Hindi News »Haryana »Pehowa» धान रोपाई के लिए नहीं मिल रही पर्याप्त बिजली, किसानों ने कुरुक्षेत्र-पिहोवा रोड रखा 1 घंटे जाम, आश्वासन पर खोला

धान रोपाई के लिए नहीं मिल रही पर्याप्त बिजली, किसानों ने कुरुक्षेत्र-पिहोवा रोड रखा 1 घंटे जाम, आश्वासन पर खोला

15 जून के बाद धान रोपाई जिले भर में शुरू हुई है, लेकिन धान के इस सीजन में बिजली की समस्या किसानों को झेलनी पड़ रही है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 23, 2018, 02:30 AM IST

धान रोपाई के लिए नहीं मिल रही पर्याप्त बिजली, किसानों ने कुरुक्षेत्र-पिहोवा रोड रखा 1 घंटे जाम, आश्वासन पर खोला
15 जून के बाद धान रोपाई जिले भर में शुरू हुई है, लेकिन धान के इस सीजन में बिजली की समस्या किसानों को झेलनी पड़ रही है। शुक्रवार को किसानों का गुस्सा फूट पड़ा। सरकार पर बिजली न देने का आरोप लगाते हुए भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों ने कुरुक्षेत्र पिहोवा रोड पर गांव भौर सैयदां में पावर हाउस के सामने जाम लगा दिया। सूचना पाकर एसएचओ जयनारायण शर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। लगभग एक घंटे बाद किसानों को समझाकर सड़क से हटाया। इसके चलते वाहनों चालकों को गर्मी में परेशानी उठानी पड़ी। इसे देखते हुए हालांकि पुलिस ने ट्रैफिक को डायवर्ट कर निकाला।

महज चार पांच घंटे मिलती है बिजली: भाकियू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बलविंद्र बाजवा, महासचिव स्वामी इंद्र, जगतार सिंह, हरदीप ने बताया कि धान का सीजन सिर पर है, लेकिन उन्हें केवल चार से पांच घंटे बिजली मिल रही है। ऐसे में फसल सूखने लगी है। पूरे क्षेत्र के खेतों में हजारों प्रवासी मजदूर खाली बैठे हैं।

किसान खुद जान का उठाते जोखिम: इसके अलावा ट्रांसफार्मर खराब होने, खंभा या तार टूटने या फिर बिजली से संबंधित काम किसानों का खुद करना पड़ता है। विभाग में लगाए कच्चे कर्मचारी फोन बंद करके रखते हैं और पक्के कर्मचारी खाली पदों का हवाला देकर पल्ला झाड़ लेते हैं। चलती सप्लाई में लाइन काटकर किसान अपनी जान जोखिम में डालकर खुद बिजली की मरम्मत का काम करते हैं। समस्या को लेकर जब वे पावर हाउस या बिजली दफ्तर में पहुंचते हैं तो वहां भी कोई सुनवाई नहीं होती।

यूनियन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बलविंद्र बाजवा ने सरकार से कहा कि वह किसानों को धान रोपाई की जगह 50 हजार रुपये का मुआवजा दे। यदि सरकार 50 हजार रुपये प्रति एकड़ सहायता किसानों को देती है तो किसान ना धान की रोपाई करेंगे और ना ही बिजली की मांग करेंगे। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि बिजली सप्लाई दुरुस्त नहीं हुई तो भाकियू समय निश्चित करके एक ही दिन पूरे प्रदेश में जगह जगह जाम लगाने के लिए किसानों की ड्यूटी लगाएगी ताकि अपनी आवाज को सरकार तक पहुंचाया जा सके।

पिहोवा| बिजली की किल्लत से परेशान किसानों ने कुरुक्षेत्र रोड पर लगाया जाम।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pehowa

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×