• Home
  • Haryana News
  • Pehowa
  • मानवाधिकार संरक्षण में उच्चतर शिक्षा की भूमिका विषय पर डीएवी कॉलेज में संगोष्ठी
--Advertisement--

मानवाधिकार संरक्षण में उच्चतर शिक्षा की भूमिका विषय पर डीएवी कॉलेज में संगोष्ठी

डीएवी कॉलेज में मानवाधिकार संरक्षण में उच्चतर शिक्षा की भूमिका विषय पर राष्ट्रीय स्तर की संगोष्ठी आयोजित की गई।...

Danik Bhaskar | Jul 10, 2018, 03:35 AM IST
डीएवी कॉलेज में मानवाधिकार संरक्षण में उच्चतर शिक्षा की भूमिका विषय पर राष्ट्रीय स्तर की संगोष्ठी आयोजित की गई। प्रिंसिपल डॉ. कामदेव झा ने बताया कि कार्यक्रम में बुद्धिजीवियों ने वैदिक परंपरा के अनुसार मानवाधिकार की भूमिका पर विचार साझा किए। मुख्यातिथि प्रो. बृज किशोर कुठियाला अध्यक्ष हरियाणा राज्य उच्च शिक्षा आयोग ने संस्कार आधारित गुणात्मक शिक्षा पद्धति को अपनाने की आवश्यकता पर बल देते हुए सुधार करने की अपील की। चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय जींद के पूर्व उपकुलपति मेजर जनरल रणजीत सिंह ने प्रदेश के गौरवमय इतिहास को मानवाधिकार से जोड़कर सरल रूप में समझाने का प्रयास किया। उन्होंने योग शिक्षा पद्धति के अनुसार पाठ्यक्रम में परिवर्तन करने की बात रखी। भारतीय चरित्र निर्माण संस्थान के अध्यक्ष राम कृष्ण गोस्वामी ने बीज वक्ता के रूप में श्रीमद् भागवत गीता का मानवाधिकार संरक्षण में प्रेरक ग्रंथ होने की बात करते हुए श्यामा प्रसाद मुखर्जी के जीवन पर प्रकाश डाला। मंच संचालन प्रो. अजय मोहन व डॉ. मेजर सिंह ने किया। ने किया। एनएसएस के नोडल अधिकारी प्रो. मनोज कुमार ने बताया कि कार्यक्रम में सफल आयोजन की व्यवस्था का जिम्मा राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्रों ने बखूबी निभाया।