--Advertisement--

28 मई को केरल पहुंच सकता है मानसून, हरियाणा में जून के तीसरे हफ्ते में उम्मीद

अमूमन हर साल केरल के तट पर 1 जून और हरियाणा में 25 जून से 5 जुलाई के बीच दस्तक देता है मानसून।

Danik Bhaskar | May 15, 2018, 05:48 AM IST
अगर मानसून पहले आया तो गर्मी क अगर मानसून पहले आया तो गर्मी क

पानीपत/चंडीगढ़. मानसून इस बार 4 दिन पहले केरल तट पर दस्तक दे सकता है। मौसम का आकलन करने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक मानसून दक्षिण पश्चिम 28 मई को केरल पहुंच जाएगा। इससे पहले मानसून के 24 मई को श्रीलंका और फिर आगे पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी की तरफ बढ़ने का अनुमान है। आमतौर पर मानसून एक जून को केरल पहुंचता है।

हरियाणा में जून के तीसरे हफ्ते में उम्मीद

- अगर मानसून की गति व दिशा सही रही तो हरियाणा में यह जून के तीसरे हफ्ते में पहुंच सकता है। हालांकि, अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है। प्रदेश में मानसून अमूमन 25 जून से 5 जुलाई के बीच आता रहा है।

- प्री-मानसून की दस्तक जून के दूसरे हफ्ते के अंत तक हो जाती है। इस बार ज्येष्ठ के दो महीने हैं। इनमें अधिक गर्मी का अनुमान है, लेकिन पश्चिम विक्षोभ से कई बार आ चुकी आंधी-बारिश से लोगों को गर्मी से राहत मिली है। अगर मानसून पहले आया तो गर्मी कम झेलनी पड़ेगी और धान की रोपाई भी समय पर हो जाएगी।

16 से 19 मई के बीच बूंदाबांदी के आसार
- आंधी-बारिश और ओलावृष्टि के अगले ही दिन सोमवार को प्रदेश के कई जिलों में पारा 40 डिग्री के पार पहुंच गया। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिम विक्षोभ के कारण हरियाणा में 16 मई से फिर से मौसम बदल सकता है। 19 मई तक कहीं-कहीं बूंदाबांदी के आसार हैं।