Hindi News »Haryana »Panipat» सेक्टर-25 और 29 की स्ट्रीट लाइटें खराब अंधेरे में लोगों का घर से निकलना मुश्किल

सेक्टर-25 और 29 की स्ट्रीट लाइटें खराब अंधेरे में लोगों का घर से निकलना मुश्किल

सेक्टर-25-29 इन दिनों पिछड़ गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि शाम होते ही सड़कें अंधेरे में डूब जाती हैं। कई महीनों से सेक्टर...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:25 AM IST

सेक्टर-25 और 29 की स्ट्रीट लाइटें खराब अंधेरे में लोगों का घर से निकलना मुश्किल
सेक्टर-25-29 इन दिनों पिछड़ गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि शाम होते ही सड़कें अंधेरे में डूब जाती हैं। कई महीनों से सेक्टर की स्ट्रीट लाइट्स बंद पड़ी हंै। इस अंधेरे में बच्चों और महिलाओं का घर से बाहर निकलना बेहद मुश्किल हो गया है। लोगों ने बताया कि हर दिन चोरी व झपटमारी जैसी वारदात हो रही हैं। यहां लोगों को गलियों में रोशनी के लिए अपने अपने घरों के बाहर लाइटें जला कर रखनी पड़ रही हैं। स्थानीय लोग कई बार शिकायत दे चुके हैं। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इसके अलावा कई जगह ऐसी भी है जहां दिन भी स्ट्रीट लाइट जलती रहती है।

शहर के सेक्टरों के साथ-साथ मुख्य सड़कों की स्ट्रीट लाइट भी बंद पड़ी हैं। संजय चौक से लेकर गोहाना रोड तक दोनों ओर 14, लाल बत्ती से बस स्टैंड दोनों ओर 11, संजय चौक से लाल बत्ती तक 16, तहसील कैंप में 6, लाल बत्ती चौक से छोटू राम चौक तक 9, सनौली रोड से बबैल नाके तक 15, इसके अलावा शहर कई जगहों पर स्ट्रीट लाइट बंद है।

लाइव रिपोर्ट : सेक्टर-29 से बबैल नाके तक 39 स्ट्रीट लाइट बंद, बढ़ रही हैं चोरी की घटनाएं

पानीपत. सेक्टर-25 में बंद पड़ी स्ट्रीट लाइट।

थाना चांदनी बाग के पास चौराहे पर भी स्ट्रीट लाइट बंद

सेक्टर-29 विश्व कर्मा चौक से लेकर बबैल नाके तक 39 स्ट्रीट लाईट बंद है। सेक्टर-25 थाना चांदनी बाग के पास चौराहे पर भी स्ट्रीट लाइट बंद है। रात को गुजरने वाले यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। क्योंकि निर्माणाधीन अग्रसेन चौराहा बन रहा है जिससे रास्ता भी कच्चा है। स्ट्रीट लाइट बंद होने से चारो ओर से वाहन आते हैं। इसमें बाइक चालाकों को गिरने का ज्यादा खतरा बना रहता है।

सेक्टर-25 से लेकर मित्तल मेगा रोड मलिक पेट्रोल पंप तक 26

सेक्टर-25 थाना चांदनी बाग थाने के पास बने चौराहे से लेकर मित्तल मेगा मॉल तक एक भी स्ट्रीट लाइट नहीं जलती। रोजाना हादसे हो रहे हैं। इसी रास्ते पर मलिक पेट्रोल पंप तक 26 स्ट्रीट लाइट बंद हैं। 11 स्ट्रीट लाइट पोल टूटे हुए भी है। थाना चांदनी बाग से लेकर जीटी रोड स्थित मित्तल मेगा मॉल तक एक ही रास्ता खुला हुआ। इस रास्ते की ज्यादातर स्ट्रीट लाइट बंद ही रहती है।

तीन माह में पांच वारदात

गत तीन माह में स्ट्रीट लाइट बंद होने से पांच वारदात भी हो चुकी है। इसके अलावा वे वारदात भी है जिनकी शिकायत नहीं होती है। तीन दिन पहले सेक्टर-29 सज्जन चौक के पास घर जा रहे दो लोगों से मारपीट गी गई। विश्वकर्मा चौक पर 5 दिन पहले दो मोबाइल छीनने की वारदात हुई।

कई बार शिकायत दे चुके हैं पर कार्रवाई नहीं : सतीश

सेक्टर-24 के रेजिडेंट वेलफेयर सोसायटी के प्रधान सतीश गुप्ता ने बताया कि स्ट्रीट लाइट कई महीनों से बंद है। ठेकेदार, जेई और एक्सईएन को कई बार शिकायत दे चुके हैं, लेकिन कोई कार्रवाई ही नहीं कर रहे हैं। कई बार मौके पर भी बुलाया गया है। परंतु अधिकारी मौके पर नहीं आते हैं।

अधिकारी टेंडर लगाने का बहाना बनाते हैं : भीम सिंह

डायर्स एसोसिएशन के प्रधान भीम सिंह राणा ने बताया कि अधिकारी हर बार टेंडर लगाने का बहाना बनाते रहते हैं। तीन माह से कह रहे हैं कि सेक्टर-29 को 150 एलईडी स्ट्रीट लाइट मिलेंगी। लेकिन अभी तक एक भी लाइट नहीं लगी है। जो पुरानी स्ट्रीट लाइट लगी हुई है वो भी ठीक से नहीं जलती हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×