• Home
  • Haryana News
  • Pundri
  • फल्गु मेला नजदीक, कोई तैयारियां नहीं तीर्थ पर खामियाें से दुर्घटना की संभावना
--Advertisement--

फल्गु मेला नजदीक, कोई तैयारियां नहीं तीर्थ पर खामियाें से दुर्घटना की संभावना

फरल के फल्गुतीर्थ पर लगने वाले ऐतिहासिक मेले का समय हर दिन बीतने पर नजदीक आ रहा है। ऐसे में 25 सितंबर से 8 अक्टूबर तक...

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 03:25 AM IST
फरल के फल्गुतीर्थ पर लगने वाले ऐतिहासिक मेले का समय हर दिन बीतने पर नजदीक आ रहा है। ऐसे में 25 सितंबर से 8 अक्टूबर तक लगने वाले इस मेले की तरफ अभी तक प्रशासन व सरकार का कोई ध्यान नहीं है। देश व प्रदेश के कोने-कोने से पहुंचने वाले लगभग 15 लाख श्रद्धालु को ऐसे में बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। कुछ दिन पहले मेले की तैयारियों को लेकर सुनीता वर्मा ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ तीर्थ का दौरा कर ग्रामीणों से भी सुझाव लिए थे, लेकिन अभी तक मेले को लेकर किसी काम कि भी शुरूआत नहीं की गई। कुछ कार्य सड़क निर्माण, पानी की व्यवस्था, घाटों की मरम्मत, तीर्थ का अधूरा पड़ा निर्माण कार्य, तीर्थ के गंदे पानी की निकासी व साफ-सफाई मेले से तीन महीने पहले ही शुरू करनी होती है, तब जाकर मेले तक तैयारियां हो पाती है। ग्रामीण राजकुमार, शीशपाल, जिले सिंह, राजेश, बबलू व नरेश कुमार ने बताया कि प्रशासन इस बार मेले में लीपा-पोती और काम चलाऊ कार्य ही कर पाएगा। इससे मेले व बाद में ग्रामीणों को ही समस्याएं होगी।

तीर्थ पर है कई डेथ प्वाइंट : तीर्थ पर कई खामियों के चलते बड़ी दुर्घटनाएं हो सकती हैं। तीर्थ पर बने पार्क में बिजली का ट्रांसफार्मर जमीन पर रखा हुआ है। जिसकी नंगी तारों को आसानी से कोई भी खासकर बच्चे आसानी से छू सकते हैं या अचानक इसकी चपेट में आ सकते हैं। विभाग द्वारा इसके पास कोई भी सेफ्टी नहीं बनाई गई है। इससे कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना घट सकती है। तीर्थ पर प्राचीन बूढ़े वट वृक्ष के पास की दीवार तीर्थ में काफी अंदर तक धंस चुकी है, जिससे भी कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती है। तीर्थ के आसपास खड़ी कांग्रेस घास व झाड़ियों में विषैले जीव-सांप आदि पनप रहे हैं।

एसडीएम कमलप्रीत कौर ने बताया कि अभी तक डीसी की तरफ से भी कोई निर्देश नहीं हुए हैं। जल्द ही एस्टिमेट बनाकर समय से कार्य शुरू करवा दिए जाऐंगे और इस बारे डीसी से भी बात करेंगे। श्रद्धालुओं को कोई समस्या न आए, इसके लिए सभी तैयारियों पहले ही पूर्ण कर ली जाएंगी।

पूंडरी | फल्गु तीर्थ पर जमीन पर रखा ट्रांसफार्मर।