• Home
  • Haryana
  • Panipat
  • 95 विभागों में 849 सीटों के बावजूद 292 को ही दिया काम
--Advertisement--

95 विभागों में 849 सीटों के बावजूद 292 को ही दिया काम

जिले के 95 विभागों के अधिकारियों के कार्यों की समीक्षा के लिए सोमवार को लघु सचिवालय में डीसी सुमेधा कटारिया की...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:15 AM IST
जिले के 95 विभागों के अधिकारियों के कार्यों की समीक्षा के लिए सोमवार को लघु सचिवालय में डीसी सुमेधा कटारिया की अध्यक्षता में बैठक हुई। डीसी ने कहा कि पानीपत के 95 विभागों के लिए सरकार ने 849 सीट निर्धारित की थीं, लेकिन संबंधित विभागों के अधिकारियों की लापरवाही के कारण अब तक केवल 292 शिक्षुओं को काम दिया गया है। उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि जो छात्र आईटीआई या जेई का कोर्स करते हैं, उन्हें सरकार की ओर से शिक्षुता प्रशिक्षण दिया जाता है ताकि वे अच्छे संस्थानों में रोजगार प्राप्त करके अपनी आर्थिक स्थिति मजबूत कर सकें।

डीसी ने कहा कि हरियाणा सरकार शिक्षित नवयुवकों के कौशल विकास के लिए अनेक योजनाएं चला रही है। सरकार ने पलवल में कौशल विकास विश्वविद्यालय भी स्थापित किया है। लेकिन कुछ लापरवाह अधिकारी रोजगार की तलाश करने वाले छात्रों को जब शिक्षुता प्रशिक्षण पूरा करने का अवसर ही नहीं देंगे तो इन नवयुवकों को अच्छा रोजगार कैसे प्राप्त होगा। एक तरफ विभागाध्यक्ष अपने-अपने कार्यालयों में कर्मचारियों की कम संख्या होने का बहाना बनाते हैं। डीसी ने अगली बैठक में निर्धारित सभी 849 सीटों को हर हाल में भरने के निर्देश दिए हैं। जो अधिकारी इस कार्य में सहयोग नहीं देंगे, उनके विरुद्ध कड़ी प्रशासनिक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। बैठक में आईटीआई पानीपत के प्राचार्य धर्मेंद्र सिंह और जूनियर प्लेसमेंट अधिकारी ने कौशल विकास से संबंधित योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान एसडीएम विवेक चौधरी, सीटीएम संजय कुमार, समालखा के एसडीएम गौरव कुमार विशेष रूप से मौजूद रहे।

कार्यों की समीक्षा

लघु सचिवालय में डीसी सुमेधा कटारिया ने 95 विभागों के अधिकारियों की बैठक ली, खाली सीटों को अगली बैठक तक हर हाल में भरने के दिए निर्देश

पानीपत. विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक लेतीं डीसी सुमेधा कटारिया।

पानीपत. विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक लेतीं डीसी सुमेधा कटारिया।