• Home
  • Haryana News
  • Pehowa
  • सरकार पर झूठे केसों में फंसाने का आरोप लगा कर बिजली कर्मियों ने किया प्रदर्शन, उपभोक्ता रहे परेशान
--Advertisement--

सरकार पर झूठे केसों में फंसाने का आरोप लगा कर बिजली कर्मियों ने किया प्रदर्शन, उपभोक्ता रहे परेशान

सरकार पर झूठे केसों में फंसाने का आरोप लगाते हुए बिजली विभाग के कर्मचारियों ने शुक्रवार को नारेबाजी की। इस दौरान...

Danik Bhaskar | Jun 30, 2018, 02:40 AM IST
सरकार पर झूठे केसों में फंसाने का आरोप लगाते हुए बिजली विभाग के कर्मचारियों ने शुक्रवार को नारेबाजी की। इस दौरान दफ्तर का कामकाज ठप रहा। जिससे उपभोक्ताओं को परेशानी का सामना करना पड़ा। यूनियन के प्रधान बलबीर रंगा व सचिव रणजीत मल ने कहा कि हिसार में यूनियन के पांच पदाधिकारियों को सरकार के इशारे पर झूठे केस में फंसाकर उन्हें सस्पेंड किया गया है। उन्होंने कहा कि अब सरकार उन्हें हटाने की तैयारी में है। जिसे सहन नहीं किया जाएगा। यूनियन के प्रधान बलबीर रंगा ने बताया कि इसी तरह पिछले दिनों करंट लगने से हुई एक लाइनमैन की मौत मामले में जानबूझकर जेई गुरमेल सिंह को झूठा फंसाया जा रहा है। जबकि जेई का इसमें कोई दोष नहीं है। लाइन में बैक करंट कहां से आया इसका किसी को पता नहीं। जेई गुरमेल ने अपनी सारी कार्रवाई पूरी की हुई थी। कर्मचारियों ने चेतावनी दी कि अगर सरकार ने दोनों मामलों में हस्तक्षेप करके इन फैसलों को वापस नहीं लिया तो कर्मचारी पेन डाउन-टूल डाउन करके अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर चले जाएंगे। जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। इस मौके पर दिलबाग सिंह, विजय राणा, मेवा राम, सुखविंद्र, मोहन लाल और बलदेव मौजूद थे।

पिहोवा | सरकार पर झूठे केसों में फंसाने का आरोप लगा नारेबाजी करते बिजली कर्मचारी।

5 बिजली कर्मचारियों को सस्पेंड करने का विरोध

लाडवा | हरियाणा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड एचएसईबी वर्कर्स यूनियन के सदस्यों ने हिसार में पांच बिजली कर्मचारियों को सस्पेंड करने के विरोध में शुक्रवार को लाडवा बिजली कार्यालय में दो घंटे प्रदर्शन किया। यूनियन के सब यूनिट संगठनकर्ता करनैल सिंह ने कहा कि विभाग मनमानी कर रहा है। उन्होंने कहा कि रोजाना विभाग के आला अधिकारी कर्मचारियों के खिलाफ कोई न कोई फरमान जारी कर देते हैं। इससे पूरे प्रदेश के कर्मचारियों में रोष है। करनैल ने कहा कि हिसार में पांच कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि पांचों कर्मचारियों को गलत तरीके से सस्पेंड किया गया है। जब तक पांचों कर्मचारियों को बहाल नहीं किया जाएगा तब तक कर्मचारियों का धरना जारी रहेगा। प्रदर्शन करने वालों में सुच्चा सिंह, शमशेर सिंह, बलबीर सिंह, सुरेंद्र कुमार और मनोज कुमार मौजूद थे।

लाडवा| गेट मीटिंग कर सरकार विरोधी प्रदर्शन करते एचएसईबी वर्कर्स यूनियन सदस्य।