Hindi News »Haryana »Panipat» जेबीटी कोर्स कर रहे छात्र अध्यापकों को टीचिंग प्रैक्टिस कराएगा भिवानी बोर्ड

जेबीटी कोर्स कर रहे छात्र अध्यापकों को टीचिंग प्रैक्टिस कराएगा भिवानी बोर्ड

डिस्ट्रिक्ट इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन एंड ट्रेनिंग (डाइट) पानीपत समेत अन्य निजी शिक्षण संस्थानों के छात्र...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 03:15 AM IST

डिस्ट्रिक्ट इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन एंड ट्रेनिंग (डाइट) पानीपत समेत अन्य निजी शिक्षण संस्थानों के छात्र अध्यापकों को हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड टीचिंग प्रेक्टिस (टीपी) की ट्रेनिंग कराएगा। यह ट्रेनिंग 23 अप्रैल से शुरू होगी। इसके लिए बोर्ड ने प्रदेश के सभी डाइट में सूचना भेज दी है। यहां से अन्य सरकारी व निजी शिक्षण संस्थानों में सूचना भेज दी गई है। डाइट में पढ़ाई कर रहे छात्र अध्यापकों को किताबी ज्ञान के साथ-साथ सरकारी स्कूलों में भेजकर विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए भी तैयार किया जाता है। इसके लिए उन्हें कक्षाअों को पढ़ाने की जिम्मेदारी सौंपी जाती है। अब तक यह कोर्स 6 महीने का कराया जाता था, लेकिन अब बोर्ड द्वारा जारी किए गए नए शेड्यूल के अनुसार एक महीने का ही प्रशिक्षण दिया जाएगा।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने जारी किया नया शेड्यूल, 23 अप्रैल से शुरू होगी ट्रेनिंग

10 अप्रैल को शुरू हुई ट्रेनिंग कर दी थी बंद

छात्र अध्यापकों को स्कूलों में विद्यार्थियों को पढ़ाने के लिए 10 अप्रैल को स्कूलों में पहुंचने के निर्देश जारी कर दिए थे। 11 अप्रैल को छात्र अध्यापकों ने विद्यार्थियों की कक्षाएं भी ली थी, लेकिन इसी दिन बोर्ड ने पत्र जारी करके टीचर प्रैक्टिस को रोक दिया था। अब दोबारा पत्र आया है। डाइट में छात्र अध्यापकों की संख्या 100 है। बाकी अन्य 16 शिक्षण संस्थानों में 50-50 सीटें हैं। सभी को मिलाकर 900 सीटें बनी हैं।

सभी छात्र अध्यापकों को टीचर प्रैक्टिस के लिए उनके संबंधित संस्थानों के माध्यम से सूचनाएं भेजी जा रही हैं। छात्र अध्यापकों का आह्वान किया गया है कि वे नियमित प्रैक्टिस करें। बच्चों को पढ़ाने के तरीके सीखने का यही सही समय होता। इसका सही तरीके से लाभ उठाएं। जितेंद्र, इंचार्ज, डाइट, पानीपत।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×