--Advertisement--

फेसबुक पर हुई दोस्ती, युवती के परिजनों को पता चला तो युवक को बुलवाकर मार डाला

पानीपत में ईएसआई अस्पताल के सामने मिले शव की तीसरे दिन शिनाख्त, तब हुआ खुलासा

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 10:28 AM IST
honour killing in panipat

पानीपत/इसराना. लड़की के प्रेम संबंधों से खफा परिजनों ने उसके प्रेमी की हत्या कर शव पानीपत ईएसआई अस्पताल के गेट के सामने फेंक दिया। तीन दिन बाद रविवार को सोशल मीडिया पर डाली गई फोटो से मृतक की पहचान हुई। तब इसका खुलासा हुआ। युवक के पिता ने हत्याकांड में लड़की के पिता समेत 6 लोगों के शामिल होने का आरोप लगाया है। इसके बाद पुलिस ने लड़की के पिता समेत तीन लोगों को थाने लाकर पूछताछ की। अन्य परिजन घर से फरार हैं। लड़की कहां है, यह भी अभी पता नहीं चल पाया है। हालांकि, पुलिस ने मामले में अभी कोई खुलासा नहीं किया है। सिटी थाना एसएचओ दीपक कुमार ने कहा कि सभी पहलुओं पर जांच की जा रही है।

रोडवेज में भंडारे के बाद हरिद्वार जाने की बात कहकर निकला था: पानीपत के परढ़ाना निवासी सतीश ने बताया कि उसका बेटा मनजीत (30) गांव के पास बनी अल्ट्राटेक सीमेंट फक्ट्री ै में कैंटीन चलता था। वह पानीपत रोडवेज में ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए ट्रेनिंग ले रहा था। 9 अगस्त की शाम को वह रोडवेज में भंडरा होने की बात कहकर बाइक पर घर से निकला था। उसने कहा था कि वह भंडारे से ही हरिद्वार चला जाएगा। रात 9 बजे फोन किया तो मोबाइल स्विच ऑफ मिला। इसके बाद तलाश करने में लग गए, लेकिन कोई पता नहीं चल पाया।

सोशल मीडिया पर डाली गई फोटो से हुई पहचान: 10 अगस्त को सुबह सिविल अस्पताल में ईएसआई हॉस्पिटल के गेट के सामने अज्ञात युवक का शव मिला था। उसके पास से ऐसा कोई प्रूफ नहीं मिला, जिससे पहचान हो पाए। पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराकर शव को सिविल अस्पताल के मॉर्चरी हाउस में रखवा दिया। पहचान के लिए पुलिस ने सोशल मीडिया पर मृतक की फोटो डाल रखी थी। रविवार को यह फोटो परिजनों तक पहुंच गए। इस पर पिता व अन्य परिजन सुबह बस स्टडैं चौकी पहुंचे। शव देखकर पिता ने बेटे को पहचान लिया। सतीश ने बताया कि मनजीत की फेसबुक के जरिए गांव रेरकलां की एक युवती से दोस्ती हुई थी। दोनों के बीच बातचीत होने लगी। युवती कॉलेज में पढ़ती है। लड़की के परिजनों को पता चला तो उन्होंने मनजीत को फोन कर रेरकलां बुलाया। वहां उसकी हत्या कर दी और शव अस्पताल के सामने फेंक दिया। मनजीत शादीशुदा था। उसके दो लड़के हैं। दो भाइयों में वह छोटा था। पिता पब्लिक हेल्थ में कार्यरत हैं।

X
honour killing in panipat
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..