• Home
  • Haryana News
  • Pehowa
  • भागवत सिखाता है गुरुओं का आदर करना:उमेशपुरी
--Advertisement--

भागवत सिखाता है गुरुओं का आदर करना:उमेशपुरी

पिहोवा | श्रीमद् भागवत महापुराण में हिस्सा लेते उमेश पुरी व श्रद्धालु। 7वें दिन सुनाया सुदामा चरित्र-राजा...

Danik Bhaskar | Jun 26, 2018, 02:55 PM IST
पिहोवा | श्रीमद् भागवत महापुराण में हिस्सा लेते उमेश पुरी व श्रद्धालु।

7वें दिन सुनाया सुदामा चरित्र-राजा परिक्षित मोह प्रसंग

पिहोवा | कैथल रोड पर स्थित सीता देवी सेवा सदन में श्री पंच दशनाम अखाड़ा के महंत रूद्र पुरी एवं महंत भल्ले गिरि के आशीर्वाद व अखाड़ा के व्यवस्थापक श्रवण पुरी के सानिध्य में श्रीमद भागवत महापुराण आयोजित की गई। सातवें दिन व्यास गद्दी पर विराजमान बाल योगी कथा वाचक उमेश पुरी ने रुक्मणी विवाह, सुदामा चरित्र, राजा परीक्षित के मोक्ष आदी से जुड़े प्रसंगों का बखान किया।

उमेश पुरी ने कहा कि भागवत हमें गुरुओं का आदर करना, माता पिता की सेवा करना, सच्ची मित्रता करना व धर्म के मार्ग पर चलने का संदेश देती है। श्रवण पुरी ने कहा कि जो मनुष्य भगवान के प्रति समर्पित हो जाता है उसे मोक्ष मिलता है। मौके पर सुरेश वर्मा, सुदर्शन तनेजा, संजय गाबा, कृष्ण गुलाटी, देवी चंद सैनी, मोहनलाल सिंगला, बंटी वर्मा, मनोज वर्मा, पुरुषोत्तम सैनी, संजय तनेजा, अश्विनी गर्ग, तरलोक, सुशील भारद्वाज, प्रेमलता शर्मा, गीता, अंजू वर्मा, सुनीता गर्ग, पुष्पा चौधरी, सीमा, प्रेमलता, सहित श्रद्धालु मौजूद थे।