Hindi News »Haryana »Panipat» जिले की कुल आबादी 14 लाख, करीब 40 हजार लोग उच्च रक्तचाप से ग्रस्त

जिले की कुल आबादी 14 लाख, करीब 40 हजार लोग उच्च रक्तचाप से ग्रस्त

विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर सिविल अस्पताल में बीपी जांच शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का शुभारंभ सिविल सर्जन डाॅ....

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:25 AM IST

जिले की कुल आबादी 14 लाख, करीब 40 हजार लोग उच्च रक्तचाप से ग्रस्त
विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर सिविल अस्पताल में बीपी जांच शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का शुभारंभ सिविल सर्जन डाॅ. संतलाल वर्मा ने किया। इस दौरान उन्होंने बताया कि उच्च रक्तचाप को संतुलित भोजन, व्यायाम से नियंत्रित किया जा सकता है। प्राथमिक रोकथाम के लिए आहार में सोडियम की मात्रा को सीमित रखें तथा फलों सब्जियों को अधिक शामिल करें। इसी उद्देश्य से सिविल अस्पताल में जांच शिविर का आयोजन किया गया है। शिविर के दौरान 155 मरीजों के बीपी की जांच की गई।

मौत का कारण बन सकता है अनियंत्रित उच्च रक्तचाप: शिविर के दौरान डाॅ. नवीन सुनेजा, डाॅ. मनीष पाशी, डाॅ. आलोक जैन ने भी मरीजों को जागरूक किया। उन्होंने बताया कि अनियंत्रित उच्च रक्तचाप बेहद खतरनाक होता है, जो हृदय, गुर्दे मस्तिष्क को क्षतिग्रस्त कर सकता है। यदि समय पर संपूर्ण उपचार नहीं किया जाए तो इससे मरीज की मौत भी हो सकती है। भारत में हर तीन व्यस्क में से एक के उच्च रक्तचाप से ग्रसित होने का अनुमान है।

शहरी क्षेत्र में होते हैं अधिक मरीज : सिविल अस्पताल के सिविल सर्जन डाॅ. संतलाल वर्मा ने बताया कि एक अध्ययन के अनुसार शहरी क्षेत्र में 42 और ग्रामीण क्षेत्र के 25 प्रतिशत व्यक्ति उच्च रक्तचाप से पीड़ित हैं। इससे बचने के लिए लोगों को शराब और धूम्रपान बिल्कुल बंद करना चाहिए। खाने में नमक की मात्रा भी कम लेनी चाहिए।

पानीपत. विश्व उच्च रक्तचाप दिवस पर आयोजित शिविर में लोगों को जागरूक करते हुए शिविल सर्जन डॉक्टर संतलााल वर्मा। फोटो | भास्कर

ऑटो में डिलीवरी मामले की सीएमओ ने मांगी जांच रिपोर्ट

पानीपत| सिविल अस्पताल में इमरजेंसी गेट पर बुधवार को डिलीवरी के दौरान बच्चे की मौत के मामले में सीएमओ ने गुरुवार को ददलाना सीएचसी के डॉक्टर से जांच रिपोर्ट मांगी है। सीएमओ ने शुक्रवार तक जांच रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने कहा कि गर्भवती महिला को कभी भी ऑटो में नहीं लाना चाहिए। उस क्षेत्र की आशा वर्कर व एएनएम से भी पूछे कि चूक कहा हुई है। सीएमओ डाॅ. संतलाल वर्मा ने बताया कि ये गंभीर विषय है।

शहर के लोगों की लाइफ

स्टाइल व्यस्त

सिविल अस्पताल के डाॅ. नवीन सुनेजा ने बताया कि जिले की 14 लाख की आबादी में करीब 40000 हजार लोग उच्च रक्तचाप की बीमारी से ग्रस्त हैं। इनमें शहरी लोगों की संख्या ज्यादा है। क्योंकि शहरी लोगों की लाइफ स्टाइल बहुत ही व्यस्त है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Panipat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×