--Advertisement--

दो ट्रकों में टक्कर से सीएनजी किट फटी, आग में दोनों चालक जिंदा जले, परिचालक गंभीर

पंक्चर के बाद टायर बदलने को रोका था ट्रक, दूसरे ट्रक ने पीछे से मारी टक्कर

Danik Bhaskar | Jul 01, 2018, 04:20 AM IST
नागरिक अस्पताल में परिजनों से नागरिक अस्पताल में परिजनों से

झज्जर. टायर पंक्चर के कारण खड़े हुए एक ट्रक में दूसरे ट्रक ने पीछे से टक्कर मार दी। ट्रक में लगी सीएनजी किट फटने से आग लग गई। इससे दोनों ट्रकों के चालकों की मौत हो गई। जबकि खड़े हुए ट्रक का परिचालक गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे झज्जर के नागरिक अस्पताल से पीजीआई रोहतक रेफर किया गया है। हादसा झज्जर के साल्हावास थाने के अंतर्गत आने वाले गांव गोधड़ी के पास हुआ।

पंक्चर होने से टायर बदल रहा था ट्रक चालक व परिचालक, अंधेरा होने से हुआ हादसा

दरअसल, राजस्थान के जिले झुंझुनू के भौजावास का रहने वाला हरीराम पुत्र भगवानराम अपने ट्रक में रोड़ी भरकर दिल्ली की ओर जा रहा था। ट्रक में राजस्थान के परसरामपुरा निवासी परिचालक रघुबीर पुत्र रामकुमार भी था। जब वे गोधड़ी के पास पहुंचे तो ट्रक के टायर में पंक्चर हो गया। वे ट्रक रोककर टायर बदलने के लिए ट्रक के नीचे घुस गए। उसी दौरान चने से भरा ट्रक आया और उसने खड़े ट्रक में पीछे से जोरदार टक्कर मारी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि खड़े हुए ट्रक में लगी सीएनजी किट फट गई और आग लग गई। आग की लपटें इस कदर फैली कि हादसे को अंजाम देने वाले ट्रक चालक देवेन्द्र को बाहर निकलने का मौका ही नहीं मिल पाया और वहीं झुलसकर दम तोड़ दिया। वहीं, दूसरे ट्रक का चालक हरीराम भी आग की चपेट में आ गया। परिचालक रघुबीर को भी गंभीर चोटें आई हैं।

हादसे के बाद फटी सीएनजी किट, आग लगते ही लपटों से घिर गए सभी

हादसा इतना भयानक था कि दो ट्रकों में लगी आग को काबू करने के लिए दमकल दस्ते को बुलाना पड़ा। जब दमकल ने आग बुझाई तो एक-एक करके दो जले हुए शव निकले। हालांकि जिस ट्रक में पंक्चर लग रहा था उस ट्रक के नीचे बैठा उसका परिचालक बच गया, लेकिन टक्कर में वो बुरी तर घिसटकर चोटिल हुआ। उसने किसी तरह ट्रक के अंदर से निकलकर जान बचाई। वह जब बाहर आया तब तक दोनों ट्रक सीएनजी किट के धमाके के बाद फैली आग में घिर चुके थे। बताया गया कि चालक हरीराम पुत्र भगवानराम अपने साथी परिचालक रघुबीर पुत्र रामकुमार निवासी परसरामपुरा राजस्थान का ट्रक शुक्रवार रात सवा गयारह बजे गोधड़ी गांव के पास पंचर हो गया। इसके बाद ट्रक के स्टाफ ने लोड गाड़ी होने के कारण सड़क के बीच में ही पंक्चर लगाना शुरू कर दिया। ट्रक के न तो इंडीकेटर जल रहे थे, न ही उसमें रिफलेक्टर लगे थे। गांव के रोड पर अंधेरा भी था, लिहाजा पीछे से तेज गति से एक ट्रक आया और बीच सड़क पर ट्रक खड़ा देख पहले तो इसके चालक ने संतुलन खोकर खड़े ट्रक में जोरदार टक्कर मारी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि खड़े ट्रक में सीएनजी किट होने की वजह से वह फट गई और उसमें अचानक आग लग गई।

घायल परिचालक को पीजीआई किया रेफर
हादसे में परिचालक रघुबीर को काफी चोट आई है जिसे उपचार के लिए झज्जर के नागरिक अस्पताल में भर्ती करने के बाद रोहतक पीजीआई रैफर कर दिया गया। हादसे की सूचना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर हादसे का शिकार हुए दोनों ट्रकों के चालकों के शवों को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के हवाले किया।