Hindi News »Haryana »Panipat» Gangster Balraj Bhati Dead In Police Encounter

ढाई लाख के ईनामी गैंगस्टर बलराज भाटी का एनकाउंटर, नोएडा में हुई पुलिस मुठभेड़

हरियाणा, यूपी और दिल्ली में था ईनाम।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 23, 2018, 08:04 PM IST

  • ढाई लाख के ईनामी गैंगस्टर बलराज भाटी का एनकाउंटर, नोएडा में हुई पुलिस मुठभेड़
    +1और स्लाइड देखें
    एनकाउंटर में मारा गया बलराज भाटी।

    गुड़गांव। दिल्ली,यूपी और हरियाणा में गैंगवार को अंजाम देने वाला गैंगस्टर बलराज भाटी का हरियाणा पुलिस ने उत्तरप्रदेश के नोएडा में एनकाउंटर कर दिया। गुड़गांव एसटीएफ दस दिन से मुखबिरों के जरिए आरोपी पर नजर रख रही थी। सोमवार को उसको मार दिया गया। बता दें कि बलराज पर दिल्ली, यूपी और हरियाणा में कुल ढ़ाई लाख रुपये ईनाम था। पढ़िए पूरा मामला...

    - एसटीएफ गुड़गांव के आईजी सौरभ सिंह ने बताया कि डीएसपी राहुल देव की अगुआई में नोएडा पुलिस के साथ सेक्टर 49 में बलराज भाटी को एनकाउंटर किया।
    - आरोपी स्विफ्ट कार से तीन साथियों के साथ आ रहा था। एसटीएफ के निरीक्षक सुरेन्द्र ने उसे रुकने की कोशिश की। जिस पर आरोपी ने पुलिस की गाड़ी को हिट कर भागने लगा।
    - आगे बदमाशों को रास्ता न मिलने के कारण कार से उतरकर भागने लगे। आरोपियों ने पुलिस ने बचने के लिए अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। जबावी कार्रवाई में बलराज मारा गया जबकि दो बदमाश भागने में सफल हो गए।
    - उन्होंने बताया कि बलराज भाटी हरियाणा से एक लाख, दिल्ली व यूपी को मिलकर कुल ढाई लाख का ईनाम था। इस मुठभेड़ के दौरान पास से ही गुजर रहा एक बच्चा और एक युवक गोली के छर्रे लगने से घायल हो गए हैं।
    - दोनों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसमें गुड़गांव एटीएफ हवलदार राज कुमार व भूपेन्द्र गोली लगने से घायल हो गए हैं। उनका उपचार चल रहा है।
    - उन्होंने बताया कि बलराज भाटी सुंदर भाटी गैंग का प्रमुख शूटर था। आरोपी पर हरियाणा में मर्डर और सुपारी लेकर मर्डर करने के भी मामले दर्ज है। उन्होंने बताया कि आरोपी दिल्ली,यूपी व हरियाणा में करीब 19 केस दर्ज है।
    - फरीदाबाद में सुपारी लेकर मर्डर किया था। गैंगस्टर बलराज भाटी का एनकाउंटर करने वाली हरियाणा एसटीएफ की टीम को ईनाम मिलेगा। इसकी घोषणा डीजीपी बी एस संधू ने किया है।

    पिछले साल जून में पुलिस की गिरफ्त से बचा था
    - स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) के साथ हुई मुठभेड़ में मारा गया कुख्यात बदमाश बलराज भाटी गुड़गांव को पनाह गाह के रूप में इस्तेमाल करता था। पिछले तीन माह में गुड़गांव कई बार आ चुका था। इससे पहले 7 जून 2017 को बलराज गैंग से फरीदाबाद एवं गुड़गांव पुलिस की संयुक्त टीम की खांडसा गांव के पास खुले शराब के ठेके में मुठभेड़ हुई थी।
    - ठेके के पीछे ही शराब पिलाने वाला अहाता था। जिसकी दीवार फांद कर बलराज भाग गया था। उसका गुर्गा जयवीर पुलिस द्वारा चलाई गई जवाबी फायरिंग में पैर में लगी गोली से घायल हो गया था। जिसे पुलिस ने पकड़ इलाज कराने के बाद जेल भेज दिया था। बलराज के शहर में रुकने के कई ठिकाने थे।
    - कई जगहों पर वह नाम व हुलिया बदलकर भी रुकता था। कई मामलों में बलराज सीधे तो शामिल नहीं था। मगर उसके गुर्गों के शामिल होने की बात भी सामने आई थी।

  • ढाई लाख के ईनामी गैंगस्टर बलराज भाटी का एनकाउंटर, नोएडा में हुई पुलिस मुठभेड़
    +1और स्लाइड देखें
    हरियाणा, दिल्ली और उत्तरप्रदेश में ईनामी था बलराज।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×