Hindi News »Haryana »Pundri» सीएम से नाराजगी व पार्टी छोड़ने की चर्चाओं के बीच प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ने बुलाई समर्थकों की बैठक

सीएम से नाराजगी व पार्टी छोड़ने की चर्चाओं के बीच प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ने बुलाई समर्थकों की बैठक

शुक्रवार को पूंडरी हलके के गांवों में सीएम के सीधे संवाद कार्यक्रम से दूर रहे भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 11, 2018, 02:55 AM IST

सीएम से नाराजगी व पार्टी छोड़ने की चर्चाओं के बीच प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ने बुलाई समर्थकों की बैठक
शुक्रवार को पूंडरी हलके के गांवों में सीएम के सीधे संवाद कार्यक्रम से दूर रहे भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रणधीर गोलन ने रविवार को पूंडरी में समर्थकों की बैठक बुलाई। बैठक में समर्थकों ने इस बात पर रोष जताया कि सीएम के कार्यक्रम में गोलन नहीं आए।

समर्थक बोले कि प्रदेश सीएम हलके के गांव-गांव में घूमे और ऐसे कार्यक्रम में आपके (रणधीर गोलन के) न होने से उनकी भी अनदेखी हुई है। ऐसा होना गलत है। समर्थकों को शांत करते हुए गोलन बोले-हमें वर्ष 2019 में दिनेश कौशिक के खिलाफ चुनाव लड़ना है। पूंडरी हलके में मुख्यमंत्री के सभी कार्यक्रम निर्दलीय विधायक दिनेश कौशिक द्वारा आयोजित थे। पार्टी या मुख्यमंत्री की तरफ से भी कोई निमंत्रण नहीं था और यदि होता भी तब भी मैं विधायक के कार्यक्रमों में नहीं जा सकते था। हां, हम पार्टी के सच्चे सिपाही हैं और उन्होंने हमेशा पार्टी-संगठन के लिए कार्य किया है। करते रहेंगे। सीएम या पार्टी से कोई नाराजगी भी नहीं है।

हम मुख्यमंत्री का पूरा सम्मान करते है। आगे भी वे पार्टी टिकट पर ही चुनाव लड़ेंगे। ऐसी स्थिति में विधायक के साथ मंच को कैसे साझा करते। उल्लेखनीय है कि 2014 के विधानसभा चुनाव में निर्दलीय दिनेश कौशिक 38,312 वोट लेकर विधायक बने थे जबकि भाजपा प्रत्याशी गोलन को 33,480 वोट मिले थे। कौशिक शुरू से ही भाजपा सरकार को समर्थन दे रहे हैं।

सीएम के सीधे संवाद कार्यक्रम से दूर रहे गोलन बोले-2019 में कौशिक के खिलाफ चुनाव लड़ना है, उनके मंच पर कैसे आता

कहा-सीएम या पार्टी से न्योता मिलता तब भी नहीं

जाता, पार्टी और संगठन का सच्चा सिपाही हूं

पूंडरी | कार्यकर्ताओं को संबोधित करते भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रणधीर गोलन।

भाजपा टिकट पर पूंडरी से 3 बार चुनाव लड़ चुके गोलन

रणधीर गोलन 1992 से भाजपा में हंै। पार्टी टिकट पर ही उन्होंने पूंडरी सीट से वर्ष 2000, 2005 व 2014 में चुनाव भी लड़ा है। मुख्यमंत्री के 8 जून को हलके के चार बड़े गांव कौल, ढांड, पाई व हाबड़ी में हुए कार्यक्रमों में गोलन के न जाने पर हलके में अलग-अलग चर्चाएं जोरों पर हैं। जिनमें से मीटिंग बुलाने को लेकर ये चर्चा भी जोरों पर थी कि कहीं वे पार्टी भी न छोड़ दें। ऐसी अफवाहों को देखते हुए रणधीर गोलन ने अपने समर्थकों की मीटिंग बुलाकर पूरी स्थिति को स्पष्ट किया।

कार्यकर्ताओं से पूछा-ट्रैक्टर यात्रा निकालें या रात्रि ठहराव करें

सीएम के कार्यक्रम में न जाने से उनके कार्यकर्ताओं में थोड़ी मायूसी थी। कई प्रकार की हो रही बातों का पटाक्षेप करने को मीटिंग बुलाई थी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से पूछा-सरकार की उपलब्धियों को बताने वे हलके में ट्रैक्टर यात्रा निकालें या बड़े-बड़े गांवों में रात्रि ठहराव करें। कार्यकर्ताओं ने भी हाथ उठा गोलन का हर हाल में समर्थन का आश्वासन दिया।

एक मंच से दोनों सीएम को दे चुके मांगपत्र

31 मई 2015 को पूंडरी की अनाज मंडी में विधायक ने सीएम मनोहर लाल की जनसभा करवाई थी। तब गोलन कार्यक्रम में पहुंचे थे, विधायक से अलग मांगपत्र पढ़ा था और सीएम को दिया था।

विधायक बोले-सबके साथ मंच कर सकता हूं साझा

सीधे संवाद कार्यक्रम को सीएम ने खुद तय किया था। पार्टी व सरकार का कार्यक्रम था। मुझे पार्टी के कार्यक्रम में किसी के साथ भी मंच साझा करने में आपत्ति नहीं है। मेरा उद्देश्य सिर्फ हलके का विकास करवाना है। प्रो. दिनेश कौशिक, विधायक पूंडरी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pundri

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×