• Home
  • Haryana News
  • Pehowa
  • ग्रामीणों ने पंचायती भूमि की गुपचुप बोली का आरोप लगा बीडीपीओ को पीटा, 12 पर केस
--Advertisement--

ग्रामीणों ने पंचायती भूमि की गुपचुप बोली का आरोप लगा बीडीपीओ को पीटा, 12 पर केस

ब्लॉक डिवेलपमेंट एंड पंचायत कार्यालय में शनिवार को गांव बाखली खुर्द की पंचायती भूमि की बोली के दौरान हंगामा हो...

Danik Bhaskar | Jun 17, 2018, 03:50 AM IST
ब्लॉक डिवेलपमेंट एंड पंचायत कार्यालय में शनिवार को गांव बाखली खुर्द की पंचायती भूमि की बोली के दौरान हंगामा हो गया। कुछ ग्रामीणों ने ब्लॉक डिवेलपमेंट एंड पंचायत अधिकारी, बीडीपीओ पर गुपचुप बोली कराने का आरोप लगाते हुए उनकी पिटाई कर डाली।

यह देख वहां हंगामा हो गया। कुछ ग्रामीणों ने किसी तरह बीच बचाव कर बीडीपीओ को छुड़वाया। मारपीट में जहां बीडीपीओ के कपड़े फट गए, वहीं उन्हें चोट भी लगी। पता चलते ही पुलिस भी पहुंची। बाद में 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया। पांच लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

बाखली खुर्द की थी बोली : शनिवार को बीडीपीओ कार्यालय में बाखली खुर्द की पंचायती भूमि को ठेके पर देने के लिए बोली रखी गई थी। बीडीपीओ कार्यालय के हाल में ग्रामीण बोली देने पहुंचे थे। बीडीपीओ राजेश कुमार समेत अन्य पंचायत अधिकारी भी मौजूद थे। इसी बीच कुछ ग्रामीण वहां पहुंचे। आते ही शोर मचाना शुरू कर दिया। आरोप लगाया कि बोली की सूचना को प्रशासन ने गुप्त रखा है। इसलिए बोली को रद्द करके दोबारा समय रखा जाए, लेकिन वहां मौजूद अधिकारियों ने बोली देने वाले लोगों को अपनी सिक्योरिटी राशि जमा करवाकर कार्रवाई पूरी करने को कह दिया। इससे विरोध जता रहे ग्रामीण और भड़क गए। बीडीपीओ राजेश कुमार का आरोप है कि सरकारी रिकार्ड फाड़ते हुए हंगामा किया। जब उन्होंने विरोध किया तो ग्रामीण उनके साथ ही मारपीट पर उतर आए। पास बैठे अन्य कर्मचारियों ने किसी तरह छुड़वाया। बीडीपीओ ने बताया कि सिकंदर, संजीव व मनदीप ने उनके साथ मारपीट की और संजीव ने सरकारी कागजात फाड़े।

कर्मचारियों ने बीच बचाव कर छुड़वाया, बीडीपीओ के कपड़े भी फट गए

पिहोवा | पंचायती जमीन की बोली के दौरान हुई मारपीट की जानकारी देते बीडीपीओ राजेश कुमार।

सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने व मारपीट का मामला दर्ज

शाम को पुलिस ने बीडीपीओ की शिकायत पर सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने, मारपीट करने आदि के आरोप में सिंकदर, गुरनाम, सुनील, धर्मबीर, संजीव, मनदीप, राजकुमार, सतीश, रामनिवास, जसबीर नंबरदार, गुलाब सिंह व जरनैल सहित 12 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। बताया जाता है कि पांच लोगों को पुलिस ने हिरासत में भी लिया है। एसएचओ जयनारायण शर्मा का कहना है कि अभी पुलिस जांच कर रही है।