--Advertisement--

​मानेसर में ढाई महीने की गर्भवती महिला से गैंगरेप, पहले अॉटो में बैठाया फिर चालक समेत 3 ने दिया वारदात को अंजाम

आईएमटी मानेसर की घटना। अभी तक नहीं हो सकी आरोपियों की पहचान।

Danik Bhaskar | May 26, 2018, 06:48 PM IST

गुड़गांव। मानेसर एरिया में ढाई महीने की गर्भवती (21) को ऑटो चालक और उसके दो साथियों ने जबरन नशीली दवा खिलाकर गैंगरेप किया। वारदात 21 मई की है। शुक्रवार को आईएमटी मानेसर महिला थाना पुलिस ने तीन युवकों पर गैंगरेप, जान से मारने की धमकी देने समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया।

- बासकुसला निवासी पीड़िता आईएमएटी मानेसर में एक निजी कंपनी में काम करती है। महिला ढाई महीने की गर्भवती है और 21 मई को कंपनी आई थी।
- पेट में दर्द की शिकायत पर कंपनी ने उसे ईएसआई अस्पताल मानेसर में भर्ती कराया गया। कुछ देर बाद महिला का पति (मजदूर) अस्पताल पहुंचा।
- इलाज के बाद दोपहर बाद करीब तीन बजे पत्नी को ऑटो में बैठाकर वो खुद अपनी साइकिल से बासकुसला में अपने कमरे पर चल दिया।
- पीड़िता ने पुलिस में शिकायत में बताया कि ऑटो में कुल 6 लोग बैठे थे। कुछ दूर जाने पर तीन युवक ऑटो से उतर गए। इसके बाद ऑटो चालक समेत तीन युवक थे और तीनों मुंह पर कपड़ा बांधे थे।
- इसी बीच एक युवक ने उसे जबरन नशीली गोली खिला दी, जिससे वो बेहोश हो गई। दो घंटे बाद होश आने पर उसने खुद को मानेसर में सुनसान जगह पर पाया। कपड़े खुले थे। प्राइवेट पार्ट में दर्द और ब्लीडिंग हो रही थी।
- पीड़िता ने एक राहगीर की मदद से सूचना पति को दिलवाई। ईएसआई से प्राथमिक उपचार लेने के बाद उसे गुड़गांव के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

केस दर्ज, तीन टीमें गठित
- डीसीपी मानेसर मोहिंदर सेठी ने बताया कि आरोपियों की तलाश में महिला थाना पुलिस, मानेसर व खेड़कीदौला थाना के एचएचओ की टीम लगी है। मानेसर के रूट पर चलने वाले ऑटो चालकों से पूछताछ की जा रही है।
- महिला की मेडिकल रिपोर्ट अभी नहीं मिली है। शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया है। पुलिस सभी बातों को ध्यान में रखकर जांच कर रही है। महिला ब्लीडिंग होने के कारण अस्पताल में भर्ती है। हालत ठीक होने पर मामले की पूरी जानकारी ली जाएगी।