--Advertisement--

रादौर मंडी में बिकी 25 क्विंटल गेहूं

रादौर, जठलाना व गुमथला की अनाज मंडियों में रविवार से गेहूं की खरीद का कार्य शुरू कर दिया गया है। पहले दिन केवल रादौर...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:40 AM IST
रादौर, जठलाना व गुमथला की अनाज मंडियों में रविवार से गेहूं की खरीद का कार्य शुरू कर दिया गया है। पहले दिन केवल रादौर अनाज मंडी में 25 क्विंटल गेहूं बिकने के लिए पहुंची। जिसे हैफेड के अधिकारियों ने नमी की जांचकर 1735 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीदा।

मंडी में पहले दिन किसान सौरभ कुमार पुत्र रामकुमार निवासी नंदपुरा गेहूं की फसल लेकर मंडी पहुंचा था। जिसमें 11.4 प्रतिशत नमी होने पर उसे खरीद लिया गया। मार्केट कमेटी के सचिव श्यामसिंह व मंडी सुपरवाइजर कर्मसिंह सैनी ने बताया कि सरकार के नियमों के अनुसार गेहूं में 12 प्रतिशत नमी तक खरीद की जाएगी। उन्होंने बताया कि गुमथला अनाज मंडी में केवल एक किसान गेहूं की फसल लेकर मंडी पहुंचा। गेहूं में नमी की मात्रा अधिक होने के कारण गुमथला अनाज मंडी में गेहूं की खरीद नहीं हो पाई है। इसके अलावा जठलाना अनाज मंडी में खरीद के पहले दिन गेहूं की फसल मंडी में नहीं पहुंची। उन्होंने बताया की अभी गेहूं की फसल में नमी की मात्रा बहुत अधिक है। अगले एक सप्ताह तक मंडियों में गेहूं की अच्छी आवक होनी शुरू हो जाएगी। उन्होंने बताया कि सरकार के आदेशानुसार मंडियों में आढ़तियों के पास नमी की मशीन होना अनिवार्य कर दिया गया है। रादौर अनाज मंडी में मंगलवार, वीरवार, शनिवार व रविवार को हैफेड विभाग गेहूं की खरीद करेगा। जबकि सोमवार, बुधवार व शुक्रवार को वेयर हाऊस विभाग मंडी में गेहूं की खरीद करेगा। इसके अलावा जठलाना व गुमथला अनाज मंडियों में हैफेड विभाग पूरे सप्ताह गेहूं की करेगा। इस अवसर पर खाद्य आपूर्ति निरीक्षण रोशनलाल सैनी, धर्मराज, कर्मसिंह सैनी मंडी सुपरवाइजर, पवन कुमार आदि स्टाफ सदस्य मौजूद थे।

सब्जी मंडी आढ़तियों को नोटिस देकर दूसरी जगह मंडी लगाने के आदेश: एक अप्रैल रविवार से रादौर अनाज मंडी में गेहूं का सीजन शुरू हो गया है। अनाज मंडी में ही वर्षों से सब्जी मंडी चल रही है। गेहूं के सीजन के चलते मार्केट कमेटी के सचिव की ओर से सब्जी मंडी के आढ़तियों को नोटिस देकर अनाज मंडी में गेट के पास अस्थाई रूप से सब्जी मंडी लगाने के आदेश दिए गए हैं। यह आदेश गेहूं के सीजन तक जारी रहेंगे। सब्जी मंडी एसोसिएशन के प्रधान विजय आढ़ती ने बताया कि सब्जीमंडी कई वर्षों से अनाज मंडी में फड़ के नीचे चल रही है। अब गेहूं का सीजन चल गया है तो उन्हें नोटिस देकर मंडी गेट के पास खाली पड़ी जगह में सब्जी मंडी लगाने के आदेश दिए गए है। जिससे सब्जी मंडी के आढ़ती परेशान हैं। गेहूं व धान के सीजन में हर बार उन्हें इसी प्रकार सब्जीमंडी लगाने के लिए इधर-उधर भटकना पड़ता है।

रादौर | अनाजमंडी में पहले दिन गेहूं की फसल की जांच करते मार्कीट कमेटी के अधिकारी।

पहले दिन अधिक नमी के कारण नहीं हुई खरीद

जठलाना | खेतों में गेहूं की फसल तैयार हो चुकी है। किसान फसल लेकर मंडियों की रूख कर रहे हैं। पहले दिन गुमथला अनाज मंडी में गुमथला निवासी किसान सुभाष कुमार अपनी दो एकड़ की गेहूं लेकर पहुंचा। लेकिन जब अधिकारियों द्वारा इसमें नमी की मात्रा की जांच की गई तो यह 14.7 पाई गई। जिस कारण खरीद नहीं हो पाई। मार्केट सुपरवाइजर कर्म सिंह सैनी ने बताया कि सरकार की ओर से भी गेहूं की सरकारी खरीद भी शुरू कर दी गई। हालांकि मंडियों में गेहूं की आवक बहुत कम है।