--Advertisement--

ओवरटेक कर रही स्कूल बस की डंपर से टक्कर, 3 बच्चों समेत 5 की मौत 14 गंभीर

इनमें से ज्यादातर की हालत गंभीर बनी हुई है, जिन्हें रोहतक पीजीआई रेफर किया गया है।

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 10:28 AM IST
घायलों को रोहतक पीजीआई लेकर जाते हुए। घायलों को रोहतक पीजीआई लेकर जाते हुए।

चरखी दादरी/रोहतक। दादरी-झज्जर रोड स्थित अचीना ताल के समीप सोमवार दोपहर बीएसवीएन सीनियर सेकंडरी स्कूल बस और ओवरलोड डंपर में हुई सीधी टक्कर में तीन बच्चों और चालक-परिचालक समेत 5 लोगों की मौत हो गई। 14 बच्चों को गंभीर हालत में रोहतक पीजीआई में भर्ती कराया गया है।

- सोमवार दोपहर करीब सवा दो बजे छुट्टी के बाद मिनी बस से 18 बच्चे अपने गांव अचीना और भागेश्वरी जा रहे थे। बस बिगोवा अप्रोच रोड व अचीना ताल के बीच पहुंची थी कि सामने से आ रहे क्रशर से भरे डंपर के साथ बस की सीधी टक्कर हो गई। टक्कर इतनी तेज थी कि बस के परखच्चे उड़ गए।

- बस में सवार 6 वर्षीय ऋषभ व 40 वर्षीय परिचालक राकेश की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं सिविल अस्पताल में 11वीं के छात्र गांव भागेश्वरी निवासी सोनू ने भी दम तोड़ दिया। करनाल निवासी डंपर चालक अशोक कुमार पर केस दर्ज किया गया है।

इनकी हुई मौत
- 40 वर्षीय परिचालक राकेश, भागेश्वरी निवासी 6 वर्षीय कक्षा द्वितीय छात्र ऋषभ, अचीना निवासी 15 वर्षीय 11वीं कक्षा का छात्र सोनू, भागेश्वरी निवासी 3 वर्ष एलकेजी छात्रा निकिता,

इनकी हालत नाजुक
- अचीना निवासी 8 वर्षीय हर्ष, 9 वर्षीय इशांत, 9 वर्षीय नवीन, 7 वर्षीय प्रतीक, 12 वर्षीय मुकुल, 15 वर्षीय अभिषेक, 13 वर्षीय दीपावली, 7 वर्षीय हितेष, 13 वर्षीय दक्ष, 13 वर्षीय दीक्षा, 14 वर्षीय अभिषेक, 16 वर्षीय दीपक व भागेश्वरी निवासी 16 वर्षीय रोहित। सभी को रोहतक पीजीआई रेफर किया गया है।

बच्चे ने कहा - अंकल तेज चला रहे थे बस, कार से आगे निकलने में हुई टक्कर
- घायल छात्र नवीन ने बताया कि अंकल बस को बहुत तेज चला रहे थे। आगे चल रही कार से जब बस ओवरटेक कर रही थी तभी सामने से तेजी से आ रहे डंपर ने टक्कर मार दी। इसके बाद मुझे नहीं पता चला क्या हुआ। अगर अंकल बस आराम से चलाता तो हम चोटिल न होते।'

मैं सीट के नीचे फंस गया बाकी सभी सड़क पर जा गिरे
- घायल छात्र अभिषेक ने बताया कि मैं एक्सीडेंट होते ही बस की पिछली सीट के बीच फंस गया। बाकी बच्चे सड़क पर जा गिरे। कोई भी हमें बचाने वाला नहीं था। पीछे से छुछकवास गांव के स्कूल की बस बच्चों को छोड़कर अचीना गांव से दादरी की तरफ आ रही थी। जिसके चालक ने सब को बस में बैठाया।

बुद्ध पूर्णिमा की छुट्टी थी, पर खुला था स्कूल
-सोमवार को बुद्ध पूर्णिमा पर अधिकतर स्कूल बंद थे। बीएसवीएन समेत कई प्राइवेट स्कूल खुले थे। कार्यवाहक जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि छुट्‌टी लागू करना प्राइवेट स्कूल की मर्जी पर निर्भर है। स्कूल प्रबंधक देवेंद्र कािदयान ने कहा कि हम सरकार के दोषी हैं, पर अभिभावक ज्यादा छुट्‌टी पसंद नहीं करते।

शुरुआती जांच में खुलासा- ड्राइवर ने बदला था रूट
- हादसे का शिकार स्कूल बस अपने तय रूट से अलग रोड पर जा रही है। ये बात पुलिस की प्रारंभिक जांच में सामने आई है। 28 वर्षीय राजकुमार हर रोज स्कूल से अप्रोच रोड बिगोवा से अचीना से होता हुआ बच्चों को छोड़कर आता था। सोमवार को हादसा हाईवे पर हुआ। किस वजह से राजकुमार ने बस हाईवे से निकाली इस बारे में जांच की जा रही है।

प्राइवेट डॉक्टरों ने किया उपचार, पीजीआई भेजने के लिए बुलाई प्राइवेट एंबुलेंस
- घायल बच्चे सिविल अस्पताल पहुंचे तो वहां न बिजली थी और न ही पर्यापत डॉक्टर। प्राथमिक उपचार के बाद इमरजेंसी से बाहर बच्चों लेटा दिया गया। एसडीएम ओमप्रकाश देवराला ने बाहर से डॉक्टर बुलाए, फिर प्राइवेट एंबुलेंस से घायलों को रोहतक भेजवाया।

हादसे के बाद बस की हालत। हादसे के बाद बस की हालत।
बच्चों को रेफर करने के बाद रोहतक लेकर जाते हुए परिजन। बच्चों को रेफर करने के बाद रोहतक लेकर जाते हुए परिजन।
हादसे के क्षतिग्रस्त बस। हादसे के क्षतिग्रस्त बस।
घायल बच्चे को प्राथमिक उपचार देते हुए डॉक्टर। घायल बच्चे को प्राथमिक उपचार देते हुए डॉक्टर।
सभी बच्चों की हालत गंभीर होने के कारण किया गया है रोहतक पीजीआई रेफर। सभी बच्चों की हालत गंभीर होने के कारण किया गया है रोहतक पीजीआई रेफर।
X
घायलों को रोहतक पीजीआई लेकर जाते हुए।घायलों को रोहतक पीजीआई लेकर जाते हुए।
हादसे के बाद बस की हालत।हादसे के बाद बस की हालत।
बच्चों को रेफर करने के बाद रोहतक लेकर जाते हुए परिजन।बच्चों को रेफर करने के बाद रोहतक लेकर जाते हुए परिजन।
हादसे के क्षतिग्रस्त बस।हादसे के क्षतिग्रस्त बस।
घायल बच्चे को प्राथमिक उपचार देते हुए डॉक्टर।घायल बच्चे को प्राथमिक उपचार देते हुए डॉक्टर।
सभी बच्चों की हालत गंभीर होने के कारण किया गया है रोहतक पीजीआई रेफर।सभी बच्चों की हालत गंभीर होने के कारण किया गया है रोहतक पीजीआई रेफर।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..