--Advertisement--

मां शब्द से मिलता आत्मबल : पाई

पूंडरी। युवा समाजसेवी जितेंद्र कुमार काला पाई ने कहा कि मां शब्द में ही अपार शक्ति होती है। मां शब्द से ही आत्मिक...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:40 AM IST
पूंडरी। युवा समाजसेवी जितेंद्र कुमार काला पाई ने कहा कि मां शब्द में ही अपार शक्ति होती है। मां शब्द से ही आत्मिक रूप से टूटे व्यक्ति को आत्मिक बल मिलता है। वे आहूं में देवी माता के मंदिर की मूर्ति स्थापना कार्यक्रम में मुख्यातिथि बोल रहे थे।

पाई ने कहा कि ऐसे धार्मिक आयोजनों से हलके में सुख, शांति व समृद्धि स्थापित होने के साथ लोगों में भगवान के प्रति आस्था बढ़ती है और आपसी भाईचारा कायम होता है। मंदिर की जगत जननी देवी माता हो या फिर हमें पैदा करने वाली मां दोनों में अंतर ये है कि एक को हम प्रत्यक्ष रूप में देख रहे हैं। एक कि अप्रत्यक्ष रूप से कृपा प्राप्त होती है। जो मनुष्य पैदा करने वाली माता की निष्ठाभाव व श्रद्धा से सेवा करता है उसे हर सुख की प्राप्ति होती है। मौके पर उनके साथ संदीप बिल्ला पाई, अनिल गुर्जर ढांड, बजिंद्र चौधरी पूंडरी, संदीप मैहला, सतीश मैहला, जीत सिंह मैहला, सुभाष, शीशपाल शर्मा, रामफल, चीन्नी, सुनील, सुरेश मैहला, सुरेश माजरा, सतपाल, सुखबीर, सुल्तान सरपंच, कर्म सिंह व संदीप जोगी भी मौजूद रहे।

जितेंद्र कुमार को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।