई भी व्यक्ति एयरक्राफ्ट को उड़ाने की ट्रेनिंग ले सकता है।
- एयर क्राफ्ट उड़ाने के शौकीन लोगों के लिए 40 घंटे की ट्रेनिंग की व्यवस्था भी यहां उपलब्ध है। इसके लिए अभ्यर्थी को मेडिकल सर्टिफिकेट देना होता है, वहीं ट्रेनिंग के लिए चार लाख रुपए की फीस है।

माॅडर्न टेक्नीक से लैस किए क्लास रूम, इंस्ट्रक्टर भी बढ़ाए
- एविएशन क्लब पर ट्रेनी पायलट की पढ़ाई के लिए क्लास रूम को मॉडर्न टेक्निक से लैस किया गया है।
- क्लास में ट्रेनिंग पायलट को अब सफर के दौरान की बारीकियों और सावधानियों को बेहतर ढंग से समझाया जा सकेगा।
- साथ ही ट्रेनी पायलेट को पढ़ाने के लिए जहां पहले एक इंस्ट्रक्टर होता था, अब इनकी संख्या 3 हो गई है।


विस्तारीकरण का प्रोजेक्ट प्रोसेस में है: शर्मा
- करनाल एविएशन क्लब के विस्तारीकरण का प्रोजेक्ट प्रोसेस में है। अब साल में 20 की बजाय 60 ट्रेनर को एयरक्राफ्ट उड़ाने की ट्रेनिंग दी जाएगी। हर माह की शुरुआत में दाखिले होते हैं। शौकिया तौर पर भी 16 से 50 साल तक की उम्र में एयर क्राफ्ट उड़ाने की ट्रेनिंग ली जा सकती है। - मोहित शर्मा, इंचार्ज, एविएशन क्लब करनाल।

फोटोज: चमन लाल

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: kbhi klpnaa chaavlaa ne uड़aayaa thaa yaha vimaan, ab har saal hongae 60 paaylt taiyaar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×